कोरोना से मुंबई में बिगड़ रहे हालात, क्या लगेगा लॉकडाउन? मेयर ने दिए बड़े संकेत

देश की आर्थिक राजधानी के हालात चिंताजनक होते जा रहे हैं. (तस्वीर-AP)

देश की आर्थिक राजधानी के हालात चिंताजनक होते जा रहे हैं. (तस्वीर-AP)

शहर की मेयर किशोरी पेडनेकर (Kishori Pednekar) ने कहा कि इस बार ज्यादातर मामले बहुमंजिला इमारतों से आ रहे हैं. लोग क्वारंटाइन और आइसोलेशन के नियमों का ढंग से पालन नहीं कर रहे हैं. यही कारण है कि पूरे कॉम्प्लेक्स को कंटेनमेंट जोन घोषित करना पड़ रहा है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 26, 2021, 12:18 AM IST
  • Share this:
मुंबई. मुंबई शहर में कोरोना (Mumbai Covid-19) के बिगड़ते हालात एक बार फिर गंभीर स्थितियों (Serious Condition) की तरफ इशारा कर रहे हैं. बीते सप्ताह के दौरान शहर में कोरोना महामारी के सभी रिकॉर्ड चिंताजनक रूप से टूटे. रोजाना आने वाले नए संक्रमण मामलों से शहर के हालात बेहद बुरी स्थिति में दिख रहे हैं. इसके संकेत शहर की मेयर किशोरी पेडनेकर (Kishori Pednekar) ने भी दिए हैं. उन्होंने न्यूज़18 के साथ एक्सक्लूसिव बातचीत में कहा है कि लोगों द्वारा नियमों का पालन न करने की वजह से लॉकडाउन या फिर नाइट कर्फ्यू जैसे फैसले लिए जा सकते हैं.

उन्होंने यह भी कहा कि इस बार ज्यादातर मामले बहुमंजिला इमारतों से आ रहे हैं. लोग क्वारंटाइन और आइसोलेशन के नियमों का ढंग से पालन नहीं कर रहे हैं. यही कारण है कि पूरे कॉम्प्लेक्स को कंटेनमेंट जोन घोषित करना पड़ रहा है.

Youtube Video


5,185 केस सामने आए
इससे पहले मुंबई में बुधवार को 5,185 केस सामने आए. महामारी की शुरुआत होने के बाद से यह पहली बार है कि वायरस से बुरी तरह प्रभावित शीर्ष 10 जिलों में शामिल मुंबई में 5000 से ज्यादा केस आए हैं. मुंबई में कुल मामलों की संख्या बढ़कर 3 लाख 74 हजार 641 हो गई है. बीएमसी द्वारा लगाए गए तमाम प्रतिबंधों के बाद भी मुंबई में कोरोना मामले तेजी से बढ़ रहे हैं. ऐसे ही बीएमसी ने लोगों से अतिरिक्त सावधानी बरतने और सभी नियमों का पालन करने का आग्रह किया है.

मॉल जाने वाले लोगों के लिए आरटीपीसीआर टेस्ट अनिवार्य

संक्रमण को रोकने के लिए बीएमसी ने सार्वजनिक जगहों पर होने वाले होली उत्सवों पर प्रतिबंध लगा दिया है. इसके साथ ही मॉल जाने वाले लोगों के लिए आरटीपीसीआर टेस्ट अनिवार्य तक दिया है. मुंबई का अंधेरी फिलाहल कोविड हॉटस्पॉट बना हुआ है. प्रशासन ने जुहू बीच को पूरी तरह से रोकने की योजना बनाई हुई है. महाराष्ट्र में बुधवार को एक दिन में कोरोना वायरस संक्रमण के अब तक सबसे अधिक 31,855 नए मामले सामने आए. राज्य में संक्रमितों की संख्या अब बढ़कर 25,64,881 हो गई है. इससे पहले राज्य में 21 मार्च को संक्रमण के सबसे अधिक 30,535 मामले सामने आए थे.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज