अपना शहर चुनें

States

मुंबई: मेयर किशोरी पेडनेकर को जान से मारने की धमकी मिली, हिंदी में बोल रहा था आरोपी

मेयर किशोरी पेडनेकर की फाइल फोटो (ANI/Twitter)
मेयर किशोरी पेडनेकर की फाइल फोटो (ANI/Twitter)

Mumbai Update: रिपोर्ट के अनुसार, पुलिस ने आरोपी का पता लगा लिया है. मुंबई मिरर को सूत्रों से जानकारी मिली है कि आरोपी का पता चल गया है और पड़ोसी राज्य में गिरफ्तारी के लिए टीम को रवाना कर दिया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 6, 2021, 1:44 PM IST
  • Share this:
मुंबई. महाराष्ट्र के मुंबई में मेयर किशोरी पेडनेकर (Kishori Pednekar) को जान से मारने की धमकी देने का मामला सामने आया है. एक अज्ञात व्यक्ति ने फोन पर मेयर को धमकी भरा कॉल (Threat Call) किया था. मेयर की शिकायत के आधार पर आजाद मैदान पुलिस स्टेशन में केस दर्ज कर लिया गया है. हालांकि, मामला कुछ हफ्तों पुराना है. व्यक्ति ने पेडनेकर को 21 दिसंबर को फोन किया था, लेकिन पुलिस ने मामले को बाहर नहीं आने दिया.

पुलिस के अनुसार, आरोपी ने मेयर पेडनेकर को बीती 21 दिसंबर को शाम 6 बजे कॉल किया था. इस दौरान व्यक्ति ने अपना नाम नहीं बताया. मुंबई मिरर की रिपोर्ट के अनुसार, अज्ञात आरोपी ने मेयर के साथ फोन पर काफी अभद्र भाषा का इस्तेमाल किया था. गौरतलब है कि आरोपी हिंदी में बात कर रहा था. कॉल मिलने के दो दिन बाद शिकायत दर्ज करा दी गई थी, लेकिन पुलिस ने मामले पर चुप्पी साध रखी थी.

यह भी पढ़ें: गुजराती वोटर्स को लुभाने का शिवसेना का फॉर्मूला, 'जलेबी-फाफड़ा' के साथ होगी बैठक



अखबार की रिपोर्ट के अनुसार, पुलिस ने आरोपी का पता लगा लिया है. मुंबई मिरर को सूत्रों से जानकारी मिली है कि आरोपी का पता चल गया है और पड़ोसी राज्य में गिरफ्तारी के लिए टीम को रवाना कर दिया है. हालांकि, सरकारी अधिकारियों ने मामले पर कोई प्रतिक्रिया नहीं दी है. खास बात है कि यह मामला ऐसे समय में सामने आया है, जब राज्य में निगम चुनाव को लेकर गहमागहमी जारी है.

पंजाब के सीएम को भी मिली थी इसी तरह की धमकी
कुछ दिनों पहले पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह (Captain Amarinder Singh) को भी एक अज्ञात शख्स ने जान से मारने की धमकी दी थी. आरोपी ने मोहाली में सीएम सिंह के नाम का पोस्टर चस्पा कर दिया था. इतना ही नहीं आरोपी ने सीएम की हत्या करने वाले को 10 लॉख डॉलर का इनाम देने की घोषणा भी की थी. गौरतलब है कि आरोपी ने इस पोस्टर पर अपना नाम या नंबर के बजाए ई-मेल आईडी छोड़ी थी. पुलिस ने आरोपी की तलाश के लिए साइबर एक्सपर्ट्स की मदद ली थी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज