होम /न्यूज /राष्ट्र /कोरोना का खतरा: मुंबई में सोसायटी में ही बनाया ICU,दिल्ली में लोगों ने खरीदी ऑक्सीजन मशीन

कोरोना का खतरा: मुंबई में सोसायटी में ही बनाया ICU,दिल्ली में लोगों ने खरीदी ऑक्सीजन मशीन

दिल्ली और मुंबई में कोरोना के मामलों में लगातार इजाफा हो रहा है.

दिल्ली और मुंबई में कोरोना के मामलों में लगातार इजाफा हो रहा है.

मुंबई स्थित पर्ल आवासीय परिसर ने अपनी बिल्डिंग में ही क्वारंटाइन यूनिट (Quarantine unit) और मरीजों की देखभाल के लिए आईस ...अधिक पढ़ें

    मुंबई. आर्थिक राजधानी मुंबई (Mumbai) और दिल्ली (Delhi) में कोरोना वायरस (Coronavirus) के बढ़ते मामलों को देखते हुए लोगों ने अपने ही स्तर पर सुरक्षा के इंतजाम करने शुरू कर दिए हैं. इन शहरों में रहने वाले लोगों ने बिल्डिंग में ही क्वारंटाइन सेंटर बनाने और ऑक्सीजन का इंतजाम करना शुरू कर दिया है, ताकि संक्रमित मरीज को वक्त पर इलाज मिल सके. मुंबई स्थित परेल के आवासीय परिसर ने अपनी बिल्डिंग में ही क्वारंटाइन यूनिट (Quarantine unit) और मरीजों की देखभाल के लिए आईसीयू (ICU) बेड रखने की तैयारी शुरू कर दी है. वहीं, दिल्ली में एक रेजिडेंट्स वेलफेयर एसोसिएशन ने ऑक्सीजन कॉन्सेंट्रेटर (oxygen concentrators) खरीदे हैं.

    परेल की सोसायटी ओर से कहा गया है कि अशोक टॉवर्स जहां पर 4 ऊंची इमारते हैं, यहां पर लगभग 650 परिवार रह रहे हैं. ऐसे में वहां पर रह रहे स्थानीय लोगों को चिकित्सा सुविधा देने के लिए परिसर में मौजूद खाली फ्लैट्स, क्लब हाउस और पार्टी हॉल को क्वारंटाइन यूनिट में तब्दील किया जाएगा.

    जगह की हो रही है पहचान
    अशोक टॉवर्स के मैनेजिंग कमेटी के सदस्य डॉ. निलेश शाह ने कहा, 'हम अपने क्लब हाउस और पार्टी हॉल में आईसीयू बेड की सुविधा स्थापित करने के लिए जगह की पहचान करने में लगे हुए हैं.' उन्होंने कहा, 'आईसीयू बेड की सुविधा के लिए तमाम उपकरण खरीदने के लिए प्रोसेस जारी है.'

    ये भी देखेंः- झाड़ियों में छिपकर शेरनी करने वाली थी हमला, गुस्साए भैंसे ने जमीन पर पटका, देखें VIDEO

    अस्पतालों का बोझ होगा कम
    हाउसिंग सोसाइटी के सदस्यों ने कहा कि यदि बिल्डिंग में रहने वाले किसी शख्स का कोरोना टेस्ट पॉजिटिव (Corona Test) आता है और उसमें लक्षण कम दिखाई देते हैं तो वो इस सेंटर्स में रह सकेंगे. यहां पर उन्हें हर तरह की सुविधा दी जाएगी. हालांकि ज्यादा गंभीर कोरोना मरीजों को यहां नहीं रखा जाएगा. उन्होंने कहा कि इस तरह से मुंबई के प्राइवेट और सरकारी अस्पतालों का बोझ कम होगा.

    गरीबों को दिए जाएंगें ऑक्सीजन कॉन्सेंट्रेटर
    वहीं, बात अगर राजधानी दिल्ली की जाए तो पश्चिम विहार स्थित रेजिडेंट्स वेलफेयर एसोसिएशन ने 3 ऑक्सीजन कॉन्सेंट्रेटर खरीदे हैं. सोसायटी के अध्यक्ष लोकेश मुंजाल का कहना है, 'दिल्ली में कोविड-19 (COVID19) के बढ़ते मामलों को देखते हुए हमने जरूरतमंदों को फ्री ऑक्सीजन देने के लिए फैसला लिया है, जिसकी वजह से ये कॉन्सेंट्रेटर खरीदे गए हैं.'

    मुंबई और दिल्ली में लगातार बढ़ रहे हैं कोरोना के मरीज
    बता दें कि पूरे देश में कोरोना संक्रमण का खतरा सबसे ज्यादा महाराष्ट्र, तमिलनाडु और दिल्ली में देखने को मिल रहा है. महाराष्ट्र की राजधानी मुंबई में अब तक 53,985 कोरोना मरीजों की पुष्टि हुई है. वहीं, दिल्ली में 34 हजार से ज्यादा कोरोना के मरीज मिल चुके हैं. शुक्रवार को दिल्ली में 1877 मरीज मिले और 101 मौते हुईं. दिल्ली में अब तक कोरोना से 1085 लोग दम तोड़ चुके हैं.

    ये भी पढ़ेंः- विज्ञापन में लिखा, 'दिनदहाड़े इंग्लिश बोलना सीखें', लोग बोले- 'English सिखाएगा या डकैती...'

    Tags: Corona Cases, Corona Cases in Delhi, Coronavirus Epidemic, COVID 19 Test, Mumbai, Quarantine

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें