मानसून: मुंबई में आज के लिए रेड अलर्ट जारी, अगले 4-5 दिनों के लिए ऑरेंज अलर्ट

मुंबई में भारी बारिश से जीवन अस्त-व्यस्त हो गया है (AP Photo/ Rafiq Maqbool)

मुंबई में भारी बारिश से जीवन अस्त-व्यस्त हो गया है (AP Photo/ Rafiq Maqbool)

South Western Monsoon: मानसून के कारण देश की वित्तीय राजधानी और उसके उपनगरों में सुबह भारी बारिश हुई जिससे जन-जीवन प्रभावित हुआ. भारी बारिश के चलते शहर में जगह-जगह जलभराव हो गया.

  • Share this:

मुंबई. भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (Indian Meteorological Department) ने आज मुंबई के लिए रेड अलर्ट जारी किया है. वहीं अगले 4-5 दिनों के लिए ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है. मुंबई और उसके आसपास के इलाकों में बुधवार को दक्षिण-पश्चिम मानसून (South Western Monsoon) ने दस्तक दी है. मानसून के कारण देश की वित्तीय राजधानी और उसके उपनगरों में सुबह भारी बारिश हुई जिससे जन-जीवन प्रभावित हुआ. भारी बारिश के चलते शहर में जगह-जगह जलभराव हो गया. मुंबई के छत्रपति शिवाजी महाराज टर्मिनल (सीएसएमटी) से पड़ोसी ठाणे और नवी मुंबई में वाशी तक जाने वाली लोकल ट्रेन सेवाओं को, रेलवे की कुछ पटरियों के जल भराव की वजह से पानी में डूब जाने के कारण निलंबित कर दिया गया है. बारिश के चलते बेस्ट की कुछ बसों का मार्ग भी परिवर्तित कर दिया गया है.

भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) के मुंबई कार्यालय के प्रमुख डॉ. जयंत सरकार ने कहा, ‘‘मुंबई में आज मानसून ने दस्तक दे दी है.’’ बृहन्मुंबई महानगरपालिका (बीएमसी) ने कहा कि अरब सागर में दोपहर के आसपास चार मीटर से अधिक ऊंची लहरें उठने की संभावना है. आईएमडी के एसआईडी, पुणे में जलवायु अनुसंधान और सेवाओं के प्रमुख के एस होसलीकर ने ट्वीट किया, ‘‘अच्छी खबर है. मुंबई-ठाणे-पालघर पर आज नौ जून को दक्षिण पश्चिम मानूसन के दस्तक देने की घोषणा हो गयी है. मानसून आज गुजरात के वलसाड, महाराष्ट्र में नागपुर और फिर भद्राचलम तुनी से गुजर रहा है. महाराष्ट्र के बाकी हिस्सों में अगले दो-तीन दिनों में मानसून के पहुंचने के लिए परिस्थितियां अनुकूल हैं.’’

ये भी पढ़ें- कांग्रेस में ब्राह्मणों के 'खेवनहार' रहे जितिन प्रसाद से बीजेपी को कितना होगा लाभ?

गरज के साथ हुई बारिश
शहर के कई हिस्सों और उपनगरों में सुबह बादल गरजने के साथ ही भारी बारिश हुई. आईएमडी के अनुसार, दक्षिण मुंबई का प्रतिनिधित्व करने वाली कोलाबा वेधशाला में पिछले 24 घंटों में 77.4 मिलीमीटर बारिश दर्ज की गई जबकि सांताक्रूज वेधशाला (उपनगरों) में 59.6 मिमी. बारिश दर्ज की गई.

बीएमसी के अनुसार, शहर, पूर्वी उपगनरों और पश्चिमी उपनगरों में बुधवार को सुबह आठ बजे तक 24 घंटों की अवधि में क्रमश: 48.49 मिमी, 66.99 मिमी और 48.99 मिमी. बारिश दर्ज की गई.

बीएमसी के एक अधिकारी ने बताया कि पूर्वाह्न 11 बजकर 43 मिनट पर 4.16 मीटर ऊंची लहरें उठने की संभावना है. आईएमडी ने मुंबई तथा उपनगरों में मध्यम बारिश के साथ आंशिक रूप से बादल छाए रहने का अनुमान जताया है. कुछ स्थानों पर भारी से बहुत भारी बारिश की संभावना है.



ये भी पढ़ें- बारिश से थम गई मुंबई की रफ्तार! सब-वे में भरा पानी, रोकनी पड़ीं ट्रेनें

इस मानसून की पहली भारी बारिश के कारण यहां लोकल ट्रेन सेवाएं बाधित हो गयीं. मध्य रेलवे (सीआर) के सायन और चूनाभट्टी स्टेशनों के बीच जल भराव हो गया है. सीएसएमटी और कुर्ला के बीच सीआर की मुख्य लाइन पर सुबह नौ बजकर 50 मिनट पर लोकल ट्रेन सेवाएं निलंबित की गई. मध्य रेलवे के मुख्य प्रवक्ता शिवाजी सुतार ने कहा कि बाद में सीएसएमटी और ठाणे (मुख्य लाइन) और सीएसएमटी और वाशी (हार्बर लाइन) पर सुबह 10 बजकर 20 मिनट से ट्रेन सेवाएं निलंबित कर दी गई. उन्होंने कहा, ‘‘ट्रांस-हार्बर लाइन और बीएसयू लाइनों पर ट्रेन सुचारू रूप से चल रही हैं. ठाणे से कर्जत/कसारा और वाशी-पनवेल तक शटल सेवाएं भी चल रही हैं.’’

पश्चिमी रेलवे के मुख्य प्रवक्ता सुमित ठाकुर ने बताया कि पश्चिम रेलवे मार्ग पर कोई बाधा नहीं है और उसकी लोकल ट्रेन सेवाएं सामान्य हैं. उन्होंने बताया कि जल भराव से निपटने के लिए पानी के पम्पों का इस्तेमाल किया जा रहा है.


आईएमडी ने शनिवार को महाराष्ट्र में दक्षिण पश्चिम मानसून के दस्तक देने की पुष्टि की थी. मानसून तटीय रत्नागिरी जिले के हरनाई में पहुंचा था लेकिन अनुकूल परिस्थितियां होने के बावजूद मानसून धीमी गति से बढ़ता दिखाई दे रहा है. (भाषा के इनपुट सहित)

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज