अपना शहर चुनें

States

छोटे मंदिर में लगी भीड़ देखकर मुस्लिम व्‍यक्ति ने दान दी करोड़ों की जमीन, अब बनेगा बड़ा हनुमान मंदिर

मुस्‍लिम व्‍यक्ति ने दान की करोड़ों की जमीन. (Pic- ANI)
मुस्‍लिम व्‍यक्ति ने दान की करोड़ों की जमीन. (Pic- ANI)

एचएमजी बाशा ने देखा था कि छोटे हनुमान मंदिर में लोगों को पूजा करने में दिक्‍कत होती थी. वहां पूजा करने के लिए भक्‍तों की भीड़ लगी रहती थी. इसलिए उन्‍होंने यह कदम उठाया.

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 9, 2020, 1:34 PM IST
  • Share this:
नई दिल्‍ली. कर्नाटक (Karnataka) के बेंगलुरु (Bengaluru) में सामाजिक सद्भाव की एक घटना सामने आई है. वहां रहने वाले एक मुस्लिम व्‍यक्ति ने बड़े हनुमान मंदिर (Hanuman Mandir) के निर्माण के लिए स्‍वेच्‍छा से अपनी जमीन दान दी है. हैरान करने वाली बात यह है कि इस जमीन की कीमत करोड़ों रुपये में है. दरअसल इस व्‍यक्ति ने देखा था कि छोटे हनुमान मंदिर में लोगों को पूजा करने में दिक्‍कत होती थी. वहां पूजा करने के लिए भक्‍तों की भीड़ लगी रहती थी. इसलिए उन्‍होंने यह कदम उठाया.

मंदिर के लिए दान देने वाले मुस्लिम व्‍यक्ति का नाम एचएमजी बाशा है. 65 साल के बाशा कार्गो का कारोबार करते हैं. वह बेंगलुरु के काडूगोडी क्षेत्र में रहते हैं. उनके पास बेंगलुरु के ही मायलापुरा इलाके में करीब 3 एकड़ बड़ी जमीन है. इस जमीन की कीमत आज के समय में करोड़ों रुपये है. उनकी इसी जमीन के बगल में एक प्राचीन हनुमान मंदिर है. लोगों की इस मंदिर में अटूट आस्‍था है. इसलिए वहां रोजाना बड़ी संख्‍या में भक्‍त आकर भगवान हनुमान की पूजा करते हैं.

मंदिर छोटा होने के कारण भक्‍तों को परेशानी होती है. मंदिर कमेटी ने भी पहले मंदिर के विस्‍तार की योजना बनाई थी. लेकिन उसके पास जमीन नहीं थी. बगल में बाशा की जो जमीन थी, उसके लिए मंदिर कमेटी उनसे बात करने से कतरा रही थी. इसके बाद हाल ही में बाशा ने एक दिन मंदिर में देखा कि भक्‍त बहुत ही छोटी जगह पर पूजा करते हैं. उन्‍होंने सोचा कि इससे भक्‍तों को काफी परेशानी होती होगी. ऐसे में वह खुद आगे आए और मंदिर कमेटी से जमीन दान देने की बात की.

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक यह जमीन ओल्‍ड मद्रास रोड पर मुख्‍य सड़क पर स्थित है. अब उनके इस कार्य की तारीफ वहां हर कोई कर रहा है. उनकी तारीफ करने और धन्‍यवाद देने के लिए लोगों ने मंदिर के आसपास उनके पोस्‍टर और बैनर भी लगाए हैं. अब मंदिर का निर्माण कार्य भी शुरू हो गया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज