मुस्लिम विद्वानों ने भीड़ हत्या के खिलाफ कानून बनाने की मांग की

प्रमुख मुस्लिम संगठन जमीयत उलेमा-ए-हिंद की ओर से आयोजित एक सम्मेलन में आतंकवाद की निंदा की गई और केंद्र और राज्य सरकारों से भीड़ हत्या के खिलाफ कानून बनाने की मांग की गई.

भाषा
Updated: August 6, 2019, 5:19 AM IST
मुस्लिम विद्वानों ने भीड़ हत्या के खिलाफ कानून बनाने की मांग की
मुस्लिम विद्वानों ने मॉब लिंचिंग पर कानून बनाने की गुजारिश की है (न्यूज18 क्रिएटिव)
भाषा
Updated: August 6, 2019, 5:19 AM IST
प्रमुख मुस्लिम संगठन जमीयत उलेमा-ए-हिंद की ओर से तालकटोरा स्टेडियम में आयोजित एक सम्मेलन में आतंकवाद की निंदा की गई और केंद्र और राज्य सरकारों से भीड़ हत्या के खिलाफ कानून बनाने की मांग की गई. ‘अमन और एकता सम्मेलन’ में अन्य धर्मों के धर्मगुरुओं ने भी हिस्सा लिया.

जमीयत उलेमा-ए- हिंद (महमूद मदनी गुट) के अध्यक्ष मोहम्मद उस्मान मंसूरपुरी ने अपने संबोधन में इस्लामी विद्वान और जमीयत के पूर्व अध्यक्ष मौलाना हुसैन अहमद मदनी के समग्र राष्ट्रवाद के विचार का हवाला दिया और कहा कि सभी भारतीय एक देश की नुमाइंदगी करते हैं.

लापरवाही बरतने वाली पुलिस और प्रशासनिक अधिकारियों के लिए भी सख्त सजा की मांग
जमीयत की ओर से जारी बयान में बताया गया है कि एक संयुक्त घोषणा पत्र में केंद्र और राज्य सरकारों से भीड़ हत्या (मॉब लिचिंग) के खिलाफ कानून बनाने की मांग की गई है. साथ में अपराधियों और ऐसी घटनाओं को रोकने में ‘लापरवाही’ बरतने वाले पुलिस और प्रशासनिक अधिकारियों को सख्त सजा की देने की मांग की.

देश के हर जिले और शहर के स्तर पर बनेगा ‘जमीयत सद्भावना मंच’
जमीयत महासचिव मौलाना महमूद मदनी ने कहा कि संगठन ने देश में जिला और शहर स्तर पर ‘जमीयत सद्भावना मंच’ बनाने का निर्णय किया है, ताकि विभिन्न मजहबों, जातीयों और नस्लों के लोगों के बीच दोस्ती कायम हो सके.

आतंकवाद को बताया गया निंदनीय और किसी की जान लेना इस्लाम के खिलाफ
Loading...

सम्मेलन में एक प्रस्ताव किया गया है जिसमें कहा गया है कि इस्लाम को लेकर गलतफहमियां हैं और झूठ फैलाया जाता है और इसी वजह से इस्लाम को आतंकवाद, कट्टरपंथ और लैंगिग नाइंसाफी के साथ जोड़ा जाता है.

इसमें कहा गया कि कि सभी तरह का आतंकवाद निंदनीय है और किसी की जान लेना इस्लाम के बुनियादी सिद्धांतों के खिलाफ है.

यह भी पढ़ें: Article 370: पीएम मोदी ने थपथपाई गृह मंत्री अमित शाह की पीठ
First published: August 6, 2019, 5:19 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...