मेहुल चोकसी की पत्नी का आरोप, मेरे पति का उत्पीड़न, कहा- वो एंटीगा के नागरिक

मेहुल चोकसी की पत्नी प्रीति चोकसी ने कहा कि मुझे कैरेबियाई देशों के कानून में पूरा विश्वास है (PTI)

मेहुल चोकसी की पत्नी प्रीति चोकसी ने कहा कि मुझे कैरेबियाई देशों के कानून में पूरा विश्वास है (PTI)

मेहुल चोकसी की पत्नी प्रीति चोकसी ने कहा कि अगर कोई वास्तव में उसे जीवित वापस लाना चाहता है, तो उन्हें शारीरिक और मानसिक रूप से प्रताड़ित करने की क्या जरूरत थी.

  • Share this:

नई दिल्ली. एंटीगा और बारबुडा से हाल में फरार हुए भगोड़े हीरा कारोबारी मेहुल चोकसी (Mehul Choksi) की पत्नी प्रीति चोकसी (Preeti Choksi) ने एएनआई से बातचीत में कहा है कि उनके पति को लेकर चल रही खबरों से उनके परिवार को तकलीफ पहुंची है और ये उनके पति के मानवाधिकारों का हनन है. प्रीति चोकसी ने मेहुल चोकसी के गर्लफ्रेंड के साथ डोमिनिका (Dominica) जाने की खबरों को लेकर कहा कि महिला मेरे पति को जानती थी, जब वह एंटीगा आती थी तो वह मेरे पति से मिलने जाती थी. उन्होंने कहा कि उनसे मिलने वाले लोगों से मैंने जो समझा है, मीडिया चैनलों पर दिखाई गई महिला वह महिला नहीं है जिसे वे बारबरा के नाम से जानते थे.

प्रीति चोकसी ने कहा कि जिस चीज ने परिवार को पीड़ा दी है तो वह शारीरिक प्रताड़ना और मेरे पति के मानवाधिकारों की पूर्ण अवहेलना है. उन्होंने कहा कि अगर कोई वास्तव में उसे जीवित वापस लाना चाहता है, तो उन्हें शारीरिक और मानसिक रूप से प्रताड़ित करने की क्या जरूरत थी.

ये भी पढ़ें- फाइजर और मॉडर्ना वैक्सीन से लोकल ट्रायल की शर्त हटाने से क्या होगा फायदा? यहां समझें

मेहुल की सुरक्षित वापसी का इंतजार
प्रीति ने कहा कि मेरे पति को कई स्वास्थ्य समस्याएं हैं. वह एक एंटीगुअन नागरिक है और एंटीगा और बारबुडा संविधान के अनुसार उन्हें सभी अधिकार और सुरक्षा प्राप्त हैं. उन्होंने कहा कि मुझे कैरेबियाई देशों के कानून के शासन में पूरा विश्वास है. हम जल्द से जल्द एंटीगा में उनकी सुरक्षित वापसी का इंतजार कर रहे हैं.

चोकसी हाल ही में एंटीगा और बारबुडा से फरार हो गया था और उसके खिलाफ इंटरपोल के ‘यलो नोटिस’’ के मद्देनजर पड़ोसी डोमिनिका में गिरफ्तार किया गया था. चोकसी को भारत लाने के मिशन पर सीबीआई और ईडी की टीम पहुंची हैं. कॉमनवेल्थ ऑफ डोमिनिका में 2 जून को चोकसी को बाहर भेजने की याचिका पर सुनवाई भी हो रही है. मेहुल चोकसी की लीगल टीम की याचिका पर डोमिनिका की अदालत ने 2 जून तक मेहुल चोकसी को डोमिनिका से बाहर ले जाने पर पाबंदी लगा दी थी.

ये भी पढ़ें- UP में कोरोना की स्पीड पर लगी ब्रेक, 24 घंटे में आए 1514 नए केस, 115 की मौत



भारत लाने की हो रही तैयारी

इस सुनवाई के लिए जांच अधिकारियों की टीम अपने साथ चोकसी की जांच से जुड़े तमाम दस्तावेजों के साथ डोमिनिका पहुंची है. ये दस्तावेज कोर्ट में पेश किए जाएंगे और कोर्ट को बताया जाएगा कि मेहुल चोकसी भारत में घोटाले का आरोपी और भगोड़ा है. लिहाज़ा उसे भारत भेजा जाए.

बता दें चोकसी पंजाब नेशनल बैंक में 13,500 करोड़ रुपये के ऋण धोखाधड़ी के मामले में वांछित है. इस मामले में उसके रिश्तेदार नीरव मोदी पर भी धोखाधड़ी का आरोप है. नीरव मोदी अभी लंदन की जेल में है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज