चिदंबरम ने किया आर्टिकल 370 का समर्थन तो नड्डा बोले- भारत बांटने की गंदी राजनीति

बीजेपी अध्यक्ष ने पी. चिदंबरम को दिया जवाब. (फाइल फोटो)

जेपी नड्डा (Jagat Prakash Nadda) ने कहा है कि राहुल गांधी (Rahul Gandhi) पाकिस्तान की तारीफ करते हैं और पी. चिदंबरम (P. Chidambaram) कहते हैं कांग्रेस आर्टिकल 370 को दोबारा लागू करवाना चाहती है. यह बेहद शर्मनाक है.

  • Share this:
    नई दिल्ली. भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा (Jagat Prakash Nadda) ने कांग्रेसी नेता पी. चिदंबरम (P. Chidambaram) द्वारा कश्मीर पर दिए बयान पर तीखी प्रतिक्रिया दी है. उन्होंने कहा है कि कांग्रेस के पास गुड गवर्नेंस का कोई एजेंडा नहीं है इसीलिए बिहार चुनाव से पहले वो भारत को बांटने वाली डर्टी ट्रिक्स इस्तेमाल कर रही है. गौरतलब है कि पी. चिदंबरम ने शुक्रवार को कई ट्वीट्स कर जम्मू-कश्मीर की राजनीतिक पार्टियों के नए गठबंधन को समर्थन देकर आर्टिकल 370 (Article 370) बहाली की बात कही थी.

    इस जेपी नड्डा ने कहा है कि राहुल गांधी पाकिस्तान की तारीफ करते हैं और पी. चिदंबरम कहते हैं कि कांग्रेस आर्टिकल 370 को दोबारा लागू करवाना चाहती है. यह बेहद शर्मनाक है.



    इससे पहले पी चिदंबरम ने जम्मू-कश्मीर के विशेष दर्जे की बहाली के लिए वहां के मुख्य राजनीतिक दलों के गठबंधन बनाने का समर्थन करते हुए कहा था कि केंद्र सरकार को अनुच्छेद 370 के विशेष प्रावधान हटाने संबंधी फैसलों को निरस्त करना चाहिए. पूर्व गृह मंत्री ने ट्वीट किया, ‘जम्मू-कश्मीर एवं लद्दाख के लोगों के अधिकारों की बहाली के लिए संवैधानिक लड़ाई लड़ने के मकसद से वहां के मुख्यधारा के क्षेत्रीय दलों का साथ आना एक ऐसा घटनाक्रम है जिसका भारत के सभी लोगों को स्वागत करना चाहिए.’



    बोले- केंद्र सरकार बदले अपना नजरिया
    उन्होंने यह भी कहा कि केंद्र सरकार को इन मुख्यधारा की पार्टियों और जम्मू-कश्मीर के लोगों को पृथकतावादी और देश विरोधी होने की नजर से देखना बंद करना चाहिए. उन्होंने कहा, ‘कांग्रेस दर्जे और जम्मू-कश्मीर के लोगों के अधिकारों की बहाली के लिए संकल्पबद्ध खड़ी है. सरकार को पांच अगस्त, 2019 को लिए गए मनमाने और असंवैधानिक फैसलों को निरस्त करना चाहिए.’

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.