Assembly Banner 2021

कोरोना लॉकडाउन: नागपुर पुलिस ने मारा प्राइवेट बस पर छापा, जरूरत से ज्यादा यात्री थे सवार

सड़कों पर बड़ी संख्‍या में पुलिस बल तैनात किया गया है. (Pic- ANI)

सड़कों पर बड़ी संख्‍या में पुलिस बल तैनात किया गया है. (Pic- ANI)

Nagpur Corona Lockdown: नागपुर में लगातार सामने आ रहे कोरोना मामलों को देखते हुए 15 मार्च से 21 मार्च तक सख्त लॉकडाउन लगाया गया है.

  • Last Updated: March 17, 2021, 11:48 AM IST
  • Share this:
नागपुर. महाराष्ट्र के नागपुर में लगे कड़े लॉकडाउन के बीच नियमों का उल्लंघन करने वालों पर पुलिस की लगातार कार्रवाई जारी है. इसी सिलसिले में नागपुर पुलिस ने बीती रात यशवंत स्टेडियम इलाके में एक प्राइवेट बस छापेमारी की. इस छापेमारी में बस में क्षमता से यात्री भरे मिले. दरअसल नागपुर पुलिस के जोन 2 की डीसीपी अनिता साहू को यह जानकारी मिली थी कि प्राइवेट बसों में कोरोना नियमों की धज्जियां उड़ाते हुए क्षमता से अधिक लोगों को भरा जा रहा है.

इस जानकारी के मिलने के बाद अनिता साहू ने अपने नेतृत्व में एक टीम बनाई और यशवंत स्टेडियम परिसर इलाके में छापा मारा. इस छापेमारी में 30 सीटर बस में कुल 56 लोग भरे मिले, जिनके बीच कोई सोशल डिस्टेंसिंग नहीं थी. सभी यात्रियों को बस से उतारा गया और उन्हें पुलिस स्टेशन ले जाया गया.

पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक नागपुर में लगे कड़े लॉकडाउन के बाद चोरी-छुपे इस बस में बैठकर लोग अपने गांव की तरफ जा रहे थे. इस मामले में नागपुर पुलिस ने बस के मालिक के खिलाफ धंतोली पुलिस स्टेशन में मामला दर्ज किया है. इतना ही नही, बस पर भी कार्रवाई करने के लिए इसकी जानकारी आरटीओ को दे दी गई है.

बता दें कि नागपुर में लगातार सामने आ रहे कोरोना मामलों को देखते हुए 15 मार्च से 21 मार्च तक सख्त लॉकडाउन लगाया गया है. इस दौरान अत्यावश्यक सेवाओं को छोड़कर सभी चीजों पर पाबंदी है. इतना ही नही, 50 फीसदी क्षमता के साथ ही बसों को चलाने का आदेश प्रशासन की तरफ से दिया गया है. पिछले 24 घंटे में नागपुर में 2587 कोरोना मामले सामने आए हैं,जबकि 18 लोगों की मौत हुई है. नागपुर में कोरोना के करीब 18000 से ज्यादा एक्टिव केसेज हैं और यह स्थिति उसे कोरोना हॉटस्पॉट बनने की तरफ ले जा रही है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज