Home /News /nation /

हरियाणा CM खट्टर बोले- ताकत का प्रदर्शन नहीं नमाज, सार्वजनिक जगहों पर अदा नहीं होनी चाहिए

हरियाणा CM खट्टर बोले- ताकत का प्रदर्शन नहीं नमाज, सार्वजनिक जगहों पर अदा नहीं होनी चाहिए

कुछ हिंदू समूहों द्वारा गुड़गांव में कुछ सार्वजनिक स्थानों पर नमाज को रोकने की कोशिश करने के बीच नमाज पर खट्टर की यह टिप्पणी आई है.  (फाइल फोटो)

कुछ हिंदू समूहों द्वारा गुड़गांव में कुछ सार्वजनिक स्थानों पर नमाज को रोकने की कोशिश करने के बीच नमाज पर खट्टर की यह टिप्पणी आई है. (फाइल फोटो)

Haryana News: हरियाणा के मुख्यमंत्री ने कहा कि सभी लोग इबादत करने और प्रार्थना करने के लिए स्वतंत्र हैं लेकिन यह निर्दिष्ट स्थानों पर होना चाहिए. उन्होंने कहा, ‘‘अगर इस पर कोई मतभेद है, तो विभिन्न धर्मों के लोग मध्यस्थता के लिए स्थानीय प्रशासन से संपर्क कर सकते हैं.’’

अधिक पढ़ें ...

    नई दिल्ली. हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर (CM Manohar Lal Khattar) ने गुरुवार को कहा कि नमाज को ताकत दिखाने का जरिया नहीं बनाना चाहिए. उन्होंने राज्य के पटौदी में क्रिसमस समारोह को बाधित किए जाने को ‘दुर्भाग्यपूर्ण’ बताया. कुछ हिंदू समूहों द्वारा गुड़गांव में कुछ सार्वजनिक स्थानों पर नमाज को रोकने की कोशिश करने के बीच नमाज पर खट्टर की यह टिप्पणी आई है. यहां भारतीय महिला प्रेस कोर के सदस्यों के साथ बातचीत करते हुए, खट्टर ने कहा, ‘‘सार्वजनिक स्थानों पर नमाज अदा करना अनुचित है. नमाज नमाज रहनी चाहिए न कि ताकत का प्रदर्शन.’’

    हरियाणा के मुख्यमंत्री ने कहा कि सभी लोग इबादत करने और प्रार्थना करने के लिए स्वतंत्र हैं लेकिन यह निर्दिष्ट स्थानों पर होना चाहिए. उन्होंने कहा, ‘‘अगर इस पर कोई मतभेद है, तो विभिन्न धर्मों के लोग मध्यस्थता के लिए स्थानीय प्रशासन से संपर्क कर सकते हैं.’’

    ये भी पढ़ें- मेट्रो ट्रेन में यात्रियों पर सख्‍ती, एक कोच में सिर्फ इतने लोग कर सकेंगे सफर

    क्रिसमस की घटना को खट्टर ने बताया दुर्भाग्यपूर्ण
    पटौदी की घटना के बारे में पूछे जाने पर जहां कथित तौर पर कुछ दक्षिणपंथी युवाओं ने क्रिसमस समारोह में बाधा डाली, खट्टर ने कहा, ‘‘यह एक दुर्भाग्यपूर्ण घटना है. ऐसी घटनाओं का समर्थन करने का कोई कारण नहीं है. इस तरह के किसी भी समारोह को बाधित करना सही नहीं है.’’

    किसानों के विरोध पर, खट्टर ने कहा कि विरोध शुरू करने वालों और इसका समर्थन करने वालों के बीच अंतर करने की जरूरत है, क्योंकि इसके पीछे राजनीतिक महत्वाकांक्षा वाले लोग हैं. खट्टर ने कहा, ‘‘विरोध शुरू करने वाले खुद को ‘किसान नेता’ कहते हैं, लेकिन उनकी राजनीतिक महत्वाकांक्षाएं हैं.’’

    Tags: CM Manohar Lal Khattar, Haryana news, Namaz

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर