लाइव टीवी

जानें कौन है प्रतिबंधित सीपीआई-माओवादी का नया चीफ केशव राव जिसकी NIA को है तलाश

News18Hindi
Updated: November 6, 2018, 11:28 PM IST
जानें कौन है प्रतिबंधित सीपीआई-माओवादी का नया चीफ केशव राव जिसकी NIA को है तलाश
प्रतीकात्मक तस्वीर

खुफिया एजेंसी के एक सूत्र ने कहा, 'नंबल केशव राव , गुरिल्ला वॉर के रूप में मजबूत मिलिट्री रणनीति और आईईडी के नए प्रयोग करने में वह माहिर है. वह सिर्फ फील्ड में ही नहीं बल्कि विचारधारा के तौर पर भी मार्कसिस्ट-लेनिनिस्ट-माओवादी विचारधारा का कट्टर समर्थक है.'

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 6, 2018, 11:28 PM IST
  • Share this:
प्रतिबंधित कम्यूनिस्ट पार्टी ऑफ इंडिया (माओवादी) को कथित तौर पर नया चीफ मिल गया है. मिली जानकारी के अनुसार नंबल केशव राव उर्फ बसवराज अब इस संगठन का नया मुखिया है. इससे पहले माओवादी केंद्रीय दल का सचिव मुप्पाला लक्ष्मण राव था. हालांकि इस बारे में सीपीआई - माओवादी ने कोई आधिकारिक घोषणा नहीं की हालांकि उच्च पदस्थ सूत्रों ने इस आशय की पुष्टि की है.

आंध्र प्रदेश के श्रीककुलम जिले के जियान्नापेट गांव का निवासी केशव राव वारंगल स्थित एनआईटी से इंजनियरिंग में ग्रेजुएट है. प्रतिबंधित संगठन में दूसरे स्थान पर, 63 वर्षीय राव  सीपीआई (माओवादी) के केंद्रीय सैन्य आयोग का नेतृत्व कर रहा थआ. व सैन्य रणनीति और विस्फोटकों के उपयोग का विशेषज्ञ है. खासतौर से वह विशेष रूप से आईईडी के इस्तेमाल में महारथ रखता है.

खुफिया एजेंसी के एक सूत्र ने कहा, 'नंबल केशव राव , गुरिल्ला वॉर के रूप में मजबूत मिलिट्री रणनीति और आईईडी के नए प्रयोग करने में वह माहिर है. वह सिर्फ फील्ड में ही नहीं बल्कि विचारधारा के तौर पर भी मार्कसिस्ट-लेनिनिस्ट-माओवादी विचारधारा का कट्टर समर्थक है.'

यह भी पढ़ें:  नक्सली कमांडर गणपति ने छोड़ा पद, नंबल्ला केशव को मिली नई जिम्मेदारी: सूत्र

NIA की वेबसाइट पर दी गई राव के बारे में जानकारी


राष्ट्रीय जांच एजेंसी की वेबसाइट पर केशव राव को भगोड़ा बताया गया है. एनआईए की वेबसाइट पर दी गई जानकारी के अनुसार इसे गगन, प्रकाश, कृष्णा, विजय, केशव, बसवाराजू, बीआर, दरापू नरसिम्हा रेड्डी और नरसिम्हा के नामों से भी जाना जाता है.

यह भी पढ़ें: सतनामी समाज के धर्म गुरु बालदास कांग्रेस में शामिल, पिछले चुनाव में बनाई थी अलग पार्टी

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 6, 2018, 11:25 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर