नंदीग्राम केस: ममता बनर्जी नहीं चाहती हैं इस मामले की सुनवाई जज कौशिक चंदा करे, HC ने सुरक्षित रखा फैसला

ममता बनर्जी

Nandigram case: निर्वाचन आयोग ने बताया था कि नंदीग्राम सीट से शुभेंदु अधिकारी 1,956 मतों से विजयी हुए. आयोग ने पुष्टि की कि अधिकारी को 1,10,764 मत मिले जबकि उनकी प्रतिद्वंद्वी बनर्जी के पक्ष में 1,08,808 मत पड़े.

  • Share this:
    कोलकाता. पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) नहीं चाहती हैं कि नंदीग्राम केस की सुनवाई जस्टिस कौशिक चंदा (Justice Kaushik Chanda) करे. बता दें कि ममता बनर्जी ने नंदीग्राम विधानसभा सीट (Nandigram) पर आए नतीजों को चुनौती है. यहां ममता को इस साल चुनाव में बीजेपी के सुवेंदु अधिकारी के खिलाफ करीब 2000 वोटों से हार का सामना करना पड़ा था. गुरुवार को ममता कलकत्ता हाई कोर्ट के सामने वीडियो लिंक के जरिए पेश हुई.

    ममता बनर्जी के वकील अभिषेक अभिषेक मनु सिंघवी ने कहा कि वो नहीं चाहते हैं कि न्यायमूर्ति कौशिक चंदा इस केस की सुनवाई करे. उन्होंने आरोप लगाया कि चंदा के रिश्ते कुछ बीजेपी नेताओं के साथ हैं. हालांकि कोर्ट ने सिंघवी के इस मांग पर कहा कि उन्होंने ये मुद्दा पिछली सुनवाई यानी 18 जून को क्यों नहीं उठाया था. सिंघवी ने कहा कि अगर न्यायमूर्ति कौशिक इस केस की सुनवाई करते हैं तो फिर इसका फैसला एकतरफा हो सकता हैं.

    क्या है याचिका में मांग
    तृणमूल कांग्रेस प्रमुख बनर्जी ने अपनी याचिका में भाजपा विधायक अधिकारी पर जन प्रतिनिधि कानून, 1951 की धारा 123 के तहत भ्रष्ट आचरण अपनाने का आरोप लगाया है। बनर्जी ने याचिका में यह भी दावा किया कि मतगणना प्रक्रिया में विसंगतियां थीं. पार्टी सूत्रों के मुताबिक तृणमूल ने आरोप लगाया कि ईवीएम में छेड़छाड़ की गई है और उनकी संख्या में विसंगति है, मतदान प्रक्रिया भी बार-बार रोकी गई और उसकी जानकारी चुनाव अधिकारियों ने नहीं दी. पार्टी ने आरोप लगाया कि बनर्जी के पक्ष में पड़े वैध मतों को खारिज कर दिया गया जबकि भाजपा के पक्ष में अमान्य मतों को भी गिना गया.

    ये भी पढ़ें:-  कोरोना से उबर चुके लोगों को नहीं होगी दूसरे डोज की जरूरत! ICMR स्टडी का दावा

    नंदीग्राम का नतीजा
    बता दें कि तृणमूल कांग्रेस ने मतगणना प्रक्रिया में धांधली का आरोप लगाते हुए दोबारा मतों की गिनती करने की मांग की थी. निर्वाचन आयोग ने बताया था कि नंदीग्राम सीट से शुभेंदु अधिकारी 1,956 मतों से विजयी हुए. आयोग ने पुष्टि की कि अधिकारी को 1,10,764 मत मिले जबकि उनकी प्रतिद्वंद्वी बनर्जी के पक्ष में 1,08,808 मत पड़े. निर्वाचन आयोग की वेबसाइट के मुताबिक 6227 मतों के साथ माकपा की मीनाक्षी मुखर्जी तीसरे स्थान पर रहीं.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.