Home /News /nation /

कालेधन के राजनीतिक पुजारी हमें जनविरोधी कहते हैं: मोदी

कालेधन के राजनीतिक पुजारी हमें जनविरोधी कहते हैं: मोदी

14वें प्रवासी भारतीय सम्मेलन का उद्घाटन के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज बेंगलुरु पहुंचे। पीएम मोदी यहां महत्वपूर्ण भाषण दिया।

    बेंगलुरु। नोटबंदी का विरोध करने वालों को आड़े हाथ लेते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज कहा कि सरकार के कदम को ‘जनविरोधी’ बता रहे लोग भ्रष्टाचार और कालेधन के ‘राजनीतिक पुजारी’ हैं जो अर्थव्यवस्था, राजव्यवस्था और समाज को खोखला बना रहे हैं। मोदी ने यहां 14वें प्रवासी भारतीय दिवस सम्मेलन में कहा कि आप जानते हैं कि हमने कालेधन और भ्रष्टाचार से लड़ने की बड़ी जिम्मेदारी ली है। कालेधन और भ्रष्टाचार ने हमारी राजव्यवस्था, अर्थव्यवस्था, समाज और देश को धीरे-धीरे खोखला बना दिया है।

    उन्होंने कहा कि दुर्भाग्यपूर्ण है कि कुछ लोग कालेधन के राजनीतिक पुजारी हैं जो इसके खिलाफ हमारे कदम को जनविरोधी कहते हैं। भ्रष्टाचार और कालेधन के खिलाफ सरकार के कदमों का समर्थन करने के लिए भारतीय मूल के लोगों का शुक्रिया अदा करते हुए मोदी ने कहा कि बहुत दुखद है कि कुछ कालेधन समर्थक भ्रष्टाचार के कदमों को नुकसान पहुंचा रहे हैं। देश के विकास में भारतवंशी समुदाय की भूमिका पर रोशनी डालते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि उन्होंने 69 अरब डॉलर से ज्यादा निवेश करके भारतीय अर्थव्यवस्था में ‘अमूल्य योगदान’ दिया है।

    उन्होंने कहा कि मेरे लिए एफडीआई की दो परिभाषाएं हैं। एक है ‘फॉरिन डायरेक्ट इन्वेस्टमेंट’ (विदेशी प्रत्यक्ष निवेश) और दूसरी है ‘फर्स्ट डवलप इंडिया’ । उन्होंने कहा कि मैं पूरे विश्वास के साथ कह सकता हूं कि 21वीं सदी भारत की है। भारत से प्रतिभा पलायन के पुराने चलन का उल्लेख करते हुए मोदी ने कहा कि हम ब्रेन ड्रेन को ब्रेन गेन में बदलना चाहते हैं।

    मोदी ने कहा कि विदेशों में रोजगार चाहने वाले भारतीय युवाओं के लिए सरकार जल्द एक कौशल विकास कार्यक्रम ‘प्रवासी कौशल विकास योजना’ शुरू करेगी। प्रवासी भारतीय समुदाय के साथ देश की साझेदारी को मजबूत करने के भारतवंशी समुदाय के प्रयासों का स्वागत करते हुए मोदी ने कहा कि हम पासपोर्ट का रंग नहीं देखते लेकिन खून से लिखे रिश्ते सर्वाधिक महत्व रखते हैं।

    सभी पीआईओ कार्ड धारकों को अपने पीआईओ कार्डों को ओसीआई कार्डों में बदलने के लिए प्रोत्साहित करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि हमने पीआईओ कार्डों को ओसीआई में बदलने की सीमा 31 दिसंबर 2016 से बढ़ाकर 30 जून 2017 कर दी है जिस दौरान कोई जुर्माना नहीं लगेगा। उन्होंने विदेशों में बसे भारतीयों के कल्याण और सुरक्षा के लिए अनेक उपायों की भी बात की जिनमें परेशानी में फंसे भारतीयों का पता लगाने से लेकर पिछले दो साल में उठाए गए अनेक कदम शामिल हैं। उन्होंने इस संबंध में विदेश मंत्री सुषमा स्वराज के प्रयासों का विशेष रूप से उल्लेख किया।

    pravasisammelan



    शनिवार को कर्नाटक के उद्योग मंत्री आर वी  देशपांडे ने इस तीन दिवसीय कार्यक्रम के उद्घाटन सत्र में कहा कि देश की 65 फीसदी आबादी 35 साल के नीचे होने के साथ ही यह युवा प्रवासियों के लिए मित्रता को प्रगाढ़ करने, देश की पुरानी परंपरा व समृद्ध संस्कृति की खोज करने और अपने लोकाचार की पहचान करने का एक महत्वपूर्ण अवसर है।

    युवा प्रवासी भारतीय दिवस के उद्घाटन सत्र को संबोधित करते हुए विदेश राज्य मंत्री जनरल (सेवानिवृत्त) वी के सिंह ने कहा कि साल 2020 तक भारत के लोगों की औसत आयु 29 साल होगी, जिससे वह दुनिया का सबसे युवा देश हो जाएगा, क्योंकि भारत की 64 फीसदी आबादी काम करने वाले लोगों की होगी।

     

    (भाषा इनपुट) 

    Tags: Bengaluru, Narendra modi

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर