OBC जातियों को मिलने वाले आरक्षण का नया फॉर्मूला बना सकती है मोदी सरकार

केंद्र सरकार की नौकरियों और शिक्षा में मिलने वाले 27 फीसदी ओबीसी आरक्षण में अभी 2633 जातियां शामिल हैं.

News18Hindi
Updated: June 13, 2019, 11:02 AM IST
OBC जातियों को मिलने वाले आरक्षण का नया फॉर्मूला बना सकती है मोदी सरकार
OBC जातियों को मिलने वाले आरक्षण का नया फॉर्मूला बना सकती है मोदी सरकार
News18Hindi
Updated: June 13, 2019, 11:02 AM IST
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने दूसरे कार्यकाल में कई बड़े फैसले लेने शुरू कर दिए हैं. इन सबके बीच अब खबर है कि मोदी सरकार OBC को मिलने वाले 27 फीसदी आरक्षण के बंटवारे का नया फॉर्मूला निकाल सकती है. हिन्दुस्तान टाइम्स में प्रकाशित खबर के मुताबिक ओबीसी जातियों को तीन हिस्सों में बांटकर आरक्षण का लाभ दिया जा सकता है. खबर है कि सरकार के एक पैनल ने ओबीसी आरक्षण में बंटवारे की सिफारिश की है, जिस पर जल्द ही सरकार कोई फैसला ले सकती है.

ओबीसी आरक्षण में बंटवारे की सिफारिश, ओबीसी में अन्य पिछड़ा वर्ग के उप-वर्गीकरण का आयोग ने की है. अब इस सिफारिश पर केंद्रीय सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्रालय में मंथन होगा. अगर मंत्रालय इस सिफारिश पर अपनी सहमति जता देता है तो ओबीसी जातियों को मिलने वाले आरक्षण में कुछ बदलाव देखने को मिल सकते हैं.



इसे भी पढ़ें :- सावधान! अगर रैगिंग ली तो 3 साल नहीं मिलेगा एडमिशन

जानकारी के मुताबिक केंद्र सरकार की नौकरियों और शिक्षा में मिलने वाले 27 फीसदी ओबीसी आरक्षण में अभी 2633 जातियां शामिल हैं. सरकार के एक पैनल ने कहा है कि 27 फीसदी हिस्से को तीन हिस्सों में बांट दिया जाना चाहिए और सभी 2633 जातियों को इन तीन हिस्सों में कर दिया जाना चाहिए. अभी ये सभी जातियां एक ही वर्ग में आती हैं. आयोग ने इसके पीछे तर्क दिया है कि 2633 जातियों में से कुछ ही जातियों को आरक्षण का लाभ मिलता है.

इसे भी पढ़ें :- कमलनाथ सरकार का बड़ा फैसला, OBC आरक्षण 14 से बढ़ाकर 27 फीसदी किया

आयोग ने कहा कि 2633 जातियों में से जिन उप जातियों को आरक्षण का लाभ नहीं मिल पाता है उन्हें 10 प्रतिशत कैटगरी में रखा जाए. इसी तरह आंशिक लाभ उठाने वाली उपजातियों को भी 10 प्रतिशत अगल कैटगरी में रखा जाए और जिन जातियों को सबसे ज्यादा लाभ मिलता है उन्हें 7 फीसदी कैटगरी में रखा जाए.

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...