Home /News /nation /

मंगल ग्रह पर खोज के लिए नासा चाहती है भारत का साथ

मंगल ग्रह पर खोज के लिए नासा चाहती है भारत का साथ

नासा विश्व की जानी-मानी और सबसे बड़ी वैज्ञानिक संस्था है. मंगल ग्रह पर नासा काफी वक्त से खोज कर रही है. नासा अब इस काम में भारत का साथ चाहती है.

नासा विश्व की जानी-मानी और सबसे बड़ी वैज्ञानिक संस्था है. मंगल ग्रह पर नासा काफी वक्त से खोज कर रही है. नासा अब इस काम में भारत का साथ चाहती है.

नासा विश्व की जानी-मानी और सबसे बड़ी वैज्ञानिक संस्था है. मंगल ग्रह पर नासा काफी वक्त से खोज कर रही है. नासा अब इस काम में भारत का साथ चाहती है.

  • Pradesh18
  • Last Updated :
    नासा विश्व की जानी-मानी और सबसे बड़ी वैज्ञानिक संस्था है. मंगल ग्रह पर नासा काफी वक्त से खोज कर रही है. नासा अब इस काम में भारत का साथ चाहती है.

    भारत की तरफ से बेहद कम लागत में भेजे गए पहले मंगलायन में उच्च स्तरीय इंटर प्लैनेटरी मिशन को अंजाम दिया था और इसरो की इस क्षमताओं ने विश्व को प्रभावित करने के साथ साथ नासा को भी प्रभावित किया था. इसी से प्रभावित होकर अमेरिका अब इस यात्रा में भारत का साथ चाहता है.

    नासा ने भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) को पत्र लिखकर ज्वाइंट ऑपरेशन के लिए आमंत्रित किया है. लाल ग्रह पर नए मिशन के लिए भारत को आमंत्रित करने का सबसे बड़ा कारण भारत का मंगल मिशन है, जो दुनिया का सबसे कम कीमत वाला अंतरिक्ष मिशन था.

    नासा के वैज्ञानिक व जेट प्रोपल्शन लैबोरेटरी के निदेशक चार्ल्स इलाची ने मीडिया से बातचीत करते हुए कहा कि भविष्य में भारत और अमेरिका साथ मिलकर मंगल पर अन्वेषण कर सकते हैं और उन्होंने लाल ग्रह पर मिशन के लिए भारत को आमंत्रित किया है.

    अगर इसबात पर सहमति बनती है तो यह शुरुआती चरणों में एक रोबोटिक मिशन होगा. 2020-2030 के बीच इसी मिशन का विस्तार करते मानव-युक्त रॉकेट को इस लाल ग्रह पर भेजने की योजना है.

    अमेरिका इस बात को लेकर आशान्वित है कि इसरो इसमें भागीदार बनने के लिए जरूर आगे आएगा. गौरतलब है कि अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा ने हाल ही में कहा था कि अमेरिका मनुष्य को मंगल पर भेजना चाहता है, लेकिन उसमें भारत समेत कई देशों के सहयोग की जरूरत है.

    अगर इसरो इसमें सहयोगी बनता है तो भारत-अमेरिका के संबंधों और मजबूती आएगी.

    Tags: India

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर