नसीमुद्दीन का आरोप, 'मायावती ने मुझे जाने नहीं दिया और मेरी बेटी दफना दी गई'

नसीमुद्दीन का आरोप, 'मायावती ने मुझे जाने नहीं दिया और मेरी बेटी दफना दी गई'
Image Source: File Photo

नसीमुद्दीन ने आरोप लगाया है कि मायावती की वजह से वह अपनी बेटी के जनाजे में शामिल नहीं हो पाए थे.

  • Share this:
  • fb
  • twitter
  • linkedin
एक जमाने में बहुजन समाज पार्टी (बसपा) के कद्दावर नेता रहे नसीमुद्दीन सिद्दीकी ने पार्टी से निकाले जाने के बाद बसपा सुप्रीमो मायावती पर कई संगीन आरोप लगाए हैं. उन्होंने कहा कि मायावती ने उन्हें अपनी इकलौती बेटी के कफन-दफन में शामिल नहीं होने दिया. उन्होंने आरोप लगाया है कि मायावती ने अपनी राजनीतिक महत्वाकांक्षा की वजह से न वह अपनी बेटी का इलाज करा सके और न ही उसके जनाजे में शामिल हो सके. बताते चलें कि सिद्दीकी और उनके बेटे अफजल को बुधवार को ही पार्टी से निकाला गया है.

सिद्दीकी ने अपने बयान में कहा, '1996 में जब मायावती बदायूं के बिल्सी से चुनाव लड़ रही थीं, तब उन्होंने मुझे अपना इलेक्शन-इंचार्ज बनाया था. उस दौरान मेरी सबसे बड़ी औलाद, मेरी इकलौती बेटी गंभीर रूप से बीमार हो गई. मेरी पत्नी ने मुझे फोन किया, वह रो रही थी, उसने मुझे जल्द से जल्द घर आने को कहा क्योंकि हमारी बेटी अपनी आखिरी सांसें गिन रही थी. जब मैंने मायावती से अपनी बेटी से मिलने के लिए अनुमति मांगी तो उन्होंने सीधे मना कर दिया.'

सिद्दीकी ने कहा, 'मायावती ने कहा- 'यह चुनाव काफी मुश्किल है. तुम मेरे चुनाव एजेंट हो. तुम्हारे जाने का मतलब है कि मैं हार जाऊंगी.' अपने व्यक्तिगत फायदे के लिए मायावती ने मुझे अपनी बेटी से मिलने और उसका इलाज कराने से मना कर दिया. इलाज के अभाव में मेरी बेटी की मौत हो गई. उन्होंने उसकी अंत्येष्टि में भी मुझे जाने नहीं दिया. मैं नहीं गया और मेरी बेटी दफना दी गई.'



मायावती का पलटवार



मायावती ने नसीमुद्दीन सिद्दीकी के इस आरोप को नकारते हुए कहा कि उन्हें पहली बार पता चला कि नसीमुद्दीन सिद्दीकी की कोई बेटी भी थी. सिद्दीकी के आरोपों पर पलटवार करते हुए मायावती ने उन्हें ब्लैकमेलर बताया और गलत तरीके से पैसे कमाने का आरोप भी लगाया. मायावती ने कहा, 'नसीमुद्दीन सिद्दीकी से हमने चंदे का हिसाब मांगा था, जो उसने नहीं दिया. हमें कई लोगों से शिकायत मिली कि वो पार्टी फंड के पैसे का गलत इस्तेमाल कर रहा है. ऐसे में मजबूरन हमें उसे पार्टी से निकालना पड़ा.'

ये भी पढ़ेंः

जानें,कौन है मायावती पर आरोप लगाने वाले नसीमुद्दीन सिद्दीकी
मायावती का पलटवार, 'बहुत बड़ा ब्लैकमेलर है नसीमुद्दीन सिद्दीकी'
नसीमुद्दीन सिद्दीकी ने जारी किए मायावती के ऑडियो टेप, कहा- 'ऐसे 150 टेप और हैं'
माया की बसपा में कद्दावर नेताओं का हश्र, किसी को निकाला गया तो कोई खुद ही चला गया
जानें बहनजी के नाम से मशहूर मायावती के बारे में अहम बातें
First published: August 22, 2019, 4:31 PM IST
अगली ख़बर

फोटो

corona virus btn
corona virus btn
Loading