PM मोदी ने मार्शल अर्जन सिंह को घर जाकर दी श्रद्धांजलि

News18Hindi
Updated: September 17, 2017, 9:25 PM IST
PM मोदी ने मार्शल अर्जन सिंह को घर जाकर दी श्रद्धांजलि
pic : ANI
News18Hindi
Updated: September 17, 2017, 9:25 PM IST
प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने भारतीय वायु सेना के मार्शल तथा 1965 के भारत पाक युद्ध के नायक रहे अर्जन सिंह को उनके घर जाकर श्रद्धांजलि अर्पित की.

मार्शल अर्जन सिंह के आवास पर पीएम मोदी ने शोक पुस्तिका में संदेश लिखा. उन्होंने लिखा, 'जानदार शानदार समर्पित जीवन, वीरता और शौर्य की जीती जागती मिसाल, ऊंचाई और गहराई का अद्भुत संयोजन पद, प्रतिष्ठा, मान-मर्यादा सभी मां भारती के चरणों में समर्पित. सैनिक के शौर्य और शिष्टाचार की सदा अनुभूति देने वाले वीर को प्रणाम.'


पीएम मोदी के अलावा राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के नेतृत्व में राष्ट्र ने भारतीय वायु सेना के मार्शल तथा 1965 के भारत पाक युद्ध के नायक अर्जन सिंह को श्रद्धांजलि अर्पित की. अर्जन सिंह वायुसेना के एकमात्र अधिकारी थे जिन्हें फाइव स्टार रैंक प्रदान किया गया था.


एयर चीफ मार्शल बिरेन्द्र सिंह धनोआ, नौसेना प्रमुख एडमिरल सुनील लाम्बा और थलसेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत के साथ आवास एवं शहरी विकास राज्य मंत्री हरदीप पुरी भी वहां मौजूद थे. श्रद्धांजलि देने पहुंचे अन्य गणमान्य लोगों में केंद्रीय वित्त मंत्री अरूण जेटली, विदेश राज्य मंत्री और पूर्व थलसेना प्रमुख वी के सिंह, पूर्व रक्षा मंत्री ए के एंटनी और कांग्रेस नेता कर्ण सिंह भी शामिल थे.

एस पी त्यागी, एन सी सूरी और ए वाई टिपनिस जैसे पूर्व वायुसेना अध्यक्षों के साथ ही कई अन्य अलंकृत अधिकारियों ने भी अर्जन सिंह को श्रद्धांजलि दी जिन्होंने 1965 के युद्ध में उनके तहत काम किया था.

थलसेना प्रमुख जनरल रावत ने फाइव स्टार रैंक वाले अधिकारी को लीजेंड, नायक और पायलट-प्रमुख बताया जिन्होंने आगे बढ़कर नेतृत्व किया और जो परोपकारी थे. उन्होंने 1965 के भारत-पाक युद्ध के दौरान वायुसेना प्रमुख के रूप में उनके योगदान का भी जिक्र किया. वायुसेना प्रमुख धनोआ ने कहा कि यह श्रेय उन्हीं को है कि शुरूआती झटकों के बाद भी हम दुश्मन को परास्त करने में सफल रहे और जम्मू कश्मीर को अलग करने के उनके इरादों को नाकाम कर दिया.

अर्जन सिंह की पुत्री आशा सिंह और अभिनेत्री मंदिरा बेदी सहित परिवार के अन्य सदस्य भी उनके निवास पर मौजूद थे, जहां उनका पार्थिव शरीर रखा गया है. उनके पुत्र अरविंद सिंह के आज देर शाम तक अरिजोना, अमेरिका से यहां पहुंचने की संभावना है.

उनके सम्मान में कल राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में सभी सरकारी इमारतों में राष्ट्रीय ध्वज आधा झुके रहेंगे.

रक्षा मंत्री निर्मला ने कहा कि उनका अंतिम संस्कार कल राष्ट्रीय सम्मान के साथ बरार स्क्वेयर में प्रातः 9 बजकर 30 मिनट पर किया जाएगा. उन्होंने कहा कि उनके पार्थिव शरीर को कल उनके निवास स्थान से प्रातः 8 बजकर 30 मिनट पर सैन्य वाहन में जुलूस के रूप में ले जाया जाएगा. इस दौरान बन्दूकों की सलामी भी दी जाएगी तथा अगर मौसम अनुकूल रहा तो फ्लाई पास्ट भी किया जाएगा. अर्जन सिंह इकलौते वायु सेना अधिकारी थे जिन्हें 'फाइव स्टार रैंक' दिया गया था. उनका 98 वर्ष की उम्र में कल निधन हो गया.

(एजेंसी इनपुट के साथ)
First published: September 17, 2017
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर