होम /न्यूज /राष्ट्र /

NC की राजनीतिक मामलों की समिति ने जम्मू-कश्मीर का विशेष दर्जा खत्म करने के बाद से पहली बैठक की

NC की राजनीतिक मामलों की समिति ने जम्मू-कश्मीर का विशेष दर्जा खत्म करने के बाद से पहली बैठक की

नेशनल कॉन्फ्रेंस के नेता फारुख अब्दुल्ला की फाइल फोटो (फोटो- PTI)

नेशनल कॉन्फ्रेंस के नेता फारुख अब्दुल्ला की फाइल फोटो (फोटो- PTI)

पिछले साल अगस्त में जम्मू कश्मीर का विशेष दर्जा (Jammu and Kashmir's special status) खत्म करने और राज्य को दो केंद्रशासित प्रदेशों (union territories) में बांटने के केंद्र के फैसले के बाद नेशनल कॉन्फ्रेंस (National Conference) की राजनीतिक मामलों की समिति की यह पहली बैठक है.

अधिक पढ़ें ...
    श्रीनगर. नेशनल कॉन्फ्रेंस (National Conference) की राजनीतिक मामलों की समिति (political affairs committee- PAC) की बैठक शनिवार को शुरू हुई. पिछले साल 5 अगस्त को जम्मू कश्मीर का विशेष दर्जा (Jammu and Kashmir's special status) खत्म किए जाने (revocation) के केंद्र के फैसले के बाद पार्टी की निर्णय लेने वाली शीर्ष इकाई (top decision-making body) की यह पहली बैठक है. नेशनल कॉन्फ्रेंस के एक नेता ने बताया कि पार्टी अध्यक्ष फारूक अब्दुल्ला (National Confenence president Farooq Abdullah) की अध्यक्षता में पार्टी के मुख्यालय नवा-ए-सुबह (party headquarters Nawa-i-Subah) में पीएसी की बैठक शुरू हुई. हालांकि फारूक अब्दुल्ला पिछले हफ्ते अपने गुपकार आवास पर पार्टी के कई नेताओं से मिले थे.

    उन्होंने कहा कि पार्टी के उपाध्यक्ष उमर अब्दुल्ला (vice president Omar Abdullah) तथा महासचिव अली मोहम्मद सागर समेत अन्य वरिष्ठ नेता (senior leaders) बैठक में मौजूद थे. उन्होंने बताया कि पीएसी में शामिल जम्मू क्षेत्र (Jammu area) के नेता वीडियो कॉन्फ्रेंस (video conference) के जरिए बैठक में शामिल हुए. पिछले साल अगस्त में जम्मू कश्मीर का विशेष दर्जा खत्म करने और राज्य को दो केंद्रशासित प्रदेशों (union territories) में बांटने के केंद्र के फैसले के बाद नेशनल कॉन्फ्रेंस (National Conference) की राजनीतिक मामलों की समिति की यह पहली बैठक है.

    यह भी पढ़ें: बदायूं में 2 किसानों को बिजली चोरी में एक लाख 18 हजार रुपए वसूली का नोटिस

    NC अध्यक्ष ने उन नेताओं से मुलाकात की जिन्हें पिछले एक साल से हिरासत में रखा गया था
    पिछले सप्ताह फारूक अब्दुल्ला ने यहां अपने गुपकार आवास पर तीन दिनों में पार्टी के विभिन्न नेताओं के साथ मुलाकात की थी. नेशनल कॉन्फ्रेंस के अध्यक्ष ने उन नेताओं से मुलाकात की जिन्हें पिछले एक साल से हिरासत में रखा गया था और पार्टी ने उनकी हिरासत को अदालत में चुनौती दी थी. हालांकि, सरकार ने अदालत में कहा था कि उन नेताओं को हिरासत में नहीं रखा गया था और वे कहीं भी जाने के लिए आजाद थे.

    Tags: Article 35A, Article 370, Farooq Abdullah, Jammu kashmir, National Conference, Omar abdullah

    अगली ख़बर