नवजोत सिंह सिद्धू ने किया कृषि विधेयकों का विरोध, बोले- 'ये किसानों को बर्बाद कर देगा'

फोटो साभारः ANI
फोटो साभारः ANI

विधेयक लाने के लिए केन्द्र की भाजपा के नेतृत्व वाली सरकार पर हमला बोलते हुए सिद्धू ने कहा कि वह उन्हें लागू नहीं होने देंगे. विरोध प्रदर्शन में जिला स्तर का कोई कांग्रेसी नेता मौजूद नहीं था और पार्टी का झंड़ा भी नहीं था.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 23, 2020, 11:01 PM IST
  • Share this:
अमृतसर. पंजाब (Punjab) से विधायक और पूर्व मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू (Navjot Singh Sidhu) ने बुधवार को कृषि विधेयकों (Agricultural bills) के खिलाफ विरोध दर्ज कराया और कहा कि ये विधेयक कृषक समुदाय को बर्बाद कर देंगे. अपने समर्थकों के साथ सिद्धू यहां एक ट्रैक्टर पर बैठे थे और उन्होंने तख्तियां ली हुई थी जिनमें अंग्रेजी और पंजाबी में लिखा था कि हम किसानों की लड़ाई में एकजुट हैं.

पिछले साल राज्य मंत्रिमंडल से इस्तीफा देने के बाद सिद्धू पहली बार किसी सार्वजनिक कार्यक्रम में नजर आये है. विधानसभा में अमृतसर सीट का प्रतिनिधित्व करने वाले सिद्धू ने पत्रकारों को बताया कि नये विधेयक न्यूनतम समर्थन मूल्य और विपणन प्रणाली को नष्ट कर देंगे. उन्होंने कहा, ‘‘ये नये विधेयक किसानों को बर्बाद कर देंगे.’’

सिद्धू ने साधा बीजेपी पर निशाना
विधेयक लाने के लिए केन्द्र की भाजपा के नेतृत्व वाली सरकार पर हमला बोलते हुए सिद्धू ने कहा कि वह उन्हें लागू नहीं होने देंगे. विरोध प्रदर्शन में जिला स्तर का कोई कांग्रेसी नेता मौजूद नहीं था और पार्टी का झंड़ा भी नहीं था.
उनकी पार्टी के सहयोगियों की अनुपस्थिति के बारे में पूछे जाने पर सिद्धू ने कहा कि वह यहां कृषि विधेयकों के खिलाफ विरोध प्रदर्शन करने आये है और कृषि समुदाय को उनका पूरा समर्थन है.



जानिए इस विधेयक के बारे में...
गौरतलब है कि संसद ने कृषि से संबंधित तीनों विधेयक आवश्यक वस्तु (संशोधन) विधेयक, 2020, कृषक उपज व्यापार और वाणिज्य (संवर्धन और सरलीकरण) विधेयक 2020 तथा कृषक (सशक्तिकरण और संरक्षण) कीमत आश्वासन एवं कृषि सेवा पर करार विधेयक, 2020 को रविवार को पारित कर दिया.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज