लाइव टीवी

नवजोत सिंह सिद्धू का कांग्रेस से हुआ मोहभंग! अकाली नेता बिक्रम मजीठिया के साथ मंच पर दिखने पर बढ़ीं अटकलें

News18Hindi
Updated: February 17, 2020, 12:38 PM IST
नवजोत सिंह सिद्धू का कांग्रेस से हुआ मोहभंग! अकाली नेता बिक्रम मजीठिया के साथ मंच पर दिखने पर बढ़ीं अटकलें
कांग्रेस नेता नवजोत सिंह सिद्धू रविवार शाम आकली नेता बिक्रम मजीठिया के साथ एक कार्यक्रम में नजर आए.

कांग्रेस (Congress) नेता नवजोत सिंह सिद्धू (Navjot Singh Sidhu) ने पिछले साल विभाग बदले जाने के बाद पंजाब के सीएम कैप्‍टन अमरिंदर सिंह (Captain Amarinder Singh) की कैबिनेट से इस्‍तीफा दे दिया था. इसके बाद से न तो वह पजाब विधानसभा (Punjab Assembly) पहुंच रहे हैं और न ही किसी सार्वजनिक मंच पर नजर आए.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 17, 2020, 12:38 PM IST
  • Share this:
चंडीगढ़. क्या नवजोत सिंह सिद्धू (Navjot Singh Sidhu) का कांग्रेस से मोहभंग हो चुका है. दरअसल ,सिद्धू लंबे समय से सियासी अज्ञातवास में चल रहे थे. इस दौरान वह पंजाब विधानसभा (Punjab Assembly) समेत किसी सार्वजनिक मंच पर भी नहीं दिखे. उन्‍होंने जुलाई, 2019 में मुख्यमंत्री कैप्‍टन अमरिंदर सिंह (Captain Amarinder Singh) की ओर से अपना विभाग बदले जाने के बाद कैबिनेट मंत्री के पद से इस्‍तीफा दे दिया था. लंबे समय बाद रविवार को सिद्धू जब एक एलबम रिलीज के लिए सार्वजनिक मंच पर नजर आए तो फिर चर्चा का विषय बन गए.

औजला से की बात और बिक्रम मजीठिया से बनाए रखी दूरी
नवजोत सिंह सिद्धू रविवार रात अमृतसर नाट्यशाला में पत्रकार बरजिंदर सिंह की एलबम के रिलीज समारोह के दौरान आयोजित सांस्कृतिक कार्यक्रम में पहुंचे थे. इस दौरान उन्‍होंने शिरोमणि अकाली दल के नेता बिक्रम सिंह मजीठिया (Bikram Singh Majithia) के साथ मंच साझा किया तो अटकलों का बाजार फिर गरम हो गया. उनके साथ फ्रंटलाइन में टकसाली अकाली नेता व पूर्व मंत्री रणजीत सिंह ब्रह्मपुरा, अमृतसर से कांग्रेस सांसद गुरजीत औजला (Gurjeet Singh Aujla) और धुर विरोधी पूर्व अकाली मंत्री बिक्रम मजीठिया बैठे. इस दौरान सिद्धू औजला से बात करते नजर आए. हालांकि, उन्‍होंने मजीठिया से दूरी बनाए रखी.

पंजाब के सीएम कैप्‍टन अमरिंदर सिंह ने पिछले साल सिद्धू का विभाग बदल दिया था. इसके बाद उन्‍होंने कैबिनेट मंत्री के पद से इस्‍तीफा दे दिया था.




दिल्‍ली चुनाव में कांग्रेस के लिए प्रचार करने से रखा परहेज


पंजाब के पूर्व मंत्री सिद्धू ने मंच पर टकसाली नेता रणजीत सिंह ब्रह्मपुरा (Ranjit Sing Brahmpura) का अभिवादन किया. सिद्धू के 8 महीने बाद अचानक इस तरह सार्वजनिक मंच पर नजर आने और विरोधी नेताओं के साथ मंच साझा करने से पंजाब की सियासत में कयासबाजी शुरू हो गई है. उन्‍होंने दिल्‍ली विधानसभा चुनाव 2020 में स्‍टार कैंपेनर बनाए जाने के बाद भी कांग्रेस (Congress) के लिए प्रचार नहीं किया था. सूत्रों के मुताबिक, उन्‍होंने जानबूझकर दिल्‍ली में चुनाव प्रचार से दूरी बनाई. इसके बाद उनके कांग्रेस छोड़ने की अटकलें लगाई जाने लगीं. कभी उनके आम आदमी पार्टी (AAP) तो कभी बीजेपी (BJP) में फिर शामिल होने की चर्चा शुरू हो गई.

काफी समय से सिद्धू के आम आदमी पार्टी ज्‍वाइन करने या बीजेपी में वापसी की अटकलें लगाई जा रही हैं.


अटकलों के बीच अपने पत्‍ते खोलने को तैयार नहीं सिद्धू
तमाम अटकलों के बीच सिद्धू ने अपने पत्‍ते नहीं खोले. उन्‍होंने इस बारे में मीडिया से कोई बात नहीं की. अब अनुमान लगाया जा रहा है कि पंजाब में आम आदमी पार्टी के संगठन में फेरबदल होने पर उन्‍हें बड़ी जिम्‍मेदारी दी जा सकती है. वहीं, पंजाब की एक पार्टी भी उन्‍हें अपने खेमे में लाने की जुगत में लगी हुई है. पार्टी ने ये भी एलान कर दिया है कि अगर सिद्धू साथ आते हैं तो वे पंजाब विधानसभा चुनाव (Punjab Assembly Election) में सीएम चेहरा होंगे. हालांकि अभी भी नवजोत सिंह सिद्धू की ओर से कोई बयान नहीं आया है.

ये भी पढ़ें- अहमदाबाद में ट्रंप-मोदी के साथ दिग्गज क्रिकेटरों का भी लगेगा मेला

महाकाल एक्‍सप्रेस में भगवान शिव की सीट, ओवैसी ने साधा निशाना

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए चंडीगढ़ (पंजाब) से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 17, 2020, 11:52 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading