Assembly Banner 2021

NCB का बड़ा खुलासा, ड्रग्स तस्करी के लिए नाबालिग लड़कियों का हो रहा था इस्तेमाल

ड्रग्स तस्करी के लिए नाबालिग लड़कियों का हो रहा था इस्तेमाल.

ड्रग्स तस्करी के लिए नाबालिग लड़कियों का हो रहा था इस्तेमाल.

ड्रग्स तस्कर उसकी तस्करी के लिए कॉलेज जाने वाली नाबालिग लड़कियों का ज्यादातर इस्तेमाल करते थे. इसके एवज में ड्रग्स रैकेट चलाने वाले लड़कियों को या तो पैसे मिलते थे या फिर उन्हें ड्रग्स का आदी बना दिया जाता था.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 29, 2021, 6:29 PM IST
  • Share this:
मुंबई. नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (NCB) ने ड्रग्स तस्करी (Drug Smuggling) में बेहद चौंकाने वाला खुलासा किया है. NCB के मुताबिक मुंबई (Mumbai) में फैले ड्रग्स के जाल के बड़े ड्रग्‍स तस्कर ड्रग्स तस्करी के लिए नाबालिग लड़कियों का इस्तेमाल करते थे. इन नाबालिग लड़कियों के जरिए मुंबई के अलग-अलग इलाकों में ड्रग्स की तस्करी कराई जाती थी. ड्रग्स तस्कर ऐसा इसलिए करते थे ताकि पुलिस या नारकोटिक्स एजेंसियों को इसकी भनक न लगे और उनका धंधा चलता रहे. ड्रग्स तस्कर उसकी तस्करी के लिए कॉलेज जाने वाली नाबालिग लड़कियों का ज्यादातर इस्तेमाल करते थे. इसके एवज में ड्रग्स रैकेट चलाने वाले लड़कियों को या तो पैसे मिलते थे या फिर उन्हें ड्रग्स का आदी बना दिया जाता था.

एनसीबी ने जॉइंट डायरेक्टर समीर वानखेड़े ने बताया कि सुशांत केस में ड्रग्स एंगल सामने आने के बाद से NCB मुंबई के फैले ड्रग्स जाल को खत्म करने के लिए लगातार कार्रवाई कर रही है. NCB के निशाने पर वो तमाम ड्रग्स तस्कर हैं जो बच्चों को ड्रग्स का आदी बनाने के साथ-साथ पूरी मुंबई में ड्रग्स की तस्करी कर रहे हैं. NCB जिस तरह से लगातार छापेमारी कर रही है, उसके चलते ड्रग्स तस्कर तस्करी के लिए नई- नई मोडेस ओपेरंडी का सहारा ले रहे हैं.

इसे भी पढ़ें :- दाऊद की दूसरी ड्रग्स फैक्ट्री ध्वस्त, सब्जी बेचने की आड़ में चल रहा था नशे का कारोबार
दरअसल ड्रग्स तस्करों की इस मोडेस ओपेरंडी का खुलासा उस वक़्त हुआ जब NCB की टीम ने माहिम, अंधेरी और ठाणे के इलाकों में छापेमारी की और बड़ी मात्रा में एमडी, एलएसडी और कई अन्य ड्रग्स टेबलेट्स बरामद करते हुए 5 बड़े ड्रग्स पेडलरों को गिरफ्तार किया, जिसमें एक महिला भी शामिल है. यह वो ड्रग्स पेडलर्स हैं जो ड्रग्स तस्करी का बड़ा रैकेट चलाते हैं.



इसे भी पढ़ें :- कौन है इंटरनेशनल ड्रग्स सरगना किशन सिंह, जो यूके से सीधे पहुंचा तिहाड़

इनसे जब NCB ने पूछताछ की तो इस चौकाने वाली मोडेस ओपेरंडी का खुलासा किया. इन ड्रग्स तस्करों ने बताया कि पहले वो कॉलेज के लड़के-लड़कियों को ड्रग्स देकर उन्हें आदी बनाते थे और जब उन्हें इसकी लत लग जाती थी तो उसका फायदा उठाकर उनसे अलग-अलग इलाकों में ड्रग्स की तस्करी करवाते थे. इससे उन्हें खतरा भी कम रहता था. इस मामले में फिलहाल NCB कुछ अन्य ड्रग्स पेडलरों की तलाश में है जो इसी तरह का मोडेस ओपेरंडी का सहारा लेकर ड्रग्स तस्करी कर रहे हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज