अपना शहर चुनें

States

शिवसेना के साथ लंबी साझेदारी की तलाश में NCP, इधर 18 बागी कांग्रेस पार्षदों ने पार्टी छोड़ी

राकंपा प्रमुख शरद पवार (फाइल फोटो)
राकंपा प्रमुख शरद पवार (फाइल फोटो)

Maharashtra: राकंपा (NCP) ने भिवंडी-निजामपुर के डिप्टी मेयर इमरान अली मोहम्मद खान समेत कांग्रेस के 18 बागी कॉर्पोरेटर्स को पार्टी में शामिल कर लिया है. कांग्रेस के लिए इसे काफी बड़ा झटका माना जा रहा है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 24, 2020, 2:15 PM IST
  • Share this:
मुंबई. महाराष्ट्र में निकाय चुनाव (Local Body Elections) की तैयारियां शुरू हो चुकी हैं. इन्हीं तैयारियों के बीच राष्ट्रीय कांग्रेस पार्टी ने बुधवार को पार्टी नेताओं के साथ बैठक की. इस मीटिंग में साफ किया गया है कि पार्टी शिवसेना (Shivsena) के साथ लंबे समय तक राजनीति करने के लिए तैयार है. गौरतलब है कि राकंपा की इस मीटिंग में बीते लोकसभा और विधानसभा चुनाव हारने वाले नेताओं को बुलाया गया था.

इस मीटिंग को अजीत पवार और जयंत पाटिल समेत पार्टी के वरिष्ठ नेताओं ने संबोधित किया. अजीत पवार (Ajit Pawar) ने कहा, 'हम यह जानते हैं कि जब से महाविकास अघाड़ी सरकार का गठन हुआ है, तब से ही स्थानीय स्तर पर विवाद चल रहे हैं. लेकिन हम शिवसेना के साथ लंबे समय तक रहेंगे.' उन्होंने पार्टी के नेताओं से कहा, 'इसलिए इसी तरह से व्यवहार करें और विवादों को सुलझाएं.' कई मुद्दों पर जारी मतभेद के बावजूद एमवीए सरकार ने एक साल पूरा कर लिया है.

यह भी पढ़ें: गोवा में शरद पवार की सक्रियता ने बढ़ाई कांग्रेस की चिंता, राजनीतिक आधार में सेंधमारी का सता रहा डर



कांग्रेस सदस्यों ने थामा एनसीपी का हाथ
इस दौरान राकंपा ने भिवंडी-निजामपुर के डिप्टी मेयर इमरान अली मोहम्मद खान समेत कांग्रेस के 18 बागी कॉर्पोरेटर्स को पार्टी में शामिल कर लिया है. कांग्रेस के लिए इसे काफी बड़ा झटका माना जा रहा है. गौरतलब है कि क्रॉस वोटिंग में इन बागी कॉर्पोरेटर्स ने कोनार्क विकास अघाड़ी की उम्मीदवार प्रतिभा पाटिल के समर्थन में वोट किया था. जिसकी वजह से कांग्रेस की हार हुई थी. पार्टी ने इन बागी नेताओं के खिलाफ पहले ही अनुशासनात्मक कार्रवाई शुरू कर दी है.

कांग्रेस प्रवक्ता सचिन सावंत ने कहा कि ये नेता बागी हैं और इस मामले में जिला अध्यक्ष से रिपोर्ट मांगी है. उन्होंने कहा, 'बीते साल हुए मेयर चुनाव में पार्टी उम्मीदवार के खिलाफ वोट डालने वाले ये सभी बागी नेता हैं.' सावंत ने बताया, 'जिला अध्यक्ष ताहिर राशिद से मामले पर रिपोर्ट सौंपने के लिए कह दिया है.' बता दें कि पांच बड़े म्युनिसिपल कॉर्पोरेशन नवी मुंबई, औरंगाबाद, वसई-विरार, कल्याण-डोंबिवली और कोल्हापुर में अगले साल चुनाव होने हैं. इसके अलावा 2 जिला परिषद, 13 म्युनिसिपल काउंसिल और 83 नगर पंचायत में भी अगले साल चुनाव होंगे.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज