जेल में बंद दलितों और मुस्लिमों की संख्या ज्यादा, यूपी में सबसे बुरा हाल- NCRB डेटा

जेल में बंद दलितों और मुस्लिमों की संख्या ज्यादा, यूपी में सबसे बुरा हाल- NCRB डेटा
यूपी में सबसे ज्यादा दलित और मुस्लिम जेलों में बंद हैं.

नेशनल क्राइम रिकार्ड्स ब्यूरो (NCRB) ने देश की जेलों पर डेटा जारी किया है, जिसके अनुसार जेलों में बंद आदिवासी, दलित और मुस्लिमों की संख्या जनसंख्या में उनकी हिस्सेदारी के मुकाबले ज्यादा है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 30, 2020, 10:06 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. नेशनल क्राइम रिकार्ड्स ब्यूरो (NCRB) द्वारा हाल ही में देश की जेलों से जुड़ी एक रिपोर्ट के बाद सामने आया है कि आबादी में हिस्से के मुकाबले आदिवासी, दलित और मुस्लिम ओबीसी और सामान्य वर्ग के लोगों की अपेक्षा जेलों में ज्यादा बंद किए जा रहे हैं. वर्ष 2019 के आंकड़े यह भी बताते हैं कि हाशिए पर पड़े समूहों में मुसलमान एक ऐसा समुदाय है, जिनके दोषियों से ज्यादा अंडर ट्रायल मामले हैं. रिपोर्ट के अनुसार साल 2019 के आखिर तक देश भर की जेलों में 21.7% फीसदी दलित बंद थे. जेलों में अंडरट्रायल कैदियों में 21 फीसदी लोग अनुसूचित जातियों से थे. जनगणना में उनकी कुल आबादी 16.6 फीसदी हैं. आदिवासियों के मामले में भी अंतर बड़ा था.

गरीब छोटे-छोटे अपराधों के लिए लंबे समय तक जेल में बंद

आगे पढ़ें
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज