Home /News /nation /

Neha VS Maithili: नेहा सिंह राठौर को अपने गाने से मैथिली ठाकुर दे चुकी हैं जवाब, क्या इस बार भी दिखेगी ज़ुबानी जंग?

Neha VS Maithili: नेहा सिंह राठौर को अपने गाने से मैथिली ठाकुर दे चुकी हैं जवाब, क्या इस बार भी दिखेगी ज़ुबानी जंग?

नीतीश कुमार की सरकार पर नेहा ने अपने गानों से करारा हमला किया था. बाद में बिहार की एक और युवा लोक गायिका मैथली ठाकुर ने नेहा को अपने गीत से करारा जवाब दिया था.

नीतीश कुमार की सरकार पर नेहा ने अपने गानों से करारा हमला किया था. बाद में बिहार की एक और युवा लोक गायिका मैथली ठाकुर ने नेहा को अपने गीत से करारा जवाब दिया था.

Uttar Pradesh Election: दो साल पहले नेहा सिंह राठौर ने इस गाने के जरिए बिहार में एनडीए सरकार के कामकाज पर निशाना साधा था. उन्होंने अपने गाने में राज्य में कानून और व्यवस्था के खराब हालात का जिक्र किया था. शिक्षा, स्वास्थ्य और बेरोजगारी जैसे मुद्दों को उठाया था. साथ ही इसमें प्रवासी मजदूरों का दर्द बयां करने की भी कोशिश की गई थी.

अधिक पढ़ें ...

नई दिल्ली. मौसम चुनाव (Uttar Pradesh Election) का है तो ज़ुबानी जंग तो होगी ही. लेकिन इस बार माहौल थोड़ा अलग है. नेता के साथ-साथ कलाकार भी अपने शब्दों और गीतों के जरिए पार्टियों और नेताओं पर कटाक्ष कर रहे हैं. दो दिन पहले भोजपुरी फिल्म जगत के सुपरस्टार और बीजेपी के नेता रवि किशन ने योगी आदित्यनाथ सरकार की कामयाबियों को गिनाने के लिए गाना लॉन्च किया. लेकिन अब इस गाने का जवाब देने के लिए भोजपुरी की लोकगायिका नेहा सिंह राठौर ने नया सुर छेड़ दिया है. गीत के बोल हैं- यूपी में का बा…

चुनाव के दौरान गायकों के बीच खींचतान कोई नई बात नहीं है. ये दूसरा मौका है जब नेहा सिंह राठौर नेताओं पर तंज कसने के चक्कर में किसी स्टार कलाकार से भिड़ गई हैं. दो साल पहले बिहार का चुनाव आपको याद होगा. नीतीश कुमार की सरकार पर नेहा ने अपने गानों से करारा हमला किया था. बाद में बिहार की एक और युवा लोक गायिका मैथिली ठाकुर ने नेहा को अपने गीत से करारा जवाब दिया था. दोनों के गानों ने बिहार की राजनीति में खूब सुर्खियां बटोरी थीं.


नेहा Vs मैथिली
नेहा सिंह राठौर ने इस गाने के जरिए बिहार में एनडीए सरकार के कामकाज पर निशाना साधा था. उन्होंने अपने गाने में राज्य में कानून और व्यवस्था के खराब हालात का जिक्र किया था. शिक्षा, स्वास्थ्य और बेरोजगारी जैसे मुद्दों को उठाया था. साथ ही इसमें प्रवासी मजदूरों का दर्द बयां करने की भी कोशिश की गई थी. बाद में मैथिली ठाकुर ने इस गाने का अपना एक वर्जन लॉन्च किया था. जहां उन्होंने बिहार की बदलती तस्वीर का जिक्र किया था. खासकर उन्होंने मिथलांचल में विकास की बात की थी.

नेहा ने दिया जवाब
मामला इतना बढ़ गया कि बाद में नेहा सिंह ने मैथिली ठाकुर को सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म ट्विटर पर जवाब दिया था. वीडियो को शेयर करके हुए नेहा ने लिखा था- लोक-कलाकारों को लोक के हितों से समझौता नहीं करना चाहिए. इस बार भी माहौल बदल रहा है. अगर ऐसे में बीजेपी मैथिली ठाकुर की आवाज़ में इस गीत का नया वर्जन लेकर आ जाए तो किसी को हैरानी नहीं होनी चाहिए.

क्या है रवि किशन के गाने में
एक हफ्ते पहले रवि किशन ने जो गाना गाना लॉन्च किया था. उसके बोल थे- योगी के सरकार बा, विकास के बहार बा, सड़क के जाल बा, काम बेमिसाल बा, अपराधी के जेल बा, बिजली रेलम रिले बा, कोरोना गइल हार बा, यूपी में सब बा….

नेहा का रवि किशन को जवाब जवाब
इसके जवाब में नेहा सिंह ने गाया- कोरोना से लखन मर गेल ले, लाशन से गंगा भर गइल हो, काफान नोचट कुकर बिलर बा, ऐ बाबा, यूपी में का बा?…नेहा सिंह राठौर ने ऐलान किया कि वो इसका दूसरा पार्ट भी जल्द ही रिलीज करेंगी और अपने गीतों के जरिए वो जनता के मुद्दे को उठाएंगी.

Tags: Uttar Pradesh Assembly Election 2022

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर