होम /न्यूज /राष्ट्र /चीन के अतिक्रमण के खिलाफ नेपाल में हल्लाबोल, काठमांडू में युवाओं ने किया प्रदर्शन

चीन के अतिक्रमण के खिलाफ नेपाल में हल्लाबोल, काठमांडू में युवाओं ने किया प्रदर्शन

चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग (फाइल फोटो-AP)

चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग (फाइल फोटो-AP)

प्रधानमंत्री शेर बहादुर देउबा के नेतृत्व वाली सरकार ने हाल में समिति का गठन किया था. हालांकि सरकार ने अभी तक रिपोर्ट जा ...अधिक पढ़ें

    काठमांडू. महंत ठाकुर की अगुवाई वाली नेपाल की डेमोक्रेटिक सोशलिस्ट पार्टी (Democratic Socialist Party) से संबद्ध एक युवा संगठन ने नेपाल-चीन सीमा (Nepal-China Border) पर इस देश की जमीन पर कथित रूप से अतिक्रमण करने पर चीन के खिलाफ मंगलवार को यहां प्रदर्शन किया. डेमोक्रेटिक यूथ एसोसिएशन के करीब 200 सदस्यों ने ध्वज मन मोकतन के नेतृत्व में काठमांडू शहर के बीचोंबीच मैतीघर मंडाला में प्रदर्शन किया और पोस्टर लहराये जिन पर लिखा था ‘हमारी कब्जाई जमीन लौटा दो’.

    प्रदर्शनकारियों ने यह मांग भी उठाई कि नेपाल-चीन सीमा पर लीमी लापचा से हुमला जिले में हिल्सा तक चीन द्वारा कथित भूमि अतिक्रमण का अध्ययन करने के लिए बनाई गयी समिति की रिपोर्ट सरकार को सार्वजनिक करनी चाहिए.

    प्रधानमंत्री शेर बहादुर देउबा के नेतृत्व वाली सरकार ने हाल में समिति का गठन किया था. हालांकि सरकार ने अभी तक रिपोर्ट जारी नहीं की है.

    खबरों के अनुसार चीन ने नेपाल की जमीन पर कब्जा कर लिया है और पिछले साल हुमला में नौ इमारतों का निर्माण किया. चीन के दूतावास ने हाल में एक बयान जारी कर दावा किया था कि नेपाल और चीन के बीच कोई सीमा समस्या नहीं है.

    Tags: China, China and nepal

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें