• Home
  • »
  • News
  • »
  • nation
  • »
  • ड्रग्स रखने के मामले में जापान ने नेस वाडिया को सुनाई 2 साल की सज़ा

ड्रग्स रखने के मामले में जापान ने नेस वाडिया को सुनाई 2 साल की सज़ा

नेस वाडिया की फाइल फोटो

नेस वाडिया की फाइल फोटो

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, 283 साल पुराने वाडिया ग्रुप के वारिस और आईपीएल टीम किंग्स इलेवन पंजाब के सह-मालिक वाडिया को इस साल मार्च की शुरुआत में उत्तरी जापानी द्वीप होक्काइडो के न्यू चिटोज़ एयरपोर्ट पर गिरफ्तार किया गया था.

  • Share this:
    भारत के सबसे अमीर कारोबारी घरानों में शुमार वाडिया समूह के वारिस नेस वाडिया को जापान की एक अदालत ने स्कीइंग की छुट्टी के दौरान ड्रग्स रखने का दोषी पाते हुए 2 साल की सजा सुनाई है. फाइनेंशियल टाइम्स में छपी ख़बर के मुताबिक 283 साल पुराने वाडिया ग्रुप के वारिस और आईपीएल टीम किंग्स इलेवन पंजाब के सह-मालिक वाडिया को इस साल मार्च की शुरुआत में उत्तरी जापानी द्वीप होक्काइडो के न्यू चिटोज़ एयरपोर्ट पर गिरफ्तार किया गया था.

    स्निफर डॉग की मदद से पता चली ड्रग्स की बात
    सरकारी समाचार चैनल एनएचके के एक स्थानीय स्टेशन होक्काइडो की एक संक्षिप्त रिपोर्ट में बताया गया कि न्यू चिटोज़ के सीमा शुल्क अधिकारियों को स्निफर डॉग ने वाडिया को लेकर अलर्ट किया था. इसके बाद तलाशी ली गई तो वाडिया की पैंट की जेब में करीब 25 ग्राम कैनेबिस रेज़िन पाई गई.

    ये भी पढ़ें- प्रीति जिंटा को परेशान कर रहा था खरबपति बिजनेसमैन का बेटा, फिर डॉन रवि पुजारी ने उठाया था ये बड़ा कदम!

    फाइनेंशियल टाइम्स ने साप्पोरो की अदालत के एक अधिकारी के हवाले से बताया कि वाडिया ने यह स्वीकार किया कि यह ड्रग्स उनके निजी इस्तेमाल के लिए है. 20 मार्च को दोष साबित होने से पहले वाडिया को हिरासत रखा गया था. वाडिया को अदालत की सुनवाई से पहले अज्ञात अवधि के लिए नजरबंद भी रखा गया.

    ये भी पढ़ें- एलेक्‍स हेल्‍स इंग्‍लैंड क्रिकेट टीम से बाहर, ड्रग्‍स मामले के चलते हुआ फैसला

    जापान के मादक पदार्थ कानून बेहद सख्त हैं.आपराधिक वकीलों का कहना है कि इस वर्ष होने जा रहे रग्बी विश्व कप और 2020 के टोक्यो ओलंपिक से पहले इस कानून को कड़े तौर पर लागू किया गया है.

    47 साल के नेस वाडिया, ग्रुप के चेयरमैन नुस्ली वाडिया के सबसे बड़े बेटे हैं, जो कि फोर्ब्स के अनुसार, करीब 7 अरब डॉलर की कुल संपत्ति के साथ भारत के टॉप कारोबारियों में शामिल हैं.

    ये भी पढ़ें- प्रीति जिंटा छेड़छाड़ मामले में नेस वाडिया को राहत, हाईकोर्ट ने रद्द किया केस

    वाडिया समूह की सभी यूनिट्स के डायरेक्टर हैं नेस
    बता दें नेस, वाडिया समूह की सभी यूनिट्स के निदेशक हैं. इसी समूह को 1736 में ईस्ट इंडिया कंपनी के लिए जहाज बनाने का मसौदा मिला था. अब वाडिया समूह  के कारोबार में बिस्किट कंपनी ब्रिटेनिया और बजट एयरलाइन गोएयर तक शामिल हैं. जिसमें इसके सूचीबद्ध संस्थाओं का कुल बाजार मूल्य 13.1 अरब डॉलर है.

    एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज