नीदरलैंड ने भारत से आने वाली उड़ानों पर से हटाया प्रतिबंध, लागू किए क्वारंटीन के कड़े नियम

नीदरलैंड ने भारत की फ्लाइट्स पर से बैन हटा दिया है (फोटो: प्रतीकात्मक)

Netherland lifts flight ban: हालांकि यूरोपियन यूनियन ने अभी भी संघ के बाहर के उन देशों के यात्रियों के प्रवेश पर प्रतिबंध लगाया हुआ है जहां पर कोरोना वायरस के हालात ज्यादा जोखिम भरे हैं.

  • Share this:
    नई दिल्ली. नीदरलैंड (Netherlands) ने मंगलवार को भारत की फ्लाइट्स पर से प्रतिबंध हटा दिया है. भारत के अलावा नीदरलैंड ने दक्षिण और मध्य अमेरिका के साथ साथ दक्षिण अफ्रीका की उड़ानों से भी प्रतिबंध हटा दिया है. इन चारों ही देशों के यात्रियों को कोरोना की नेगेटिव रिपोर्ट दिखाने के बाद नीदरलैंड में प्रवेश की इजाजत मिलेगी. इसके साथ ही उन्हें नीदरलैंड में पहुंचने के बाद क्वारंटीन के नियमों का पालन करना होगा.

    हालांकि यूरोपियन यूनियन ने अभी भी संघ के बाहर के उन देशों के यात्रियों के प्रवेश पर प्रतिबंध लगाया हुआ है जहां पर कोरोना वायरस के हालात ज्यादा जोखिम भरे हैं. इस प्रतिबंध से ईयू के निवासियों के परिवार वालों, छात्रों और व्यापार के सिलसिले में यात्रा करने वालों को छूट मिली हुई है. इसके साथ ही नीदरलैंड ने 1 जून से क्वारंटीन के कड़े नियम लागू कर दिए हैं.

    ये भी पढ़ें- 'कॉकटेल थेरेपी' का एक डोज बचा सकती है कोरोना मरीजों की जिंदगी, ट्रायल शरू, जानें सबुकछ

    क्वारंटीन के नियमों का पालन होगा जरूरी
    हाई रिस्क वाले देशों से आने वाले लोगों को इन नियमों का कड़ाई से पालन करना होगा. इसके साथ ही नीदरलैंड ने फ्लाइट्स पर से आखिरी प्रतिबंध हटाते हुए क्वारंटीन से संबंधित कानून लागू कर दिया है.

    कानून के मुताबिक यात्रियों को नीदरलैंड पहुंचने के बाद अपनी पसंद की किसी जगह पर 10 दिन के लिए क्वारंटीन रहना होगा. अगर व्यक्ति कोरोना वायरस नेगेटिव हो जाता है तो क्वारंटीन की अवधि घटकर 5 दिन हो सकती है. हाई रिस्क वाले देशों जैसे कि अर्जेंटीना, बहरीन, ब्राजील, भारत और दक्षिण अफ्रीका से आने वाले लोगों के लिए यह क्वारंटीन अनिवार्य होगा.

    ये भी पढ़ें- कोरोना में काम करने वाले पत्रकारों को मिले मेडिकल सुविधाएं, SC में याचिका दायर

    नीदरलैंड ने 26 अप्रैल को भारत की स्थिति को देखते हुए भारत की फ्लाइट्स पर प्रतिबंध लगा दिया था.