लाइव टीवी

मुश्किलों का अंत नहीं: ईंट भट्ठा मजदूरों ने की घर भेजने की गुजारिश तो मिली पिटाई

News18Hindi
Updated: May 20, 2020, 5:36 AM IST
मुश्किलों का अंत नहीं: ईंट भट्ठा मजदूरों ने की घर भेजने की गुजारिश तो मिली पिटाई
ओडिशा के प्रवासी मजदूरों ने घर वापस भेजे जाने की अपील की (फोटो- News18)

पुलिस (Police) की जांच में पता चला है कि श्रमिकों (Labourers) को पानी जैसी सबसे बुनियादी और आवश्यक चीजों के बिना रखा जा रहा था.

  • Share this:
(पूर्णिमा मुरली)
चेन्नई.
तमिलनाडु (Tamil Nadu) में तिरुवल्लुर जिले के पुधुकुप्पम गांव में एक ईंट के भट्टे पर काम करने वाले सैकड़ों प्रवासी मजदूरों (Migrant Labourers) को भट्ठा मालिक और उसके गुर्गों ने सोमवार को पीटा. इन मजदूरों का कसूर यह था कि ये अपने मूल स्थानों पर लौटने की मांग कर रहे थे.

भावुक होकर जांच के लिए आए एक अधिकारी (Officer) के सामने हाथ जोड़कर लेट जाने से पहले ओडिशा (Odisha) की एक प्रवासी ने कहा, "हम अपने घर वापस जाना चाहते हैं." अपनी मातृभूमि पर वापस जाने का अनुरोध करने के लिए यह उसका अंतिम विकल्प का प्रयोग था.

तमिलानाडु के एक गांव के ईंट भट्ठे पर मर्जी के विरुद्ध रखे गए थे ये 400 प्रवासी



तमिलनाडु के इस गांव में एक ईंट के भट्ठे पर उनकी इच्छा के विरुद्ध लगभग 400 प्रवासियों (Migrants) को रखा गया था. कई बार अपने मालिक से अनुरोध करने के बाद, प्रवासियों ने काम बंद कर दिया और फिर बातचीत के रूप में जो शुरू हुआ वह उनके और मालिक के बीच टकराव में बदल गया.



कथित तौर पर ईंट कारखाने के मालिकों ने काम पर रखे गए गुर्गों से प्रवासी मजदूरों की पिटाई करवाई, जिसके चलते प्रवासियों में से दो को अस्पताल (Hospital) में भर्ती कराना पड़ा. मामले का संज्ञान लेते हुए, पुलिस ने एक मामला दर्ज किया है और भट्ठा के मालिक को गिरफ्तार करने के लिए तलाश जारी है.

'हमारे बच्चों को भी नहीं बख्शा जाता, हम यहां नहीं रुकना चाहते'
पुलिस (Police) की जांच में पता चला है कि श्रमिकों को पानी जैसी सबसे बुनियादी और आवश्यक जरूरत की चीजों के बिना रखा जा रहा था.

मानसवा नाम के एक मजदूर ने कहा, "पिछले पांच दिनों से पानी नहीं दिया जा रहा है. हम यहां कैसे रह सकते हैं? उसने यह भी कहा, "यहां हमें पीटा भी जाता है. यहां तक ​​कि बच्चों को भी नहीं बख्शा जाता. हम यहां नहीं रुकना चाहते."

यह दृश्य एक मनहूस भविष्य का लगता है. जो पूरे तमिलनाडु (Tamil Nadu) के प्रवासियों की वर्तमान दुर्दशा को दिखाता है.

यहां क्लिक करके पूरी रिपोर्ट अंग्रेजी में पढ़ें

यह भी पढ़ें: होटल में क्वारंटाइन किए गए लोगों का आरोप- मांगी गई 25 हजार की रिश्वत

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: May 19, 2020, 11:55 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading