अपना शहर चुनें

States

नई किताब में खुलासा- नेहरू ने 1962 की जंग के बाद उधार लेकर किया था सेना में सुधार

पंडित जवाहर लाल नेहरू (PTI)
पंडित जवाहर लाल नेहरू (PTI)

एशियन न्यूज इंटरनेशनल के अध्यक्ष और ऑक्टोजेरियन प्रेम प्रकाश ने अपनी किताब 'Reporting India – My Seventy Year Journey As A Journalist' में देश के पहले प्रधानमंत्री पंडित जवाहर लाल नेहरू (Pt. Jawahar Lal Nehru) के बारे में बड़ा खुलासा किया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 30, 2020, 4:30 PM IST
  • Share this:
(राशिद किदवई)

साल 1947 में देश आजाद होने के बाद पंडित जवाहर लाल नेहरू (Pt. Jawahar Lal Nehru) को देश की कमान सौंपी गई थी. अब एशियन न्यूज इंटरनेशनल के अध्यक्ष और ऑक्टोजेरियन प्रेम प्रकाश ने अपनी किताब 'Reporting India – My Seventy Year Journey As A Journalist' में देश के पहले प्रधानमंत्री जवाहर लाल नेहरू के बारे में बड़ा खुलासा किया है. किताब में एक अंश के मुताबिक, 'नेहरू को भारत-चीन युद्ध (1962) में हार के बाद सेना का आधुनिकीकरण करने के लिए अन्य देशों से उधार मांगना पड़ा था.' किताब के मुताबिक, नेहरू ने व्यक्तिगत रूप से इस हार के लिए खुद को जिम्मेदार भी ठहराया था.





चीन के खिलाफ पाकिस्तान से उम्मीद क्या नेहरू का ग़लत जजमेंट था?







भारत-चीन तनाव : क्यों याद किए जाने चाहिए नेहरू के वो एक लाख शब्द?

चीन ने उठाया इस बात का फायदा

आगे पढ़ें
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज