अपना शहर चुनें

States

कोरोना वैक्सीन पर आधारित नई कॉलर ट्यून जारी, अब नहीं सुनाई देगी अमिताभ बच्चन की आवाज

नयी कॉलर ट्यून में कोविड-19 टीकाकरण अभियान के बारे में जागरूकता फैलाने और अफवाहों पर लगाम कसने का संदेश है.
नयी कॉलर ट्यून में कोविड-19 टीकाकरण अभियान के बारे में जागरूकता फैलाने और अफवाहों पर लगाम कसने का संदेश है.

caller tune based on Covid-19 vaccine : नई कॉलर ट्यून में कहा गया है, ‘‘भारत में बनी वैक्सीन सुरक्षित और प्रभावी है. कोविड के विरूद्ध हमें प्रतिरोधक क्षमता देती है.’’ कॉलर ट्यून में लोगों से टीका पर विश्वास करने और अफवाहों पर ध्यान नहीं देने की अपील की गई है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 16, 2021, 6:18 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. कोरोना वायरस (Coronavirus) के खिलाफ दुनिया का सबसे बड़ा टीकाकरण अभियान (Covid-19 vaccinations) भारत में शुरू होने के साथ ही अधिकारियों ने टीका पर आधारित नयी कॉलर ट्यून (Caller tune) जारी की है जिसमें अभिनेता अमिताभ बच्चन (Amitabh bachchan) की जगह एक महिला की आवाज है.

नयी कॉलर ट्यून में कोविड-19 टीकाकरण अभियान (Caller tune on Corona vaccination) के बारे में जागरूकता फैलाने और अफवाहों पर लगाम कसने का संदेश है. कॉलर ट्यून की आवाज है, ‘‘नया साल कोविड-19 की वैक्सीन के रूप में नई आशा की किरण लेकर आया है.’’ कॉलर ट्यून में कहा गया है कि भारत में विकसित टीका बीमारी के खिलाफ सुरक्षित और प्रभावी है.

नई कॉलर ट्यून में दी गई है वैक्सीन की जानकारी
इसमें कहा गया है, ‘‘भारत में बनी वैक्सीन सुरक्षित और प्रभावी है. कोविड के विरूद्ध हमें प्रतिरोधक क्षमता देती है.’’ कॉलर ट्यून में लोगों से टीका पर विश्वास करने और अफवाहों पर ध्यान नहीं देने की अपील की गई है. नयी कॉलर ट्यून में कहा गया है, ‘‘भारतीय वैक्सीन पर भरोसा करें. अपनी बारी आने पर वैक्सीन जरूर लगवाएं. अफवाहों पर भरोसा ना करें.’’
ये भी पढ़ें: कोरोना वैक्सीन पर उठते सवालों के बीच BJP सांसद और तृणमूल विधायक ने लगवाया टीका



पहले सुनाई देती थी अमिताभ बच्चन की आवाज
पहले की कॉलर ट्यून में अमिताभ बच्चन की आवाज खांसी के साथ शुरू होती थी जिसके बाद कोविड-19 के लिए सावधानियां बरतने की सलाह दी जाती थी.

हाल में दिल्ली उच्च न्यायालय में एक जनहित याचिका दायर कर केंद्र से कॉलर ट्यून से अमिताभ बच्चन की आवाज हटाने का इस आधार पर निर्देश देने की मांग की गई थी कि वह खुद और उनके परिवार के कुछ सदस्य वायरस से संक्रमित हो गए थे.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज