LAC पर तैनात सैनिकों को मिलेगी इस अमेरिकी असॉल्ट राइफल की नई खेप

सिग सॉअर असॉल्‍ट राइफल. (File Photo)
सिग सॉअर असॉल्‍ट राइफल. (File Photo)

इन राइफलों (US-based SiG Sauer, the SiG 716) के पहले बैच में 72,000 राइफलें आ गई हैं और इसे सेना के इस्तेमाल के लिए उत्तरी कमान और अन्य जगहों पर भेजा जा चुका है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 6, 2020, 7:50 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. चीन के साथ लगती वास्तविक नियंत्रण रेखा (LAC) पर तैनात भारतीय सैनिकों को अमेरिकी सिग सॉअर असॉल्ट राइफल (US-based SiG Sauer, the SiG 716) की एक और खेप मिलने जा रही है. इन राइफलों के पहले बैच में 72,000 राइफलें आ गई हैं और इसे सेना के इस्तेमाल के लिए उत्तरी कमान और अन्य जगहों पर भेजा जा चुका है. भारतीय सेना को अपने आतंकवाद-रोधी अभियानों (Counter Terrorism Operation) को बढ़ावा देने के लिए सिग सॉयर असॉल्ट राइफलों की पहली खेप मिली थी.

सेना में राइफल बदलाव की प्रक्रिया
भारत ने फास्ट ट्रैक खरीद (एफटीपी) कार्यक्रम के तहत इन राइफलों की खरीद की थी. नई राइफल्स को मौजूदा भारतीय स्माल आर्म्स सिस्टम (Indian Small Arms System) 5.56x45mm राइफलों से बदला जाएगा जिनका इस्तेमाल अभी तक सुरक्षाबल कर रहे हैं. इस राइफलों का निर्माण स्थानीय रूप से आयुध कारखानों बोर्ड (Ordnance Factories Board) द्वारा निर्मित किया जाता है.

कुल 1.5 राइफल्स मंगानी थीं
अभी तक की योजना के मुताबिक सुरक्षाबल आतंकरोधी अभियानों और एलओसी पर मोर्चे पर तैनात जवान आयात की गई करीब 1.5 लाख राइफल्स का इस्तेमाल करेंगे. बाकी के बलों को एके-203 राइफल्स दी जाएंगी जिनका निर्माण भारत और रूस (Russia) ने संयुक्त रूप से अमेठी ऑर्डिनेंस फैक्ट्री (Amethi ordnance factory) में किया जाएगा. हाल ही में, रक्षा मंत्रालय ने लाइट मशीन गनों की खपत को पूरा करने के लिए इजरायल को 16,000 एलएमजी का ऑर्डर दिया है.



5 महीने से जारी है सीमा पर तनाव
गौरतलब है कि भारत और चीन के बीच LAC पर तनाव बीते पांच महीने से लगातार जारी है. भारत ने चीन के सीमाई अतिक्रमण का बेहद गंभीर तरीके से जवाब दिया है. जून में गलवान घाटी की घटना के बाद भारत ने बेहद सख्त रुख अख्तियार किया और सीमाई संप्रभुता को लेकर कठोर संदेश दिया है. भारत की तरफ से साफ किया जा चुका है कि सीमाओं पर अशांति के साथ चीन से संबंध सामान्य नहीं रह सकते.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज