Home /News /nation /

new mva traffic rules wearing wrong helmet 2000 rupees challan deducted know new road safety rules

हेलमेट पहनने के बावूजद भी कट सकता है 2000 रुपये का चालान, जानें लें ये नए रोड सेफ्टी रूल्स

भारतीय सड़कों पर दुर्घटना में होने वाली मौतों को कम करने के उद्देश्य से, केंद्र सरकार ने 1998 के मोटर व्हीकल एक्ट को अपडेट किया है. (File Photo)

भारतीय सड़कों पर दुर्घटना में होने वाली मौतों को कम करने के उद्देश्य से, केंद्र सरकार ने 1998 के मोटर व्हीकल एक्ट को अपडेट किया है. (File Photo)

भारतीय सड़कों पर दुर्घटना में होने वाली मौतों को कम करने के उद्देश्य से, केंद्र सरकार ने 1998 के मोटर व्हीकल एक्ट को अपडेट किया है. इसके साथ ही अब दोपहिया वाहन सवारों के लिए ठीक से हेलमेट नहीं पहनने, या लगाने पर 2,000 रुपये तक के तत्काल जुर्माने का प्रावधान कर दिया गया है.

अधिक पढ़ें ...

नई दिल्ली: जब सार्वजनिक सड़कों पर सुरक्षा की बात आती है, तो दोपहिया सवारों को अधिकतम जोखिम होता है. सुरक्षित रहने के लिए उनका सबसे अच्छा और असरदार हथियार हेलमेट है. अब, भारतीय सड़कों पर दुर्घटना में होने वाली मौतों को कम करने के उद्देश्य से, केंद्र सरकार ने 1998 के मोटर व्हीकल एक्ट को अपडेट किया है. इसके साथ ही अब दोपहिया वाहन सवारों के लिए ठीक से हेलमेट नहीं पहनने, या लगाने पर 2,000 रुपये तक के तत्काल जुर्माने का प्रावधान कर दिया गया है.

निम्नलिखित स्थितियों में 2,000 रुपये तक का जुर्माना लगाया जा सकता है

1. यदि बाइक सवार ने हेलमेट पहना हुआ है लेकिन बकल (गले में बांधने वाला फीता) खुला हुआ है, इस पर एमवीए की धारा 194डी के तहत 1,000 रुपये का जुर्माना लगाया जाएगा.

2. यदि हेलमेट पर ओरिजिनल बीएसआई (भारतीय मानक ब्यूरो) प्रमाणन नहीं है तो आपसे एमवीए की धारा 194डी के तहत 1,000 रुपये का जुर्माना लगाया जा सकता है. बिना बीआईएस के हेलमेट आपके सिर की सुरक्षा नहीं कर पाते और दुर्घटना के वक्त अक्सर टूट जाते हैं। ऐसे में सिर्फ चालान के लिए ही नहीं बल्कि अपने लिए भी अच्छा हेलमेट पहनिए.

3. हेलमेट आपके जीवन की सुरक्षा के लिए है. ऐसे में यदि आप डिफेक्टिव या फिर टूट हेलमेट पहनते हैं तो यह आपके किसी काम का नहीं है. यही समझाने के लिए ट्रैफिक पुलिस आपका 1000 रुपये का चालान काट सकती है.

4. अन्य यातायात उल्लंघन जैसे रेड लाइट जम्प करने पर भी हेलमेट पहनने के बावजूद 2,000 रुपये का भारी जुर्माना लगाया जाएगा.

बिना बीआईएस मार्क वाला हेलमेट बेचना अपराध
स्ट्रैप लॉक वाला हेलमेट पहनना बेहद जरूरी है क्योंकि इसके बिना दुर्घटना की स्थिति में हेलमेट उड़ सकता है. हेलमेट अधिकतम सुरक्षा प्रदान करे, इसके लिए सिर के चारों ओर उसके मजबूती से रहने की आवश्यकता होती है और यही कारण है कि स्ट्रैप लॉक जरूरी होता है. अक्सर देखा जाता है कि कई दोपहिया वाहन चालक, चालान से बचने के लिए अपने सिर पर बस नाम मात्र का हेलमेट लगा लेते हैं. केंद्र सरकार ने 2 साल पहले भारतीय मानक ब्यूरो (बीआईएस)-प्रमाणित हेलमेट को अनिवार्य किया था. इसके तहत बिना बीआईएस प्रमाणित हेलमेट का निर्माण और बिक्री भी अपराध की श्रेणी में आता है.

बच्चों के लिए भी हेलमेट और हार्नेस बेल्ट जरूरी
सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय ने हाल ही में रोड सेफ्टी रूल्स को अपडेट करते हुए टू-व्हीलर पर 4 साल से कम उम्र के बच्चों को ले जाने के लिए नए नियम बनाए थे. इसके तहत स्कूटर या बाइक पर बच्चे को ले जाते समय हेलमेट और हार्नेस बेल्ट जरूरी है. इसके अलावा टू-व्हीलर की स्पीड 40 किमी प्रति घंटा से ज्यादा नहीं हो सकती. नए यातायात नियमों का उल्लंघन करने पर 1,000 रुपये का जुर्माना लगाया जा सकता है. साथ ही चालक के ड्राइविंग लाइसेंस को तीन महीनों के लिए निलंबित किया जा सकता है.

Tags: Motor Vehicle Act, Nitin gadkari, Traffic rules

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर