Home /News /nation /

Ministry of Road Transport: बाइक पर बच्‍चों को बैठाने के लिए बने सख्‍त नियम, जानें कब से लागू होंगे?

Ministry of Road Transport: बाइक पर बच्‍चों को बैठाने के लिए बने सख्‍त नियम, जानें कब से लागू होंगे?

बाइक पर बच्‍चों के लिए इस तरह के सेफ्टी हार्नेस का इस्तेमाल करना होगा.

बाइक पर बच्‍चों के लिए इस तरह के सेफ्टी हार्नेस का इस्तेमाल करना होगा.

New Rules Ride Bike with Kids- Ministry of Road Transport and Highways ने बाइक में चार साल तक के बच्‍चे को बैठाने के लिए नियम सख्‍त कर दिए हैं. Road Accidents के दौरान बच्‍चों की सुरक्षा को लेकर यह फैसला लिया गया है. नियमों का उल्‍लंघन करने पर जुर्माना लगाया जाएगा. मंत्रालय ने इससे संबंधित नोटिफिकेशन जारी कर दिया है. अधिकारियों के अनुसार नये नियम के जनवरी 2023 से लागू होने की पूरी संभावना है. चार साल तक के बच्‍चे को बाइक में चालक के साथ बांधने के लिए हार्नेस बेल्‍ट लगाना जरूरी है. इसके साथ ही स्‍पीड लिमिट 40 किमी प्रति घंटे रखी गई है.

अधिक पढ़ें ...

    नई दिल्‍ली. केन्‍द्र सरकार ने बाइक में चार साल तक के बच्‍चे को बैठाने के लिए नियम सख्‍त New Rules कर दिए हैं. बच्‍चों की सुरक्षा को लेकर यह फैसला ि‍लया गया है. नियमों का उल्‍लंघन करने पर जुर्माना लगाया जाएगा. सड़क परिवहन व राजमार्ग मंत्रालय ने इससे संबंधित नोटिफिकेशन जारी कर दिया है. मंत्रालय के अधिकारियों के अनुसार नियम के जनवरी 2023 से New Rules लागू होने की पूरी संभावना है.

    सड़क परिवहन व राजमार्ग मंत्रालय द्वारा जारी दोपहिया वाहनों पर सवार बच्‍चों की सुरक्षा के लिए नए नियम बनाए हैं. नए नियम लागू होने के बाद सड़क हादसे के वक्‍त अगर बाइक में बच्‍चा सवार होगा, तो उछल कर रोड पर नहीं गिरेगए और कैजुअल्‍टी की की संभावना कम होगी. मंत्रालय ने अभी नोटिफिकेशन जारी कर आपत्तियों के लिए एक माह का समय दिया है. इसके बाद मोटर व्‍हीकल एक्‍ट में संशोधन हो जाएगा, जिससे यह कानून बन जाएगा.

    जनवरी 2023 तक लागू होगा
    सड़क परिवहन व राजमार्ग मंत्रालय के अधिकारियों के अनुसार यह नोटिफिकेशन पर आपत्तियों देने का समय 30 यानी नवंबर अंत तक है. अगर आपत्तियां आती हैं तो उनका समाधान किया जाएगा. इसके बाद गजट जारी कर संशोधन कर दिया जाएगा. नोटिफिकेशन में स्‍पष्‍ट किया गया है कि संशोधन के एक साल बाद लागू हो जाएगा. यानी दिसंबर तक आपत्तियों का निपटारा होने के बाद संशोधन कर दिया जाएगा और एक साल बाद जनवरी 2023 में यह लागू हो जाएगा. नए नियम का पालन करने पर चालान किया जाएगा.

    इसलिए पड़ी नए नियम की जरूरत

    सड़क हादसों में होने वाली कुल मौतों में 37 फीसदी यानी 56000 के करीब बाइक सवार होते हैं. इनमें तमाम बच्‍चे भी शामिल होते हैं तो हादसे पर झटका लगने के बाद रोड पर गिरते हैं और हादसे का शिकार हो जाते हैं, कई मामलों में बाइक सवार बच जाता है लेकिन बच्‍चे का चपेट में आ जाता है. इसलिए सख्‍त नियम बनाने की जरूरत पड़ी है.

    ये हैं नए नियम
    – नए नियम के अनुसार 4 साल तक के बच्चे को मोटरसाइकिल पर बैठाकर ले जाते समय बाइक, स्कूटर, स्कूटी जैसे दोपहिया वाहनों की स्पीड लिमिट 40 किमी प्रति घंटे से ज्‍यादा नहीं होनी चाहिए.
    – दोपहिया वाहन चालक के साथ बैठने वाले 9 महीने से 4 साल तक के बच्चे को क्रैश हैलमेट पहनना अनिवार्य है.
    – मोटरसाइकिल चालक यह सुनिश्चित करेगा कि 4 साल से कम उम्र के बच्चों को अपने साथ बाइक या स्कूटर पर अपने साथ बांधे रखने के लिए सेफ्टी हार्नेस का इस्तेमाल करेगा.

    देश में वाहनों की संख्या

    -देश में कुल पंजीकृत वाहनों की संख्या 24 करोड़ के करीब
    – दो पहिया वाहनों की संख्या 15 करोड़
    -7 करोड़ के करीब बस, ट्रक और कारें हैं देश में
    -2.5 करीब करोड़ डीजल की कारें हैं

    Tags: Nitin gadkari, Road Accidents, Road and Transport Ministry

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर