• Home
  • »
  • News
  • »
  • nation
  • »
  •  नई तकनीक से खतरनाक मोड़ पर रुकेंगे सड़क हादसे, जानें क्‍या है तकनीक

 नई तकनीक से खतरनाक मोड़ पर रुकेंगे सड़क हादसे, जानें क्‍या है तकनीक

स्‍मार्ट फोन रडार तकनीक से तीव्र मोड़ पर होने वाले सड़क हादसों में कमी आएगी.

स्‍मार्ट फोन रडार तकनीक से तीव्र मोड़ पर होने वाले सड़क हादसों में कमी आएगी.

तीव्र मोड़ पर road accidents को रोकने के लिए Hindustan Petroleum ने जम्‍मू कश्‍मीर में smart phone radar technology ईजाद की है. जिससे दोनों ओर आने वाहन चालकों को पता चल जाता है कि सामने से वाहन आ रहा है, वे अपनी-अपनी स्‍पीड धीमी कर लेते हैं और एक दूसरे को पास कर जाते हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated :
  • Share this:

नई दिल्‍ली. तीव्र मोड़ (sharp turns) पर सड़क हादसों (road accidents) को रोकने के लिए हिन्‍दुस्‍तान पेट्रोलियम (Hindustan Petroleum) ने जम्‍मू-कश्‍मीर में नई तकनीक का इस्‍तेमाल किया है, जिसकी मदद से दोनों ओर से आने वाले वाहनों को अलर्ट कर दिया जाता है, जिससे चालकों का पता चल जाता है कि सामने से वाहन आ रहा है, वे अपनी-अपनी स्‍पीड धीमी कर लेते हैं और एक दूसरे को पास कर जाते हैं. यह नई तकनीक हिन्‍दुस्‍तान पेट्रोलियम द्वारा शुरू की गई है. इस तकनीक के इस्‍तेमाल से अंधे मोड़ में होने वाले हादसों में कमी आएगी.

तीव्र या अंधे मोड़ पर खासकर पहाड़ी इलाकों में सबसे अधिक सड़क हादसे होते हैं. दरअसल दोनों ओर से आ रहे  वाहन चालकों को पता नहीं होता है कि सामने से भी वाहन आ रहा है. ऐसे में अचानक वाहन सामने आने पर चालक नियंत्रण खो देता है जो हादसे का कारण बनता है. इस तरह के हादसों को रोकने के लिए हिन्‍दुस्‍तान पेट्रोलियम ने ऐसे स्‍थानों पर नई तकनीक की मदद से हादसों को कम करने का प्रयास किया है. इस तकनीक से दोनों ओर से आने वाले वाहनों को हॉर्न बजाकर अलर्ट किया जाता है. जिससे वे अपनी स्‍पीड धीमी कर एक दूसरे को पास करते हैं.

कैसे काम करती है तकनीक

इस तकनीक से जुड़े इंजीनियर कनल सेबास्‍टीयिन के अनुसार इसमें स्‍मार्ट फोन रडार तकनीक का इस्‍तेमाल किया गया है.  वाहन चालक हॉर्न से अलर्ट होते हैं. इसलिए तीव्र मोड़ के दोनों ओर स्‍मार्ट फोन रडार लगाए गए हैं, जो दोनों ओर से आ रहे वाहन की स्‍पीड रीड कर हॉर्न बजाकर दोनों चालकों को अलर्ट करते हैं, इससे चालक को पता चल जाता है कि सामने की ओर से कोई  वाहन आ रहा है, जिससे दोनों अपनी अपनी स्‍पीड धीमी कर लेते हैं और आराम से पास कर लेते हैं. हिन्‍दुस्‍तान पेट्रोलियम द्वारा शुरू की गई यह तकनीक देश के ऐसे खतरनाक मोड़ पर इस्‍तेमाल की जाएगी.

देश में सड़क हादसे और मरने वालों की संख्या

वर्ष                                हादसे                                           मौत                           घायल

2015                            501423                                    146133                        500279

2016                            480652                                    150785                        494624

2017                            464910                                    147913                        470975

2018                            467044                                    151417                        469418

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज