अब बदला लेने पर उतारू हुए आतंकी, भारतीय सेना को निशाना बनाने की रच रहे साजिश

सेना ने आतंकियों को सख्‍त संदेश दिया है. (सांकेतिक तस्वीर: Shutterstock)

सेना ने आतंकियों को सख्‍त संदेश दिया है. (सांकेतिक तस्वीर: Shutterstock)

Jammu Kashmir: आतंकी संगठनों द्वारा अब कश्मीर के प्रमुख सफल अभियानों में शामिल जमीनी कमांडरों और सुरक्षा बलों के जवानों को निशाना बनाकर बदला लेने की योजना बनाई जा रही है.

  • Share this:
नई दिल्ली. जम्मू-कश्मीर (Jammu Kashmir) में शांति स्थापित करने के लिए भारतीय सेना (Indian Army) लगातार काम कर रही है. विशेष अभियान के तहत जो आतंकी अपने घर लौटना चाहते हैं सेना उन्हें मौका दे रही है. हालांकि आतंकियों को ये बात बिल्कुल भी पसंद नहीं आ रही है.

इसी बीच खबर है कि आतंकी संगठन लश्कर-ए-तैयबा (एलईटी) और हिजबुल मुजाहिदीन कश्मीर घाटी में जमीन हासिल करने की फिराक में है. आतंकी संगठनों द्वारा अब कश्मीर के प्रमुख सफल अभियानों में शामिल जमीनी कमांडरों और सुरक्षा बलों के जवानों को निशाना बनाकर बदला लेने की योजना बनाई जा रही है.

सेना ने कमांडर्स को किया और सतर्क

भारतीय सेना के अधिकारी ने कहा कि इंटरसेप्शन और लोकल ग्राउंड इंटेलिजेंस के माध्यम से खुफिया जानकारी एकत्र करने की कोशिश की जा रही है. इस तरह का इनपुट मिलते ही कश्मीर में सुरक्षा बलों ने जमीनी स्तर के कमांडरों को सतर्क कर दिया है. खासकर उन कमांडर्स को जो बड़े आतंकी ऑपरेशन को अंजाम देने में पिछले दिनों कामयाब हुए हैं.
शोपियां और त्राल में 7 आतंकवादी ढेर

बता दें कि महज एक दिन पहले ही जम्मू-कश्मीर के शोपियां और त्राल में सुरक्षाबलों को बड़ी कामयाबी हासिल हुई है. बता दें कि शोपियां में रातभर चली मुठभेड़ में सुरक्षाबलों ने 5 आतंकवादियों को मार गिराया है. जबकि त्राल मुठभेड़ में 2 आतंकियों के मारे जाने की खबर है. मिली जानकारी के मुताबिक त्राल मुठभेड़ में अंसार गजवत-उल-हिंद का प्रमुख आतंकी इम्तियाज शाह मारा गया है. जो बुरहान वानी का चचेरा भाई था.





चार सुरक्षाकर्मी हुए जख्मी

पुलिस ने प्राप्त जानकारी के मुताबिक शोपियां मुठभेड़ गुरुवार की शाम शुरू हुई. जिसमें पांच आतंकवादियों को मार गिराया गया. वहीं, चार सुरक्षाकर्मी जख्मी हो गए हैं. शुरुआती जानकारी में 3 आतंकियों के मारे जाने की पुष्टि हुई थी. जबकि दो आतंकवादी मस्जिद में छिपे हुए थे और वहां से लगातार गोलियां चला रहे थे. हालांकि 5 आतंकवादी मुठभेड़ में मारे जा चुके हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज