लाइव टीवी

भगवान के कोड वर्ड से नए साल के लिए बेच रहे ड्रग्‍स

Vivek Gupta | News18Hindi
Updated: December 20, 2017, 10:11 PM IST
भगवान के कोड वर्ड से नए साल के लिए बेच रहे ड्रग्‍स
भगवान के कोड वर्ड से नए साल के लिए बेच रहे ड्रग्‍स

नए साल की पार्टी की तैयारियां अभी से शुरू हो गईं हैं. इसी के साथ-साथ मुंबई और गोवा के बड़े ड्रग्स तस्करों ने भी नए साल के मौके पर ड्रग्स के काले कोराबार में करोड़ों की कमाई का प्लान तैयार कर लिया है. इसे देखते हुए मुंबई पुलिस की एंटी नार्कोटिक सेल ने इन ड्रग्स तस्करों पर नकेल कसने के लिए अभी से बड़े-बड़े ड्रग्स तस्करों औऱ ड्रग्स की खेप को पकड़ना शुरू कर दिया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 20, 2017, 10:11 PM IST
  • Share this:
नए साल की पार्टी की तैयारियां अभी से शुरू हो गईं हैं. इसी के साथ-साथ मुंबई और गोवा के बड़े ड्रग्स तस्करों ने भी नए साल के मौके पर ड्रग्स के काले कोराबार में करोड़ों की कमाई का प्लान तैयार कर लिया है. इसे देखते हुए मुंबई पुलिस की एंटी नार्कोटिक सेल ने इन ड्रग्स तस्करों पर नकेल कसने के लिए अभी से बड़े-बड़े ड्रग्स तस्करों औऱ ड्रग्स की खेप को पकड़ना शुरू कर दिया है.

मुंबई पुलिस की एंटी नार्कोटिक सेल भी मानती है की नए साल के मौके पर मुंबई और आस-पास के इलाकों में सबसे ज्यादा ड्रग्स की मांग होती है और ड्रग्स का काला कारोबार नए-नए कोड वर्ड के साथ चलता है, जिसे पुलिस को क्रैक करना आसान नहीं होता है.

मुंबई पुलिस की एंटी नार्कोटिक सेल कसी कमर
नए साल के आगाज़ में अब कुछ ही दिन बचे हैं. एक तरफ नए साल के मौके पर ड्रग्स तस्कर मुंबई और आस-पास के इलाकों में ड्रग्स के कारोबार में करोड़ों कमाने के फिराक में हैं तो वहीं दूसरी तरफ इन ड्रग्स तस्करों पर नकेल कसने के लिए मुंबई पुलिस की एंटी नार्कोटिक सेल ने अपनी पूरी तैयारी कर रखी है. एंटी नार्कोटिक सेल के अधिकारियों की मानें तो इस बार ड्रग्स तस्कर अपने कोड वर्ड में भगवान का नाम का साहार ले रहे है. ताकी पुलिस औऱ जांच एंजेसियों को ड्रग्स के कारोबारियों पर जरा भी शक न हो. क्योंकी ड्रग्स तस्करों के लगभग सभी कोड वर्ड पुलिस औऱ जांच एंजेसियों ने तोड़ दिए हैं, इसलिए इस बार भगवान के नाम पर ड्रग्स को बेचने के तैयारी चल रही है.

भगवान के नाम के साथ लोगो भी तैयार
मुंबई पुलिस के एंटी नार्कोटिक सेल के डीसीपी शिवदीप लांडे ने बताया कि इस बार ड्रग्‍स के अलग-अलग कोड वर्ड हैं, इस बार यह लोग रिलिजन के नाम पर इसका कारोबार कर रहे हैं. हर भगवान के नाम का एक लोगो होता है, जो इनका कोड वर्ड होता है.

मुंबई से एक ड्रग्‍स तस्‍कर गिरफ्तारमुंबई पुलिस की एंटी नार्कोटिक सेल ने बकुल चांदरिया नाम के एक बड़े ड्रग्स तस्कर को गिरफ्तार किया है. एंटी नार्कोटिक सेल के अधिकारियों ने बकुल चांदरिया को मुंबई के खार इलाके के उसके घर से गिरफ्तार किया है. बताया जाता है कि गिरफ्तारी के समय बकुल के पास से लगभग 15 लाख रुपए के कोकीन और एलएसडी जैसे पार्टी ड्रग्स बरामद किए गए है. मुंबई पुलिस का मानना है की बकुल के ग्राहक मुंबई और आस-पास के कई बड़े लोग हैं जो ड्रग्स बकुल से खरिदते थे. पुलिस को शक है की पकड़ा गया ड्रग्स तस्कर बॉलिवुड से जुड़े कई लोगों के साथ संपर्क में था और कई बड़े कलाकारों को ड्रग्‍स देता था.

कोकीन और एलएसडी की मांग
एंटी नार्कोटिक सेल के अधिकारियों का मानना है की नए साल के मौके पर सबसे ज्यादा महंगे ड्रग्स जैसे कोकीन और एलएसडी की मांग होती है. क्योंकी इसका असर काफी देर तक और काफी तेज़ होता है. औऱ यह दोनों ड्रग्स काफी महंगे होते हैं, इसलिए इसका इस्तमाल बड़ी-बड़ी पार्टियों में ज्यादा होता है. इस बार कोकीन और एलएसडी को भी भगवान के नाम से कोड वर्ड दिए गए है.

एक ग्राम ड्रग्‍स की कीमत 5-10 हजार
डीसीपी शिवदीप लांडे के मुताबिक कोकेन और एलएसडी ड्रग्स काफी महंगे होते है. एक ग्राम की कीमत 5 से 10 हजार रुपए होती है. यह ड्रग्स बड़ी-बड़ी सेलिब्रिटी और कई बड़े लोग इस्तेमाल करते हैं. पुलिस का मानना है की नए साल की पार्टी की सारी तैयारी सोशल मीडिया औऱ इंटरनेट के जरिए होती है. सबसे पहले कोड वर्ड में सारे मैसेज सोशल मीडिया फेसबुक पर डाले जाते हैं, जिसके बाद उस फेसबुक के सभी लोग एक-एक पार्टी में जुड़ते हैं.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 20, 2017, 10:11 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर