LIVE NOW

LIVE: तीन सीटों वाली BJP के पास सारी ताकतें, ये कैसा लोकतंत्र है- केजरीवाल

देश, दुनिया, मनोरंजन, मनी, मोबाइल-टेक और ट्रेंडिंग खबरों के लिए बने रहें...

Hindi.news18.com | February 15, 2019, 3:55 PM IST
facebook Twitter Linkedin
Last Updated February 15, 2019
सुप्रीम कोर्ट ने गुरुवार को केंद्र सरकार और दिल्ली सरकार के बीच शक्तियों के बंटवारे से जुड़ी याचिकाओं पर फैसला सुनाया. जस्टिस एके सीकरी और जस्टिस अशोक भूषण की बेंच ने प्रशासनिक अधिकारियों की नियुक्ति और तबादले को लेकर अलग-अलग राय जाहिर की. हालांकि यह साफ किया कि दिल्ली पुलिस का नियंत्रण दिल्ली सरकार के पास नहीं केंद्र के पास होगा. इसके साथ ही केजरीवाल सरकार को बड़ा झटका देते हुए जस्टिस सीकरी ने कहा कि एंटी करप्शन ब्यूरो का नियंत्रण उपराज्यपाल के पास रहेगा.

पिछले साल 4 जुलाई को सुप्रीम कोर्ट की संविधान पीठ ने दिल्ली सरकार बनाम एलजी अधिकार विवाद में सिर्फ संवैधानिक प्रावधानों की व्याख्या की थी. पांच सदस्यीय संविधान पीठ ने कहा था कि कानून बनाना दिल्ली सरकार का अधिकार है. संविधान पीठ ने इस बात को सर्वसम्मति से माना था कि असली शक्ति मंत्रिमंडल के पास है और चुनी हुई सरकार से ही दिल्ली चलेगी. कोर्ट ने उस वक्त कहा था कि कानून व्यवस्था, पुलिस और ज़मीन को छोड़ कर बाकी मामलों में उपराज्यपाल स्वतंत्र रूप से काम नहीं कर सकते. सुप्रीम कोर्ट ने साफ किया था कि उपराज्यपाल अनिल बैजल को स्वतंत्र फैसला लेने का अधिकार नहीं है और उन्हें मंत्रिपरिषद की मदद और सलाह पर काम करना होगा

केंद्र सरकार ने दो साल के अंदर दूसरी बार रेलवे बोर्ड के पूर्व अध्यक्ष अश्विनी लोहानी को एयर इंडिया का अध्यक्ष एवं प्रबंध निदेशक नियुक्त किया है. सरकार ने बुधवार को इस संबंध में आदेश जारी किया. लोहानी आज पद संभालेंगे.

देश, दुनिया, मनोरंजन, मनी, मोबाइल-टेक और ट्रेंडिंग खबरों के लिए बने रहें...


 
3:57 pm (IST)

भारतीय जनता पार्टी के प्रवक्ता ने कहा केजरीवाल को सुप्रीम से माफी मांगनी चाहिए, कोर्ट के खिलाफ आपत्तिजनक शब्दों का इस्तेमाल किया गया.

2:56 pm (IST)

अरविंद केजरीवाल की प्रेस कॉन्फ्रेंस पर संबित पात्रा ने कहा, 'यह आश्चर्यजनक है कि जनता द्वारा चुने गए एक मुख्यमंत्री इस तरह की भाषा का इस्तेमाल कर सकते हैं. वह हमेशा से अराजकतावादी रहे हैं. संविधान को ताक पर रखकर वह कानून का उल्लंघन करते हैं.'


1:20 pm (IST)

हमारे मन में देश को लेकर चिंता है. 5 साल में देश के अंदर भाईचारे को खत्म किया गया. नोटबंदी की गई, लाखों लोग बेरोजगार हुए. सारे इंस्टीट्यूशन खत्म कर दिए गए- केजरीवाल

1:18 pm (IST)

हमारे पास रिव्यू का ऑप्शन है. अगर हमें फ़ाइल क्लियर करने के लिए एलजी ऑफिस में धरना देना पड़े तो कैसे सरकार चलेगी. इस लोकसभा चुनाव में आप पीएम बनाने के लिए वोट मत डालना. इस बार आप दिल्ली को पूर्ण राज्य का अधिकार दिलाने के लिए वोट डालना. दिल्ली के लोग हमें सातों सीट पर जीत दिलाएं तो हम वादा करते हैं कि हम केंद्र को दिल्ली को पूर्ण राज्य बनाने के लिए उनको बाध्य कर देंगे- अरविंद केजरीवाल

1:14 pm (IST)

अगर कोई अधिकारी काम नहीं करेगा तो सरकार कैसे चलेगी. हमें 70 में से 67 सीटें मिली लेकिन हम ट्रांसफर-पोस्टिंग नहीं कर सकते. जिस पार्टी को 3 सीट मिली उसके पास ट्रांसफर-पोस्टिंग का पावर होगा. ये कैसा जनतंत्र है. ये कैसा ऑर्डर है. अगर सारी ताकत विपक्षी पार्टी को दे दी जाए तो वो काम ही नहीं करने देंगे. अगर विपक्षी पार्टी ऐसे अधिकारी को नियुक्त दी जो मंत्री का फोन ही न उठाये तो काम कैसे होगा? कैसे स्कूल बनेंगे, कैसे मोहल्ला क्लीनिक बनेगा?- केजरीवाल

1:12 pm (IST)

आज सुप्रीम कोर्ट का जजमेंट आया है, ये बेहद दुर्भाग्यपूर्ण है और दिल्ली के लोगों के साथ बहुत बड़ा अन्याय है. हम सुप्रीम कोर्ट का सम्मान करते हैं लेकिन ये फैसला दिल्ली और दिली की लोगों के लिए अन्याय है- अरविंद केजरीवाल

1:05 pm (IST)

सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित कर रहे हैं अरविंद केजरीवाल


12:23 pm (IST)

सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद आम आदमी पार्टी ने फिल्म दामिनी में सनी देओल के कोर्ट सीन का वीडियो ट्वीट किया, 'इंसाफ नहीं मिला, मिली सिर्फ तारीख पर तारीख'


11:12 am (IST)

11:02 am (IST)

जस्टिस भूषण ने कहा कि प्रशासनिक सेवाएं दिल्ली सरकार के कार्यक्षेत्र से पूरी तरह बाहर हैं. अब इस पर तीन जजों की बेंच फैसला सुनाएगी.

LOAD MORE

News18 चुनाव टूलबार

  • 30
  • 24
  • 60
  • 60
चुनाव टूलबार