लाइव टीवी

News18 Chaupal : मुख्‍तार अब्‍बास नकवी ने कहा- अफवाहों से अमन को अगवा करने की हो रही है कोशिश

News18Hindi
Updated: December 18, 2019, 7:14 PM IST
News18 Chaupal : मुख्‍तार अब्‍बास नकवी ने कहा- अफवाहों से अमन को अगवा करने की हो रही है कोशिश
न्‍यूज18 इंडिया के कार्यक्रम चौपाल में नागरिकता कानून पर बोलते हुए केंद्रीय मंत्री मुख्‍तार अब्‍बास नकवी ने विपक्ष को आड़े हाथ लिया.

न्‍यूज18 इंडिया के कार्यक्रम चौपाल (News18 Chaupal) में नागरिकता संशोधन कानून 2019 (Citizenship Amendment Bill 2019) पर चर्चा के दौरान अल्‍पसंख्‍यक मामलों के केंद्रीय मंत्री मुख्‍तार अब्‍बास नकवी (Mukhtar Abbas Naqvi) ने एक महिला की कहानी सुनाई, जो उनसे मिलने आई थी. इस दौरान वह भावुक भी हो गए. साथ ही विपक्ष पर हमला करते हुए कहा कि कानून को लेकर डर और भ्रम का भूत खड़ा किया जा रहा है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 18, 2019, 7:14 PM IST
  • Share this:
नई दिल्‍ली. अल्‍पसंख्‍यक मामलों के केंद्रीय मंत्री मुख्‍तार अब्‍बास नकवी (Mukhtar Abbas Naqvi) ने न्‍यूज18 इंडिया के कार्यक्रम चौपाल (News18 Chaupal) में नागरिकता संशोधन कानून 2019 (CAA 2019) पर चर्चा के दौरान कहा कि इस एक्‍ट को लेकर डर और भ्रम का भूत खड़ा किया जा रहा है. उन्‍होंने कहा कि अफवाहों (Rumors) से देश के अमन (Peace) को अगवा करने की कोशिश की जा रही है. इस दौरान एक महिला की कहानी सुनाते हुए वह भावुक भी हो गए.

जनतंत्र को गुंडातंत्र में बदलने की कोशिश की जा रही है
मुख्‍तार अब्‍बास नकवी ने कहा कि जब से नरेंद्र मोदी प्रधानमंत्री (PM Narendra Modi) बने हैं तब से हताश और निराश आत्‍माएं उनके सभी प्रयासों का विरोध कर रही हैं. कांग्रेस (Congress) पर सीधा हमला करते हुए केंद्रीय मंत्री ने कहा कि जनतंत्र (Democracy) को गुंडातंत्र (Hooliganism) में बदलने की कोशिश हो रही है. जनतंत्र से हारे लोग ऐसी हरकतें कर रहे हैं. जनता कभी उन्‍हें माफ नहीं करेगी. मोदी जी ने 2014 में 'सबका साथ, सबका विकास' कहा था. उन्होंने संसद में संविधान की कसम खाई. साफ कहा कि जिसने वोट दिया और नहीं दिया, वो सब हमारे हैं.

एनआरसी में कहां है, इस धर्म का आदमी शामिल नहीं होगा



कोई भी हिंदुस्तानी, जो भय का भूत खड़ा करे, उससे हमें नफ़रत है. इतना भय और भ्रम का भूत खड़ा किया गया है, इससे बड़ा पाप कोई नहीं हो सकता. मुसलमानों को डराने की कोशिश कर रहे हैं कि तुम अब नागरिक नहीं हो, तुम्हारी नागरिकता नहीं रहेगी. एनआरसी में कहां है कि हिंदुस्तान का किसी धर्म का आदमी रजिस्टर में शामिल नहीं होगा. नागरिकता कानून तीन देशों के अल्पसंख्यकों के लिए है, जो अत्याचार, अन्याय, नरसंहार का दर्द दशकों से झेल रहे थे.

महिला ने कहा- कांग्रेस कह रही है हमें देश छोड़ना होगा?
चौपाल में केंद्रीय मंत्री नकवी ने एक कहानी सुनाते हुए कहा, 'सुबह एक बुजुर्ग महिला मिलने आईं तो दुआएं दीं. हज गई थीं तो उन्होंने प्रधानमंत्री मोदी के लिए दुआएं कीं. उसके बाद उनकी आंखें भर आईं. उन्होंने कहा कि मैं इसी मुल्क में पैदा हुई और यहीं दफ़्न हो जाऊंगी. कांग्रेस के लोग क्यों कह रहे हैं कि तुम्हें मुल्क छोड़कर जाना पड़ेगा. फिर उन्‍होंने मेरे घर की मिट्टी उठाई और आंखों से लगा ली.' नकवी ने कहा कि 303 सीटें कांग्रेस की मेहरबानी से नहीं मिलीं. प्रधानमंत्री मोदी के काम पर जनता के समर्थन से मिली हैं. आप कहते हो नागरिकता कानून में मुसलमानों को क्यों नहीं लाए? हमारा विषय है कि आपने समाज की इतनी बड़ी आबादी को डराने और सांप्रदायिक तनाव भड़काने की कोशिश की है, क्योंकि पीएम मोदी ने 5 साल में एक भी सांप्रदायिक तनाव नहीं होने दिया.

मुल्‍क को तोड़ने की खतरनाक कोशिश की जा रही है
नकवी ने कहा कि कांग्रेस और विपक्ष आम लोगों में डर पैदा कर रहे हैं कि मुसलमान (Muslims) अब इस मुल्‍क में नहीं रह सकते. ये बहुत बड़ा गुनाह हो रहा है. ये मुल्‍क को तोड़ने की खतरनाक साजिश (Conspiracy) हो रही है. लोगों को भ्रम में डालकर कांग्रेस और विपक्ष अत्‍याचार कर रहे हैं. नकवी ने कहा कि नागरिकता संशोधन कानून 2019 (Citizenship Amendment Bill 2019) की वजह से इस मुल्क का मुसलमान कहीं नहीं जाएगा.

ये भी पढ़ें:-

गडकरी ने कहा, कुछ पार्टियों ने 50 साल में मुस्लिमों को सिर्फ चार धंधे दिए

रंजीत रंजन बोलीं- संविधान की धज्जियां उड़ा रहा केंद्र, सुधांशु ने दिया ये जवाब

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 18, 2019, 5:35 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर