होम /न्यूज /राष्ट्र /News18 Exclusive: PFI का केंद्र है केरल के मलप्पुरम की यह जगह, सबसे ज्यादा सदस्य हुए हैं अरेस्ट

News18 Exclusive: PFI का केंद्र है केरल के मलप्पुरम की यह जगह, सबसे ज्यादा सदस्य हुए हैं अरेस्ट

22 सितंबर को केरल के मलप्पुरम में एकमात्र एड्रेस अधिकतम गिरफ्तारी के स्रोत के रूप में उभरा है. (फाइल फोटो)

22 सितंबर को केरल के मलप्पुरम में एकमात्र एड्रेस अधिकतम गिरफ्तारी के स्रोत के रूप में उभरा है. (फाइल फोटो)

News18 Exclusive: 22 सितंबर को केरल के मलप्पुरम में यह जगह अधिकतम लोगों की गिरफ्तारी के स्रोत के रूप में उभरी है. यह के ...अधिक पढ़ें

  • News18Hindi
  • Last Updated :

हाइलाइट्स

22 सितंबर को मलप्पुरम में यह जगह अधिकतम गिरफ्तारी के स्रोत के रूप में उभरी है.
यह केंद्र सभाओं, सांस्कृतिक समारोहों और शैक्षिक गतिविधियों के लिए जाना जाता है.
पांच अलग-अलग मामलों में एनआईए ने 22 सितंबर को कुल 45 गिरफ्तारियां कीं.

नई दिल्ली. राष्ट्रीय जांच एजेंसी (NIA) के नेतृत्व वाली बहु-एजेंसियों द्वारा कट्टरपंथी इस्लामिक संगठन पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया (PFI) के खिलाफ देश भर में लगातार छापेमारी चल रही है. 22 सितंबर को केरल के मलप्पुरम की यह जगह पीएफआई के अधिकतम सदस्यों की गिरफ्तारी के स्रोत के रूप में उभरी है. यह केंद्र सभाओं, सांस्कृतिक समारोहों और शैक्षिक गतिविधियों के लिए जाना जाता है. राष्ट्रीय जांच एजेंसी, प्रवर्तन निदेशालय और राज्य पुलिस बलों द्वारा छापे में यह पीएफआई से जुड़े 93 स्थानों में से एक था.

PFI के 100 से अधिक नेताओं और पदाधिकारियों को कथित रूप से आतंकी गतिविधियों का समर्थन करने के आरोप में छापेमारी में गिरफ्तार किया गया था. सूत्रों ने News18 को बताया कि 22 सितंबर को तड़के जब छापेमारी शुरू हुई थी तब अधिकांश पीएफआई नेता मलप्पुरम शहर में और उसके आसपास पाए गए थे. उन्होंने कहा कि कई लोग तड़के केंद्र के बड़े हॉल में जमा हो गए थे.

एक वरिष्ठ अधिकारी ने नाम न छापने की शर्त पर News18 को बताया कि संदिग्धों की आवाजाही के कारण PFI का यह केंद्र कुछ हफ्तों से जांच के दायरे में था. केंद्र, जिसमें एक हॉल, कमरे और अन्य सुविधाएं हैं. यह शैक्षिक गतिविधियों के लिए प्रसिद्ध है. एजेंसियों ने सबसे ज्यादा पीएफआई नेताओं और सदस्यों को मलप्पुरम में और इस केंद्र के आसपास से पकड़ा है.

सूत्रों ने बताया कि छापेमारी से पहले केंद्र के आसपास के इलाके को सुरक्षित कर लिया गया था. स्थानीय पुलिस और अर्धसैनिक बल के जवानों की मदद से एजेंसियां 21 और 22 सितंबर की दरम्यानी रात इमारत में दाखिल हुईं. टीमों को हॉल और अन्य कमरों में लोग मिले. फिर उनकी पहचान की गई और विभिन्न एजेंसियों ने उन्हें हिरासत में ले लिया.

गौरतलब है कि पांच अलग-अलग मामलों में एनआईए ने 22 सितंबर को कुल 45 गिरफ्तारियां कीं. इनमें से 19 केरल में, 11 तमिलनाडु में, 7 कर्नाटक में, 4 आंध्र प्रदेश में, 2 राजस्थान में और उत्तर प्रदेश और तेलंगाना में 1-1 गिरफ्तारी हुई.

Tags: Kerala, NIA, PFI, Terrorism In India

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें