Exit Poll Results 2019 Today: Lok Sabha चुनाव में किसकी बनेगी सरकार - News 18-IPSOS Exit Poll के सबसे सटीक अनुमान

Exit Poll Results 2019, लोकसभा चुनाव / एग्जिट पोल २०१९, Lok sabha election result: 19 मई यानी आज शाम से न्यूज़18 साल 2019 के लोकसभा चुनाव का सबसे सटीक एक्ज़िट पोल बताना शुरू करेगा.

News18Hindi
Updated: May 19, 2019, 6:14 PM IST
News18Hindi
Updated: May 19, 2019, 6:14 PM IST
Exit Poll Results 2019 today: दुनिया के सबसे बड़े लोकतांत्रिक देश में अब लोकसभा चुनाव का रोमांच चरम पर है. 19 मई को 8 राज्यों की 59 सीटों पर मतदान के साथ ही रविवार शाम 5 बजे लोकसभा की 542 सीटों की तकदीर EVM में बंद हो जाएगी. इसके बाद देश की सियासत की तकदीर तय होने और तस्वीर साफ होने में सिर्फ 3 दिन बाकी रह जाएंगे, क्योंकि 23 मई को मतगणना शुरू होगी. हालांकि उससे पहले सभी राजनीतिक दलों, नेताओं और वोटरों के मन में एक ही सवाल रहेगा कि दिल्ली में किसकी सरकार बनेगी?

लोकसभा चुनाव के नतीजों से पहले उनके सटीक अनुमान देने के लिए न्यूज़ 18 ने IPSOS के साथ मिलकर सबसे विश्वसनीय एग्ज़िट पोल किया है. ये सबसे बड़ा एग्ज़िट पोल है, जिसने देश के तकरीबन हर राज्य से वोटरों के मन की बात टटोलने की कोशिश की है. 19 मई यानी आज की शाम से न्यूज़ 18 देशभर को साल 2019 के लोकसभा चुनाव का सबसे सटीक एक्ज़िट पोल बताना शुरू करेगा.



एग्ज़िट पोल के लिए आंकड़ों को जुटाने की पद्धति के लिए सर्वे में जहां सबसे बड़े सैंपल का इस्तेमाल किया गया है, वहीं हर वर्ग, हर भाषा और हर उम्र के वोटर से भी बात की गई है. सर्वे की प्रक्रिया में इस बात का खास ध्यान रखा गया है कि कहीं भी एक जैसी धारणा अनुमानों को गलत ठहराने का काम न करे. इसीलिये ज्यादा से ज्यादा सीटों पर ज्यादा से ज्यादा वोटरों से सीधी बात की गई है.

सर्वे में लोकसभा की 543 सीटों में से 199 सीटों का चयन किया गया. देश के 28 राज्यों में 199 संसदीय सीटों की 796 विधानसभा क्षेत्रों से सैंपल लिए गए. जहां 4776 पोलिंग स्टेशनों में हर बूथ पर 25 वोटर्स को रेंडम ढंग से चुना गया.

इस दौरान अलग-अलग इलाकों के पोलिंग बूथ पर आए वोटर्स से सवाल पूछे गए. इस प्रक्रिया के तहत 199 संसदीय सीटों पर करीब डेढ़ लाख वोटर्स की राय जानी गई. संसदीय सीटों के चयन में इस बात का भी खास ध्यान रखा गया कि केवल उन्हीं सीटों को चुना जाए, जहां कोई एक पार्टी पिछले दो या तीन चुनावों में जीत रही हो या वहां जीत का अंतर कम रहा हो. साथ ही उन सीटों को चुना गया जहां हर चुनाव में अलग नतीजे आए और जहां दिग्गज नेताओं ने अपनी किस्मत आजमाई.

ये भी पढ़ें: Lok sabha election 2019: बस एक क्लिक और सबसे बड़ा डेटा बैंक ‘मैजिक-वॉल’ बताएगा जादुई आंकड़े का फॉर्मूला

इसके अलावा हर संसदीय क्षेत्र में चार से छह विधानसभा इलाके चुने गए और उन विधानसभा इलाकों में से छह पोलिंग स्टेशन छांटे गए जहां सिस्टमेटिक रेंडम सैंपलिंग प्रोसेस का इस्तेमाल हुआ. पोलिंग स्टेशन से बाहर आने वाले हर तीसरे वोटर से सवाल पूछे गए और इसमें हर उम्र, भाषा, या वर्ग के आधार पर वोटर्स शामिल हैं. ये सर्वे सभी 6 चरणों के चुनावों में वोटिंग के दिन किए गए और सातवें चरण की वोटिंग के वक्त भी किए जाएंगे ताकि एक बड़ी तस्वीर बड़े सैंपल के साथ सटीक अनुमान लिए सामने आ सके. इस तरह ये कोशिश की गई कि कोई भी बिंदू न छूट जाए जिससे एग्ज़िट पोल पर कोई फर्क पड़े.
Loading...

बहरहाल, जहां लोकसभा चुनाव समापन की तरफ हैं तो दूसरी तरफ अनुमान और अंदाज़ के चलते चुनाव बाद सत्ता के समीकरणों के लिए गठबंधन की दौड़ भी शुरू हो गई है. 23 मई को यूपीए और तमाम गैर यूपीए और गैर एनडीए दलों की बैठक की भी संभावना है. जहां एक तरफ नतीजे आऩे से पहले ही विपक्ष सरकार बनाने की संभावनाएं तलाश रहा है तो दूसरी तरफ न्यूज़ 18 और Ipsos का एग्जिट पोल आपको 19 मई देर शाम से न्यूज़ 18 पर लोकसभा चुनाव को लेकर लगातार एक-एक सीट का सटीक अनुमान देगा.

ये भी पढ़ें: Exit Poll 2019- 28 राज्य, 199 सीट और सवा लाख मतदाताओं से ‘मन की बात’, न्यूज़18-Ipsos एग्जिट पोल देगा सबसे सटीक अनुमान

केजरीवाल बोले- सोचा था सातों सीट जीत लेंगे, लेकिन...

महेश शर्मा ब्लैकमेलिंग केस: राष्ट्रकवि की नातिन गिरफ्तार

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी WhatsApp अपडेट्स
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...