News18 Sentimeter: 20 सैनिकों की हत्या के बाद चीन के बारे में क्या सोचती है देश की जनता, जानिए यहां!

चीन को लेकर न्यूज़18 ने लोगों की राय जानने के लिए पोल किया है
चीन को लेकर न्यूज़18 ने लोगों की राय जानने के लिए पोल किया है

लद्दाख (Ladakh) में भारत के 20 जवानों के शहीद होने के बाद से ही देश भर में लोगों के मन में चीन (China) के प्रति गुस्सा है. लोग चीन के सामान के बॉयकॉट की बात कर रहे हैं. ऐसे में चीन को लेकर हमने जनता से कई सवाल किए जिसके नतीजे हम आपको बताने जा रहे हैं.

  • Share this:
पूर्वी लद्दाख (East Ladakh) की गलवान घाटी (Galwan Valley) में भारत के 20 सैन्यकर्मियों के शहीद होने के बाद दोनों देशों के बीच तनाव बढ़ गया है. इस झड़प में 20 भारतीय सैन्यकर्मी शहीद हो गये थे. वहीं करीब 76 जवान घायल भी हो गए थे. चीन की इस हरकत के बाद से ही देश भर में लोगों के मन में गुस्सा है. लोग चीन के सामान के बॉयकॉट की बात कर रहे हैं. ऐसे में चीन को लेकर हमने जनता से कई सवाल किए जिसके नतीजे हम आपको बताने जा रहे हैं. पिछले 15 दिनों में चीन को लेकर देश का मूड जानने के लिए न्यूज18 ने दूसरा पोल किया. पहले पोल के नतीजे 5 जून को सामने आए थे.

ये पोल नेटवर्क18 की सभी वेबसाइट और सोशल मीडिया अकाउंट्स पर चलाया गया जिसमें कि सीएनएन न्यूज18, न्यूज18 इंडिया, न्यूज18 लैंग्वेजेस, मनी कंट्रोल और फर्स्टपोस्ट पर किया गया. ये पोल 19 जून दोपहर 12 बजे से 20 जून दोपहर 12 बजे तक 24 घंटे के लिए चलाया गया. जिसमें कि लोगों से 9 सवाल किए गए. मसलन कि-

क्या आप चाइनीज़ सामान का बॉयकॉट करेंगे, भले ही इस वजह से आपको ज्यादा खर्च करना पड़े?
क्या आप चाइनीज़ ऐप और सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म्स का इस्तेमाल बंद कर देंगे?
क्या आप 20 भारतीय सैनिकों की हत्या और बीजिंग से मिले धोखे के बाद चीन पर फिर भरोसा कर पाएंगे?


भारत में चाइनीज़ भोजन काफी लोकप्रिय है. क्या आप अगली बार चाइनीज़ खाने से पहले सोचेंगे?
क्या भारतीय क्रिकेट और फिल्म स्टार्स को चाइनीज़ सामान के साथ एंडोर्समेंट बंद कर देना चाहिए?
चीन और पाकिस्तान में से इस समय किस देश से भारत को ज्यादा खतरा है?
चीन के खिलाफ लड़ाई में भारत का सबसे भरोसेमंद साथी कौन है?



इस पोल के नतीजों के मुताबिक 70 प्रतिशत भारतीयों ने कहा कि भले ही ज्यादा खर्च करना पड़े लेकिन वह चाइनीज सामान का बॉयकॉट करेंगे. वहीं करीब 91 फीसदी लोगों ने कहा कि वह चाइनीज ऐप का इस्तेमाल बंद करेंगे और लोगों को भी ऐसा करने के लिए कहेंगे. 92 प्रतिशत भारतीयों ने कहा कि वह चीन पर भरोसा नहीं करते.

चाइनीज खाने को लेकर भारतीय अभी भी असमंजस की स्थिति में हैं. 43 प्रतिशत ने कहा है कि वह चाइनीज भोजन नहीं खाएंगे जबकि 31 प्रतिशत लोगों का मानना है कि इस मसले का खाने से कोई लेना देना नहीं है. वहीं करीब 97 फीसदी लोगों का मानना है कि भारतीय सिलेब्रिटीज़ को चाइनीज सामानों का प्रचार करना बंद कर देना चाहिए.

92 प्रतिशत लोगों का मत है कि पाकिस्तान के मुकाबले चीन भारत के लिए बड़ा खतरा साबित हो सकता है. 52 प्रतिशत लोग मानते हैं कि भारत के पास कोई सहयोगी नहीं है और उसे अपने आप पर निर्भर रहना है. जबकि 19.32 प्रतिशत लोग पुतिन को डोनाल्ड ट्रंप (18.12%) से ज्यादा करीबी सहयोगी मानते हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज