Home /News /nation /

News18india Chaupal: सुधांशु त्रिवेदी ने विपक्ष पर साधा निशाना, बोले- कुछ लोगों का मूड हमेशा ऑफ रहता है

News18india Chaupal: सुधांशु त्रिवेदी ने विपक्ष पर साधा निशाना, बोले- कुछ लोगों का मूड हमेशा ऑफ रहता है

सुधांशु त्रिवेदी ने न्यूज18 इंडिया चौपाल कार्यक्रम में विपक्ष पर हमला बोला. (फाइल फोटो)

सुधांशु त्रिवेदी ने न्यूज18 इंडिया चौपाल कार्यक्रम में विपक्ष पर हमला बोला. (फाइल फोटो)

News18india Chaupal: बीजेपी प्रवक्‍ता सुधांशु त्रिवेदी ने कहा, 'किसान आंदोलन में खालिस्तानी का आरोप कांग्रेस के सांसद रवनीत सिंह बिट्टू ने सबसे पहले लगाया था. हमारे बिल या पीएम के बयान में कहीं नहीं कहा गया कि कृषि क़ानून ग़लत थे, लेकिन उनको इसलिए वापस लिया गया, क्योंकि कुछ किसानों को हम समझा नहीं पाए. केरल, महाराष्ट्र और पंजाब में कॉन्ट्रैक्ट फ़ार्मिंग का क़ानून लागू है, लेकिन कृषि क़ानून में वही प्रावधान कांग्रेस को ग़लत लगा.'

अधिक पढ़ें ...

    नई दिल्ली. भारतीय जनता पार्टी (BJP) के प्रवक्ता सुधांशु त्रिवेदी (Sudhanshu Trivedi) ने गुरुवार को न्यूज18 इंडिया चौपाल कार्यक्रम में नाम लिए बगैर विपक्षी दलों पर निशाना साधा. उन्होंने कहा कि कुछ लोगों का मूड हमेशा खराब रहता है. वहीं, कांग्रेस पार्टी के सोशल मीडिया प्रमुख रोहन गुप्ता ने इस दौरान किसान आंदोलन का मुद्दा उठाया और कहा कि भाजपा की गलती की सजा किसान क्यों भुगतेगा. इससे पहले छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल कार्यक्रम का हिस्सा बने थे.

    बीजेपी प्रवक्‍ता सुधांशु त्रिवेदी ने कहा, ‘महामारी की चुनौती के बाद देश बड़ी छलांग लगाने के लिए तैयार है. कुछ लोगों का मूड हमेशा ऑफ़ रहता है, देश का मूड हमारे साथ है. पिछले सात साल में प्रधानमंत्री के ख़िलाफ़ सबसे ज़्यादा अपशब्दों का प्रयोग किया गया, फिर भी आरोप लगाना कि लोकतंत्र ख़तरे में है, ये बोलने की आज़ादी के बिना कैसे संभव होता.’

    वहीं अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी (AICC) के सोशल मीडिया प्रमुख रोहन गुप्ता ने कहा, ‘देश का मूड बदल चुका है, देश को अपनी समस्या का हल मिल गया है कि बीजेपी को हराओ. जैसे हिमाचल में उपचुनाव में बीजेपी को मुंह की खानी पड़ी, तो दूसरे दिन डीज़ल- पेट्रोल के दाम कम हो गए.’ रोहन गुप्ता बोले- ‘झोला उठाने वाले फ़कीर नहीं होते और माफ़ी मांगने वाले वीर नहीं होते, ये पुरानी कहावत है.’ रोहन गुप्ता ने कहा, ‘किसान आंदोलन में अगर कोई असामाजिक तत्व या खालिस्तानी घुसपैठ थी, तो सरकार क्या कर रही थी.’

    त्रिवेदी ने कहा, ‘किसान आंदोलन में खालिस्तानी का आरोप कांग्रेस के सांसद रवनीत सिंह बिट्टू ने सबसे पहले लगाया था. हमारे बिल या पीएम के बयान में कहीं नहीं कहा गया कि कृषि क़ानून ग़लत थे, लेकिन उनको इसलिए वापस लिया गया, क्योंकि कुछ किसानों को हम समझा नहीं पाए. केरल, महाराष्ट्र और पंजाब में कॉन्ट्रैक्ट फ़ार्मिंग का क़ानून लागू है, लेकिन कृषि क़ानून में वही प्रावधान कांग्रेस को ग़लत लगा.’ उन्‍होंने कहा, ‘CAA में व्यवस्था में कोई परिवर्तन ही नहीं था, भारत के किसी नागरिक का CAA पर कोई असर ही नहीं था.’

    गुप्ता ने कहा, ‘बीजेपी की गलत नीतियों की सज़ा किसान क्यों भुगते, इस प्रक्रिया में 700 किसानों की जान चली गई.’ रोहन गुप्ता ने कहा, ’70 साल की आज़ादी का अपमान हो रहा है और सरकार कुछ भी बोलने को तैयार नहीं है. मैं तो ये भी कहता हूं कि मणिशंकर अय्यर ने भी ग़लत बोला था. देश के ख़िलाफ़ कोई बोले तो सरकार की ज़िम्मेदारी है कि उस आदमी के ख़िलाफ़ कार्रवाई करे, लेकिन अब देश के ख़िलाफ़ बोलने वाले को नहीं, बल्कि सरकार के ख़िलाफ़ बोलने वाले को देशद्रोही बता दिया जाता है.’

    Tags: News18india Chaupal, Rohan Gupta, Sudhanshu Trivedi

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर