लाइव टीवी

हैदराबाद पहुंची NHRC की टीम, एनकाउंटर वाली जगह की जांच करने के बाद देखने जाएगी शव

News18Hindi
Updated: December 7, 2019, 1:02 PM IST
हैदराबाद पहुंची NHRC की टीम, एनकाउंटर वाली जगह की जांच करने के बाद देखने जाएगी शव
एनकाउंटर वाली जगह की फाइल फोटो

हैदराबाद (Hyderabad) में महिला वेटनरी डॉक्टर से गैंगरेप (Gangrape) के बाद हत्या के सभी चारों आरोपियों को पुलिस ने भले ही एनकाउंटर में मार गिराया हो, लेकिन उनकी कार्रवाई पर सवालिया निशान लग रहे हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 7, 2019, 1:02 PM IST
  • Share this:
हैदराबाद. तेलंगाना (Telangana) की राजधानी हैदराबाद (Hyderabad) में वेटनेरी डॉक्टर के साथ गैंगरेप (Gangrape) के बाद हत्या और शव जलाने के चारों आरोपियों के एनकाउंटर को लेकर पुलिस पर सवालिया निशान लग गए हैं. पुलिस के इस एनकाउंटर पर राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग (NHRC) ने स्वत: संज्ञान लिया है.

बताया जाता है कि एनएसआरसी की टीम हैदराबाद पहुंच गई है. NHRC की टीम पहले घटनास्थल का दौरा करेगी उसके बाद महबूबनगर के सरकारी अस्पताल जाएगी, जहां पर चारों आरोपियों का शव रखा गया है.

बता दें तेलंगाना पुलिस ने दावा किया है कि शुक्रवार तड़के 3 बजे जब वह सीन रीक्रिएट करने के लिए घटनास्थल पर गए जहां महिला के साथ दरिंदगी की गई थी तो चारों आरोपी अलग-अलग दिशा में भागने लगे. इसके बाद पुलिस ने गोलियां चलाईं, जिसमें चारों मारे गए. पुलिस ने बताया कि चारों को अस्पताल ले जाया गया जहां उन्हें मृत घोषित कर दिया गया. साइबराबाद पुलिस आयुक्त वीसी सज्जनार ने बताया कि मुठभेड़ के दौरान दो पुलिसकर्मी भी घायल हुए हैं.

इसे भी पढ़ें :- हैदराबाद गैंगरेप : आरोपियों ने घटनास्थल से 1 किमी दूर दफनाया था महिला डॉक्टर का फोन

गौरतलब है कि 29 नवंबर को हैदराबाद के साइबराबाद टोल प्लाजा के पास एक महिला की अधजली लाश मिली थी. महिला की पहचान एक वेटनरी डॉक्टर के तौर पर हुई थी. पुलिस के मुताबिक, महिला की गैंगरेप के बाद हत्या की गई, फिर लाश को पेट्रोल से जलाकर फ्लाईओवर के नीचे फेंक दिया गया. वारदात में शामिल चारों आरोपियों की पहचान मोहम्मद पाशा, नवीन, चिंताकुंता केशावुलु और शिवा के तौर पर हुई है. पुलिस जांच में पता चला कि आरोपियों ने वारदात को अंजाम देने के लिए साजिश के तहत महिला डॉक्टर की स्कूटी पंक्चर की थी, ताकि वे महिला डॉक्‍टर को अपने जाल में फंसाकर वारदात को अंजाम दे सकें.

इसे भी पढ़ें :- आखिर आधी रात में ही आरोपियों को सीन रिक्रिएशन के लिए क्यों ले गई पुलिस?

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 7, 2019, 12:21 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर