आतंकी फंडिंग केस में 9 गिरफ्तार, 36 करोड़ के पुराने नोट जब्त

आतंकी फंडिंग केस में 9 गिरफ्तार, 36 करोड़ के पुराने नोट जब्त
एनआईए द्वारा जब्त की गई रकम

एनआईए ने जम्मू कश्मीर से आतंकी फंडिंग केस में नौ लोगों को गिरफ्तार कर लिया है. साथ ही गिरफ्तार लोगों के पास से एनआईए ने 36 करोड़ 34 लाख के पुराने नोट भी बरामद किए हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 7, 2017, 8:24 PM IST
  • Share this:
एनआईए ने जम्मू-कश्मीर में आतंकी फंडिंग के तहत चलाए जा रहे अभियान के दौरान तकरीबन 36 करोड़ 34 लाख रुपए की पुरानी करेंसी बरामद की है. ये रकम एनआईए ने दिल्ली के कनॉट प्लेस के पास जय सिंह रोड से बरामद की.

36,34,78,500 रुपए की ये पुरानी करेंसी 500 और 1000 के नोटों में चार लग्जरी गाड़ियों (BMW X3, Creta SX, Ford eco sport titanium, BMW X1) में मौजूद 28 कार्टन में ले जाई जा रही थी. इस सिलसिले में एनआईए ने नौ लोगों को गिरफ्तार किया है, जिन्हे बुधवार को दिल्ली के पटियाला हाउस कोर्ट में पेश किया जाएगा.

इनके नाम प्रदीप चौहान, भगवान सिंह, विनोद श्रीदर शेट्टी, शहनवाज मीर, दीपक टोपरानी, मोहम्मद युसूफ सोफी, इजाजुल हसन, उमर मुश्ताक दर और जसविंदर सिंह है. एनआईए सूत्रों के मुताबिक ये रकम घाटी में आतंकी गतिविधियों के लिए इस्तेमाल की जाने वाली थी. लेकिन एन मौके पर नोटबंदी की वजह से आतंक के पैरोकार इसमें कामयाब नहीं हो पाए.
एनआईए को ये जानकारी टेरर फंडिग की पड़ताल के दौरान पता चली कि आतंकियों और अलगाववादियों से जुड़ा एक गैंग ऐसा है जिसके पास अभी भी करोड़ों रूपए की पुरानी करेंसी मौजूद है और वो इसे नई करेंसी में तब्दील करने की फिराक में है. इसी जानकारी के आधार पर कुछ लोगों के फोन नंबर सर्विलांस पर लगाए गए और पुख्ता जानकारी मिलने पर उन्हें पुरानी करेंसी के साथ दबोच लिया गया.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading