टेरर फंडिंग मामले में जम्मू-कश्मीर के पूर्व एमएलए राशिद इंजीनियर को NIA ने किया गिरफ्तार

राष्ट्रीय जांच एजेंसी (NIA) ने जम्मू-कश्मीर (Jammu and Kashmir) के पूर्व निर्दलीय विधायक शेख अब्दुल्ल राशिद उर्फ राशिद इंजीनियर को गिरफ्तार कर लिया गया है. यह गिरफ्तारी टेरर फंडिंग के एक मामले में हुई है.

News18Hindi
Updated: August 10, 2019, 5:49 AM IST
टेरर फंडिंग मामले में जम्मू-कश्मीर के पूर्व एमएलए राशिद इंजीनियर को NIA ने किया गिरफ्तार
कश्मीर के पूर्व MLA राशिद इंजीनियर को NIA ने गिरफ्तार किया है (फाइल फोटो)
News18Hindi
Updated: August 10, 2019, 5:49 AM IST
राष्ट्रीय जांच एजेंसी (NIA) ने कश्मीर (Kashmir) के पूर्व निर्दलीय विधायक शेख अब्दुल राशिद उर्फ राशिद इंजीनियर को गिरफ्तार किया गया है. टेरर फंडिंग से जुड़े मामले में उनकी गिरफ्तारी हुई है. कल NIA उन्हें पटियाला कोर्ट के सामने पेश करेगी. NIA की कोशिश रहेगी कि राशिद इंजीनियर की कस्टडी बढ़े. इससे पहले NIA ने टेरर फंडिंग के एक मामले में रविवार को राशिद इंजीनियर से दिल्ली में पूछताछ की थी.

राशिद इंजीनियर, NIA के निशाने पर पिछले कुछ सालों से हैं. सितंबर, 2017 में जांच एजेंसी NIA ने पहली बार उन्हें पूछताछ के लिए समन भेजा था. राशिद जम्मू-कश्मीर के लंगेट विधानसभा से विधायक थे . उस वक्त राशिद ने NIA की इस कार्रवाई और जांच को 'राजनीति' से प्रेरित बताया था.

बिजनेसमैन वताली के साथ संबंधों के चलते किया गया है गिरफ्तार
राशिद पर उनके जहूर वताली नाम के एक बिजनेसमैन से संबंधों का आरोप है. आरोपों के मुताबिक जहूर वताली का संबंध पाकिस्तान स्थित आतंकी संगठन लश्कर-ए-तैयबा और उसके सरगना हाफिज सईद है.

प्रवर्तन निदेशालय (ED) और एनआईए (NIA) दोनों एजेंसियां वताली से जुड़े आरोपों की जांच कर रही हैं. हाल ही में प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने गुरुवार को वताली की 1.73 करोड़ रुपये की प्रॉपर्टी कुर्क की. यह कुर्की मनी लॉन्ड्रिंग एक्ट के तहत की गई है.  NIA ने  टेरर फंडिंग मामले में बताली की गिरफ्तारी हुई है.

कश्मीर में भारत के खिलाफ युद्ध को उकसाने में किया जाता है इन पैसों का इस्तेमाल
FIR में बताया गया है कि पैसों का इस्तेमाल सुरक्षा बलों पर पत्थरबाजी करवाने, स्कूलों में आगजनी करवाने, सरकारी संपत्ति को नुकसान पहुंचाने और भारत के खिलाफ युद्ध को उकसाने में किए जाने के आरोप लगाए गए हैं.
Loading...

हाफिज सईद को भी बनाया गया है NIA की FIR में आरोपी
इनके खिलाफ हवाला और अन्य गैरकानूनी तरीकों से पैसे जुटाने और जम्मू-कश्मीर में आतंकी-अलगाववादी गतिविधियों में खर्च करने के आरोप हैं. NIA दर्ज की गई FIR में पाकिस्तान के आतंकी संगठन जमात-उद-दावा के सरगना और लश्कर-ए-तैयबा के प्रमुख हाफिज सईद का नाम भी आरोपी के तौर पर साबित किया गया है.

हाफिज सईद के अलावा हुर्रियत के दोनों विंग (सैय्यद अली शाह गिलानी और मीरवाइज उमर फारुक), हिज्बुल मुजाहिदीन और अन्य आतंकी संगठनों को भी आरोपी बनाया गया है.

यह भी पढ़ें: जम्मू में कल से हटाई गई धारा 144, खुलेंगे स्कूल-कॉलेज
First published: August 10, 2019, 4:39 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...