टेरर फंडिंग: आसिया अंद्राबी का कबूलनामा- विदेशों से पैसे लेकर घाटी में करवाती थी प्रदर्शन

एनआईए जांच में आसिया ने स्‍वीकारा है कि वे विदेशी फंडिंग लेती थी और इसके बदले घाटी में प्रदर्शन करवाती थी.

News18Hindi
Updated: June 16, 2019, 10:32 PM IST
टेरर फंडिंग: आसिया अंद्राबी का कबूलनामा- विदेशों से पैसे लेकर घाटी में करवाती थी प्रदर्शन
एनआईए से पूछताछ में आसिया अंद्राबी ने कबूल किया है कि वह पैसे लेकर घाटी में प्रदर्शन करवाती थी. (फाइल फोटो)
News18Hindi
Updated: June 16, 2019, 10:32 PM IST
दुख्तरान ए मिल्लत की कुख्यात नेता आसिया अंद्राबी विदेश से फंड लेकर घाटी में सरकार और सेना के खिलाफ प्रदर्शन करवाती थी. एनआईए से पूछताछ में आसिया ने ये बात कबूल की है. न्‍यूज एजेंसी एएनआई के अनुसार, एनआईए जांच में आसिया ने स्‍वीकारा है कि वे विदेशी फंडिंग लेती थी और इसके बदले घाटी में प्रदर्शन करवाती थी.

एनआईए ने कहा, 'पूछताछ के दौरान आसिया अंद्राबी को मलेशिया में पढ़ रहे उसके बेटे की पढ़ाई की फंडिंग के जुड़े कुछ सबूत भी दिखाए गए. टेरर फंडिंग मामले में गिरफ्तार जहूर वटाली ने उसके बेटे की पढ़ाई के लिए पैसे दिए थे. यह बात भी उसने स्‍वीकार की है.'



मुस्लिम लीग के नेता मसर्रत आलम ने भी कबूला
Loading...

राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) ने हुर्रियत कॉन्फ्रेंस और कई अन्य अलगाववादी नेताओं से पूछताछ के बाद दावा किया है कि कश्मीर घाटी में अलगाववादी गतिविधियों को बढ़ाने के लिए पाकिस्तान से टेरर फंडिंग होती रही है. एनआईए के मुताबिक, मुस्लिम लीग के नेता मसर्रत आलम ने अधिकारियों को बताया कि पाकिस्तान समर्थित एजेंट ने विदेश से पैसे जुटाए और हवाला ऑपरेटर्स के जरिए उसे जम्मू-कश्मीर भेजा.

मसर्रत आलम के मुताबिक अलगाववादी हुर्रियत कॉन्फ्रेंस के भीतर विदेश से फंड जुटाने और उसके इस्तेमाल को लेकर मतभेद भी हैं. बता दें कि मसर्रत आलम घाटी में पत्थरबाजों का पोस्टरबॉय कहलाता था. इसने कट्टरवादी हुर्रियत नेता सैयद शाह गिलानी सहित कई अलगाववादी नेताओं का पैसा ट्रांसफर किया था.

ये भी पढ़ें: अमरनाथ यात्रियों को कश्मीर में कोई खतरा नहीं: अलगाववादी

एनआईए ने कहा कि उसने शब्बीर शाह का सामना कई होटलों में उसके निवेश के सबूतों, पहलगाम में बिजनेस, जम्मू-कश्मीर और अनंतनाग में संपत्तियों से कराया. बयान में कहा गया कि उसे पाकिस्तान स्थित एजेंटों और हुर्रियत के प्रतिनिधियों के पैसे ट्रांसफर करने के सबूत भी दिखाए गए.

ये भी पढ़ें: मसर्रत आलम ने मानी पाकिस्तान समर्थित टेरर फंडिंग की बात: NIA

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स
First published: June 16, 2019, 10:17 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...