Assembly Banner 2021

मुर्शिदाबाद बम विस्फोट मामले की जांच करेगी NIA, पश्चिम बंगाल के मंत्री हुए थे घायल

मुर्शिदाबाद के हमले में घायल टीएमसी नेता जाकिर हुसैन.  (फाइल फोटो)

मुर्शिदाबाद के हमले में घायल टीएमसी नेता जाकिर हुसैन. (फाइल फोटो)

West Bengal News: यह घटना 17 फरवरी को निमतिता रेलवे स्टेशन पर हुई थी, जिसमें 22 लोग घायल हो गए थे.

  • Share this:

नई दिल्ली. राष्ट्रीय अन्वेषण एजेंसी (एनआईए) ने पश्चिम बंगाल के मुर्शिदाबाद में एक रेलवे स्टेशन पर हाल में हुए बम विस्फोट मामले की जांच के लिए मंगलवार को एक मामला दर्ज किया. उस घटना में राज्य के मंत्री जाकिर हुसैन सहित 22 लोग घायल हो गए थे. एजेंसी के एक प्रवक्ता ने यह जानकारी दी.


उन्होंने कहा कि मुर्शिदाबाद जिले के अजीमगंज जीआरपी थाने में भारतीय दंड संहिता और विस्फोटक सामग्री अधिनियम की संबंधित धाराओं के तहत यह मामला दर्ज किया गया है. एक चश्मदीद के बयान के आधार पर यह मामला दर्ज किया गया है. यह घटना 17 फरवरी को निमतिता रेलवे स्टेशन पर हुई थी, जिसमें 22 लोग घायल हो गए थे.


ममता ने बंगाल में मंत्री पर हमले को साजिश बताया था
पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने 18 फरवरी को आरोप लगाया था कि राज्य के मंत्री जाकिर हुसैन पर बम से हुआ हमला एक साजिश का हिस्सा था और कुछ लोग उन पर दूसरी पार्टी में शामिल होने के लिए ‘दबाव’ बना रहे थे. बनर्जी ने पत्रकारों से कहा था, 'मंत्री जाकिर हुसैन पर हमला एक सोची-समझी साजिश थी. कुछ लोग (पार्टी) पिछले कुछ महीने से जाकिर हुसैन पर दबाव बना रहे थे, कि वह उनके दल में शामिल हों. मैं अधिक जानकारी नहीं दूंगी क्योंकि जांच जारी है.' उन्होंने कहा कि हमलावर स्पष्ट तौर पर हुसैन के आने के बारे में जानते थे और शायद उनका पीछा कर रह थे.


बनर्जी ने कानून एवं व्यवस्था के बदतर होने के दावों को खारिज करते हुए कहा था कि घटना रेलवे स्टेशन के अंदर हुई और परिसर केन्द्र के अधीन आता है. उन्होंने पूछा, 'जब हमला रेलवे स्टेशन पर हुआ, तो रेलवे सुरक्षा में चूक की अपनी जिम्मेदारी से इनकार कैसे कर सकती है? हमले के समय स्टेशन पर कोई सुरक्षा कर्मी नहीं था. वहां बिजली भी नहीं थी, बिल्कुल अंधेरा था. रेलवे पुलिस आखिर क्या कर रही थी?' उन्होंने कहा कि रेलवे को जांच में सहयोग करना चाहिए. बनर्जी ने कहा, 'रेलवे स्टेशन, रेलवे की सम्पत्ति है. रेलवे पुलिस उसकी सुरक्षा के लिए जिम्मेदार है. यह हमारे अधिकार-क्षेत्र में नहीं आता.'

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज