Home /News /nation /

nias big search operation in punjab and jammu in bastada toll plaza case many clues found stv

पंजाब में पाकिस्तानी आतंकी से जुड़े कनेक्शन मामले में NIA का सर्च ऑपरेशन

NIA ने जम्‍मू और पंजाब में बड़े सर्च आपरेशन को अंजाम दिया है.

NIA ने जम्‍मू और पंजाब में बड़े सर्च आपरेशन को अंजाम दिया है.

केंद्रीय जांच एजेंसी एनआईए ( NIA) ने पंजाब (Punjab) के करनाल स्थित बसताडा टोल प्लाजा पर पांच मई 2022 को मिले IED से जुड़े मामले में एक बड़ी कार्रवाई को अंजाम देते हुए गुरुवार को पंजाब के SAS नगर, तरनतारन और जम्मू इलाके में सर्च ऑपरेशन को अंजाम दिया है.

अधिक पढ़ें ...

हाइलाइट्स

एनआईए का पंजाब और जम्‍मू में सर्च आपरेशन
टोल प्‍लाजा केस की जांच में की गई कार्रवाई
पाकिस्‍तानी आतंकी से जुड़े हैं केस के तार

नई दिल्‍ली.  केंद्रीय जांच एजेंसी एनआईए ( NIA) ने पंजाब (Punjab) के करनाल स्थित बसताडा टोल प्लाजा पर पांच मई 2022 को मिले IED से जुड़े मामले में एक बड़ी कार्रवाई को अंजाम देते हुए गुरुवार 18 अगस्त सुबह से लेकर शाम तक पंजाब के SAS नगर, तरनतारन और जम्मू इलाके में सर्च ऑपरेशन को अंजाम दिया है. जांच एजेंसी एनआईए की तफ़्तीश करने वाली टीम ने मौके से कई महत्वपूर्ण सबूतों, कई खाली कारतूसों और इलेक्ट्रॉनिक एविडेंस (Electronic device & empty cartridges) को जब्त किया. एनआईए द्वारा इस केस को 24 मई को दर्ज ( case was initially registered at Madhuban PS in Karnal distric) किया गया था. उसके बाद लगातार इस मामले में काफी सतर्कता से तफ़्तीश की जा रही है.

इस मामले में कई राज्यों से जुड़े तार सहित इस मामले में सीधे पाकिस्तान से आतंकियों के तार जुड़ रहे हैं. लिहाजा जांच एजेंसी इस मॉड्यूल से जुड़े हर आरोपी को बेहतर गंभीरता से तलाश रही है. इस मामले में पंजाब पुलिस द्वारा चार आरोपियों गुरुप्रीत, अमनदीप, परविंदर, भूपेंद्र को गिरफ्तार किया गया था. एनआईए के सूत्रों के मुताबिक ये मामला खालिस्तानी आतंकी संगठन और पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई (ISI ) से जुड़ा हुआ है. पंजाब से दिल्ली की ओर जाने के वक्त ये चारों आतंकी गिरफ्तार हुए.

टोल प्‍लाजा के पास से गिरफ्तार हुए थे आतंकी
दरअसल, करनाल स्थित बसताडा टोल प्लाजा पर मिले IED से जुड़ा ये मामला पांच मई 2022 का था, जब टोल प्लाजा के पास एक इनोवा गाड़ी को रोकने के बाद संदिग्ध हालात में चार लोगों को हिरासत में लिया गया था. तफ़्तीश के बाद पता चला था कि वो चारों आतंकवादी थे. उन आरोपियों के पास से 3 IED, एक देसी पिस्टल , 31 जिंदा कारतूस, एक लाख 30 हजार रुपये की नकदी और 6 मोबाइल फोन भी बरामद किया गया था. उस मामले में पंजाब पुलिस द्वारा एक बड़ा खुलासा करते हुए बताया गया था कि उन चारों आतंकियों का संबंध पाकिस्तान स्थित आतंकी हरविंदर सिंह रिन्दा से है. उसी के संपर्क में रहने के दौरान उन चारों आतंकियों को विस्फोटक और हथियार मिले थे , जिसे तेलंगाना के आदिलाबाद में पहुंचाने का टास्क दिया गया था.

Tags: NIA, Punjab

अगली ख़बर