• Home
  • »
  • News
  • »
  • nation
  • »
  • फांसी के फैसले पर बोले निर्भया के माता पिता- हमारा संघर्ष खत्‍म, लड़ाई जारी रहेगी

फांसी के फैसले पर बोले निर्भया के माता पिता- हमारा संघर्ष खत्‍म, लड़ाई जारी रहेगी

'निर्भया' की मां आशा देवी चारों दोषियों को फांसी देने में हो रही देरी से काफी दुखी हैं (फाइल फोटो)

'निर्भया' की मां आशा देवी चारों दोषियों को फांसी देने में हो रही देरी से काफी दुखी हैं (फाइल फोटो)

Nirbhaya Gang Rape Case: निर्भया की मां आशा देवी ने मंगलवार को कहा कि दोषियों को फांसी दिए जाने से कानून में महिलाओं का विश्वास बहाल होगा. निर्भया मामले के चार दोषियों को 22 जनवरी की सुबह सात बजे फांसी दी जाएगी.

  • Share this:
    नई दिल्‍ली. दिल्ली में साल 2012 में हुए बहुचर्चित निर्भया गैंगरेप केस (Nirbhaya Gang Rape Case) में दिल्‍ली की पटियाला हाउस कोर्ट ने मंगलवार को चारों दोषियों का डेथ वॉरंट जारी किया. चारों दोषियों को 22 जनवरी की सुबह 7 बजे फांसी दी जाएगी. कोर्ट के फैसले के बाद निर्भया की मां आशा देवी ने कहा कि उनकी बेटी के दोषियों को फांसी दिए जाने से कानून में महिलाओं का विश्वास बहाल होगा.

    निर्भया की मां ने कहा- सुकून और तसल्‍ली मिली
    निर्भया की मां ने कहा कि फांसी की तारीख तय हो गई है. बहुत तसल्‍ली मिली. क्‍योंकि इस फैसले का केवल निर्भया के माता-पिता को ही नहीं. बल्कि पूरे देश को इंतजार था. दोषियों को जल्‍द ही फांसी होगी. निर्भया को इंसाफ मिलेगा. इस फैसले से पूरे देश में बहुत बड़ा संदेश जाएगा. उन्‍होंने कहा कि सात साल तक हमने संघर्ष किया, हमारे साथ लोगों ने संघर्ष किया. अब हमें उम्‍मीद है कि हमारे संघर्ष का मकसद पूरा होगा. हालांकि अन्‍य बच्चियों के लिए हमारी लड़ाई जारी रहेगी.

    'निर्भया को इंसाफ मिला'
    निर्भया की मां ने कहा, 'उनकी बेटी की आत्‍मा को सुकून मिलेगा. मुझे भी सुकून मिला. न्‍याय तो है देर से ही सही. हालांकि न्‍‍‍‍याय में इतनी देरी नहीं होनी चाहिए. समाज में गलत संदेश जाता है, अपराधियों में डर और खौफ खत्‍म हो जाता है. मैं यही चाहती हूं कि ऐसे जो भी केस हों उसमें जल्‍दी से ट्रायल हो जाए और जल्‍दी फैसला आ जाए. समय सीमा के तहत फैसला आ जाए.'

    निर्भया के पिता ने कहा- फैसले से खुश हूं
    निर्भया के पिता ने कहा, 'मैं कोर्ट के फैसले से खुश हूं. दोषियों को 22 जनवरी को सुबह 7 बजे फांसी दी जाएगी. इस फैसले से ऐसे अपराध को अंजाम देने वालों अपराधियों के मन में डर पैदा होगा.'

    हमें 16 दिसंबर को फांसी की उम्‍मीद थी
    निर्भया के पिता ने कहा कि कोर्ट का फैसला सुनकर खुशी हुई. लोग बधाई भी दे रहे हैं. हमें उम्‍मीद थी और लोगों का कहना था कि दोषियों को 16 दिसंबर की सुबह 5 बजे फांसी पर लटका दिया जाएगा. लेकिन अभी कुछ कानूनी प्रक्रिया बाकी है. सड़क से लेकर संसद तक न्‍याय की मांग करने वाले सभी लोग खुश हैं और फांसी पर लटकाए जाने के बाद और खुशी होगी.

    उन्‍होंने कहा कि पड़ोसी और रिश्‍तेदारों सभी ने हमारे परिवार को बहुत संभाला है. सभी लोग बहुत अच्‍छे निकले. हमारी बहन ने हमारे बच्‍चों को बहुत ज्‍यादा संभाला. हमारी पत्‍नी को संभाला. घटना के बाद हमारी हालत बहुत ज्‍यादा खराब हो गई थी.

    ये भी पढ़ें:- 

    Nirbhaya Case: तिहाड़ जेल के प्रवक्ता ने कहा- 22 जनवरी का कर रहे हैं इंतजार

    क्या हुआ निर्भया के पांचवे गुनहगार का, जो नाबालिग होने के कारण रिहा हो गया था

    निर्भया गैंगरेप के दोषियों को फांसी देने से पहले यह बड़ी बात बोला पवन जल्लाद

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज