• Home
  • »
  • News
  • »
  • nation
  • »
  • निर्भया गैंगरेप: दोषी विनय ने कहा-अगर हमें फांसी देने से रेप रुक जाये तो लटका दीजिए

निर्भया गैंगरेप: दोषी विनय ने कहा-अगर हमें फांसी देने से रेप रुक जाये तो लटका दीजिए

निर्भया कांड का दोषी विनय शर्मा. (फाइल फोटो)

निर्भया कांड का दोषी विनय शर्मा. (फाइल फोटो)

निर्भया गैंगरेप और हत्या (Nirbhaya Gangrape and murder case) के दोषी आखिरी सांस तक हर पैंतरा अपना रहे हैं. हालांकि 20 मार्च को प्रस्तावित फांसी की तैयारी तिहाड़ जेल में पूरी हो चुकी है.

  • Share this:
    नई दिल्ली. निर्भया गैंगरेप और हत्या (Nirbhaya Gangrape and murder case) के मामले में दोषी फांसी के एक दिन पहले तक हर पैंतरा अपनाने से बाज नहीं आ रहे हैं. दोषी फांसी की सजा रुकवाने के लिए फिर से अदालत पहुंच गये हैं. वह हर बार यह कह रहे हैं कि उन्हें फांसी देने से कुछ नहीं बदलने वाला. हिन्दी अखबार नवभारत टाइम्स की एक रिपोर्ट के अनुसार निर्भया के चार दोषियों में से एक विनय ने राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली स्थित तिहाड़ जेल के अधिकारी से कहा कि अगर उन्हें फांसी देने से रेप रुक जाएं तो उन्हें मौत की सजा दे दी जाए. बता दें

    रिपोर्ट के अनुसार विनय ने कहा- 'अगर हमें फांसी देने से देश में रेप रुक जाएंगे, तो बेशक हमें फांसी पर लटका दो, लेकिन यह बलात्कार रुकने वाले नहीं हैं.' रिपोर्ट के अनुसार अधिकारी ने यह भी बताया कि मुकेश को छोड़कर और किसी भी दोषी का चेहरा देख कर नहीं लग रहा है कि उन्हें 1 दिन बाद यानी 20 मार्च को फांसी होनी है.

    दोषी पवन गुप्ता की क्यूरेटिव पिटीशन पर आज सुनवाई
    इस बीच सुप्रीम कोर्ट निर्भया के दोषी पवन गुप्ता की क्यूरेटिव पिटीशन पर कल इन चैंबर सुनवाई करने को तैयार हो गया है. सुप्रीम कोर्ट में पवन की याचिका पर गुरुवार को सुबह 10.25 मिनट पर सुनवाई होगी. सर्वोच्च न्यायालय के छह जज इन चैंबर सुनवाई करेंगे.

    अक्षय के घर वाले अब तक मिलने नहीं आए
    बता दें चारों दोषियों अक्षय, पवन, विनय और मुकेश को 20 मार्च की सुबह फांसी दी जानी है. तिहाड़ जेल प्रशासन ने इसकी पूरी तैयारियां कर ली हैं. निर्भया के दोषियों को फांसी पर चढ़ाने के लिए मेरठ जेल से खास तौर पर पवन जल्लाद को तिहाड़ बुलाया गया, जिसके चलते वह मंगलवार शाम ही तिहाड़ पहुंच गए. यहां उन्होंने 20 तारीख को चारों दोषियों को दी जाने वाली फांसी से पहले 18 मार्च की सुबह डमी फांसी दी. तिहाड़ जेल अधिकारी ने न्यूज़ एजेंसी एनआई को यह जानकारी दी.

    अखबार की रिपोर्ट के अनुसार अब तक चारों दोषियों में से अक्षय के परिजनों ने उससे मुलाकात नहीं की है. अगर गुरुवार यानी आज अक्षय के परिजन मुलाकात करने आते हैं तो उन्हें मिलने दिया जाएगा. इसके साथ ही गुरुवार दोपहर 12 बजे तक ही किसी नई अदालती कार्रवाई पर गौर किया जाएगा. मुकेश, विनय के परिजनों ने उससे मुलाकात कर ली है.

    यह भी पढ़ें: निर्भया मामला: दिल्ली हाईकोर्ट का बड़ा फैसला, मुकेश की याचिका हुई खारिज

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन